The news is by your side.

अयोध्या पहुंचे प्रधानमंत्री के काफिले के वाहन और एनसजी कमांडो

-दिनभर सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लेते रहे छह एडीजी


अयोध्या। रामनगरी मे 30 दिसम्बर को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के आगमन के पहले उनके कफिले के वाहन और एनएसजी कमांडो अयोध्या पहुंच गये है। एसपीजी ने पहले से ही जिले में डेरा डाल रखा है। तैयारियों की समीक्षा और स्थलीय जायजा लेने गुरुवार को आ रहे सीएम योगी ने कोहरे के कारण न आ पाने के चलते वीडियो कांफ्रेंसिंग कर समीक्षा की ।इसके बाद हवाई अड्डे पर ब्रीफिंग हुई है। प्रधानमंत्री मोदी को हवाई अड्डे पर उतरने के बाद लखनऊ-गोरखपुर हाईवे से रामनगरी के धर्मपथ होते हुए रामपथ पर टेढ़ी बाजार के रास्ते अयोध्या धाम जंक्शन के नए स्टेशन भवन तक जाना है। इसके बाद पीएम मोदी को हवाई अड्डे के पास विशाल जनसभा को संबोधित करना है।

Advertisements

लगभग 15 किमी. दायरे में फैले पीएम मोदी के कार्यक्रम की सुरक्षा को लेकर पुलिस-प्रशासन की ओर से मजिस्ट्रेटों के साथ एटीएस, एसटीएफ, स्वाट कमांडों और पैरामिलिट्री फ़ोर्स तथा ख़ुफ़िया व सुरक्षा एजेंसियों की ड्यूटी लगाई है। सुरक्षा के लिए छह कंपनी सीआरपीएफ,14 कंपनी पीएसी और 3 पुलिस उपमहानिरीक्षक, 17 पुलिस अधीक्षक, 38 अपर पुलिस अधीक्षक,82 डिप्टी एसपी ,90 निरीक्षक,325उपनिरीक्षक,35 महिला उपनिरीक्षक,2000 आरक्षी को तैनात किया है। सीओ लाइन आशीष निगम ने बताया कि ड्यूटी में लगाए गए लगभग 80 फीसदी अधिकारी-जवान पहुँच गए हैं। सभी को ड्यूटी आवंटित कर संबंधित स्थलों पर तैनात किया गया है।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के कार्यक्रम को लेकर छह एडीजी गुरुवार को दिनभर हवाई अड्डे से लेकर उनके गुरजने के विभिन्न मार्गों व अयोध्या धाम जंक्शन रेलवे स्टेशन और विशाल जनसभा स्थल आदि का घूम-घूम कर जायजा लेते रहे। एडीजी ज़ोन पीयूष मोर्डिया ने जनपद में डेरा डाल रखा है जबकि कार्यक्रम की तैयारियों का जायजा लेने के लिए सुबह लखनऊ से आतंकवाद निरोधी सेल के एडीजी मोहित अग्रवाल, एसटीएफ के एडीजी अमिताभ यश व एडीजी सुरक्षा रघुवीर लाल,एडीजी अग्निशमन एवं आपदा राहत अविनाश चंद्र रामनगरी पहुंचे । अपने-अपने विभाग व व्यवस्था से जुडी तैयारियों को जांचा-परखा तथा विभिन्न स्थलों का निरीक्षण कर मातहतों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। वहीं रेलवे के एडीजी जय नरायन सिंह गुरुवार को फिर जनपद पहुंचे तथा कार्यक्रम को लेकर रेलवे पुलिस की तैयारियों की एक बार फिर से समीक्षा की।

इसे भी पढ़े  युवाओं को भाजपा सरकार ने दिया धोखा : अखिलेश यादव

22 जनवरी को दोपहर 12 बजे होगी रामलला की प्राण-प्रतिष्ठा- चंपत राय


अयोध्या। आगमी 22 जनवरी 2024 को दोपहर 12 बजे रामलला की प्राण-प्रतिष्ठा होगी। समारोह को लेकर यज्ञशाला तैयार हो चुकी है। 16 जनवरी से पूजन विधि शुरू हो जाएगी। यह जानकारी श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय ने गुरुवार शाम मंदिर निर्माण समिति की पहले दिन की बैठक के समाप्त होने के बाद कही। उन्होंने बताया कि सभी तैयारियां पूरी हो गई है। गर्भगृह तैयार हो चुका है। मंदिर के भूतल में फ्लोरिंग का चल रहा है। इसी के साथ मंदिर के प्रथम तल का काम शुरू हो चुका है।

उन्होंने बताया कि 10-15 दिनों दूसरे तल का भी काम शुरू हो सकता है। यात्री सुविधा केंद्र ये भी वर्किंग में आ जाएगा। उन्होंने मंदिर के अंदर वॉटर ट्रीटमेंट प्लांट, सीवर ट्रीटमेंट प्लांट सहित अनेक प्रकार के काम एक साथ चल रहे हैं। मंदिर के अंदर 24 घंटे काम चल रहा है। लोग आसपास के मंदिरों भजन, कीर्तन व प्रसाद वितरण के साथ शाम को दीप प्रज्ज्वलन व आरती करें।

उन्होंने कहा कि अयोध्या में आने वाले सभी श्रद्धालुओं को भोजन, पानी, चाय सहित जरूरी सुविधाएं उपलब्ध होंगी। अयोध्या में हर तरफ भोजन की सुविधा रहेगी। उन्होंने कहा कि लोग स्वच्छता का ध्यान रखे, आसपास गंदगी न होने दें। उन्होंने नगर की सुंदरता व स्वच्छता बनाए रखना हम सबकी जिम्मेदारी, लोग भी इसमें सहयोग करें। बैठक के बारे में जानकारी देते हुए उन्होंने कहा कि प्राण-प्रतिष्ठा महोत्सव की तैयारियों के बीच गुरुवार को हुई पहले दिन की बैठक में राम मंदिर निर्माण, यात्री सुविधा केंद्र सहित अन्य बिंदुओं पर गहनता से गहन मंथन किया गया।

Advertisements

Comments are closed.