The news is by your side.

प्राण प्रतिष्ठा महोत्सव को राममय बनाने की तैयारी

-पांच लाख गांव में पहुंचेगी शौर्य यात्रा

अयोध्या। श्रीराम जन्मभूमि पर बन रहे भव्य राम मन्दिर में रामलला के प्राण प्रतिष्ठा महोत्सव पर देश का वातावरण सकारात्मक और राममय बनाते हुए,देश को सात्विक, सांस्कृतिक और धार्मिकता से ओतप्रोत कैसे किया जाए,इस पर विश्व हिंदू परिषद और श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट गंभीर चिंतन कर रहा है। प्राण प्रतिष्ठा से पहले देश भर में बजरंग दल के कार्यकर्ता शौर्य यात्रा निकालेंगे।

Advertisements

वहीं विहिप प्राण प्रतिष्ठा के दिन घर-घर दीप जलाने की मुहिम को लेकर पांच लाख गांव में अभियान चलाएगी। रविवार को विश्व हिंदू परिषद की राष्ट्रीय कार्यकारिणी और श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के सदस्यों के साथ दो दिवसीय बैठक शुरू हुई। इसमें देशभर में होने वाले आयोजनों की रूपरेखा पर चर्चा हुई। बैठक के बाद सभी सदस्यों ने रामजन्मभूमि परिसर में चल रहे मंदिर निर्माण कार्य को भी देखा। विश्व हिंदू परिषद के अंतर्राष्ट्रीय कार्याध्यक्ष आलोक कुमार ने कहा कि श्रीराम जन्मभूमि प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम को संपूर्ण विश्व में आनंदोत्सव के रुप में मनाएगी।

प्राण प्रतिष्ठा से पूर्व बजरंग दल 30 सितंबर से 15 अक्टूबर तक पांच लाख से अधिक गांवों में शौर्य यात्रा निकालेगा। उन्होंने बताया कि देश भर के मठ-मंदिरों में प्राण प्रतिष्ठा की उस तिथि को हवन- पूजन व आरती होगी। साथ ही हर घर रामभक्त रात्रि में पांच दीपक जलाएंगे और करोड़ों भक्तों के बीच प्रसाद वितरण भी होगा। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के पूर्व सरकार्यवाह भैया जी जोशी ने बताया कि आज पूरे देश में लोगों में उत्साह है। उनमें उत्सुकता है कि कब तक प्राण प्रतिष्ठा होगी। मेरा विश्वास है यहां लाखों लोग दर्शन करने आएंगे। कहा कि बड़ी संख्या में विदेशी भी राम भक्त हैं। मुझे पूरा विश्वास है कि प्राण प्रतिष्ठा के मौके पर वो भी बड़ी संख्या में अयोध्या आएंगे।

इसे भी पढ़े  डिजिटल भुगतान में भारत अग्रणी देशों में प्रथम : विनीत कुमार

वहीं श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के सदस्य कामेश्वर चौपाल ने कहा कि प्राण प्रतिष्ठा को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तरफ से की तिथि की अभी कोई पुष्टि नहीं हुई है। हम लोगों ने 15 से 24 जनवरी के बीच होने वाले महोत्सव की जानकारी दी है। उन्होंने कहा कि महंतों व विद्वानों के अनुसार 22 जनवरी को प्राण प्रतिष्ठा का बहुत अच्छा मुहूर्त है। अभिजीत मुहूर्त में रामलला उसी दिन विराजमान होने चाहिए। इसलिए प्रधानमंत्री से यह आग्रह किया जा रहा है कि यदि इस दिन प्राण प्रतिष्ठा होगी तो बहुत अच्छा रहेगा।

Advertisements

Comments are closed.