सेना भर्ती के दो जालसाजों को पुलिस ने किया गिरफ्तार

0

सफारी गाड़ी, सेना की वर्दी, फर्जी आई कार्ड व सेना के दस्तावेज बरामद

फैजाबाद। मिलेट्री इन्टेलीजेन्स की सटीक सूचना पर सर्विलांस सेल व कैंट थाना पुलिस की संयुक्त टीम ने प्रधान डाकघर के निकट से सेना में भर्ती के नाम पर जालसाजी करने वाले दो लोगों को गिरफ्तार किया। गिरफ्तार किये गये अभियुक्तों के पास से एक सफारी गाड़ी, सेना की वर्दी, फर्जी आई कार्ड और सेना के विभिन्न दस्तावेज बरामद किये गये हैं। यह जानकारी पुलिस अधीक्षक नगर अनिल सिंह सिसोदिया ने कैंट थाना में आयोजित पत्रकार वार्ता में दी।
उन्होंने बताया कि मिलेट्री इन्टेलीजेंस यूनिट ने पुलिस को सूचना दिया कि 26 सितम्बर से डोगरा रेजीमेंट में शुरू होने वाली सैनिकों की भर्ती में अभ्यर्थियों को बरगला कर उनसे वसूली करने वाला एक गिरोह फैजाबाद पहुंच चुका है। मिलेट्री इन्टेलीजेंस की सटीक जानकारी पर प्रधान डाकघर के निकट संजय पुत्र जय प्रकाश निवासी तिसौली पोस्ट जमुनिया थाना फुटहन जनपद जौनपुर और रविशंकर यादव पुत्र जमुना प्रसाद यादव निवासी मानापारा थाना गोसाईगंज जनपद फैजाबाद को गिरफ्तार कर लिया गया। इन दोनों के पास से सफारी गाडी संख्या यूपी 32 सीएच 4887 बरामद हुई। वाहन के अन्दर जब तालाशी ली गयी तो उसमे डोगरा रेजीमेंट सेना की वर्दी, सेना का फर्जी आईकार्ड, बैच, मोहर व तमाम फर्जी दस्तावेज बरामद किये गये। अभियुक्त संजय कुमार ने पूंछताछ के दौरान बताया कि वह उत्तर प्रदेश के विभिन्न जनपदों में जाकर वहां की छावनी का भ्रमण कर पूरी जानकारी कर फर्जी दस्तावेज और मुहर आदि बनवाकर युवकों से दोस्ती बढ़ता है और उनके परिवारवालों को विश्वास में लेकर आर्मी में भर्ती के नाम पर लाखों रूपये की धन उगाही करता था। धन उगाही के बाद वह अपना मोबाइल व नम्बर बदल देता था। चूंकि फैजाबाद में 26 सितम्बर से सेना की भर्ती शुरू हो रही थी इसलिए वह अपने साथी रविशंकर यादव के साथ डेरा डाले हुए था। रविशंकर यादव सफारी वाहन से अभियुक्त संजय को विभिन्न स्थानों पर ले जाकर उसका सहयोग करता था।
कैंट थाना में अभियुक्त संजय के विरूद्ध मु.अ.सं. 342/18 आईपीसी की धारा 419, 420, 467, 468, 471, 440 और रविशंकर यादव के विरूद्ध मु.अ.सं. 385/17 आईपीसी की धारा 379, 411, 413 व मु.अ.सं. 442/18 आईपीसी की धारा 419, 420, 476, 468, 471, 140 गोसाईगंज व कैंट थाना में मुकदमा दर्ज है। इन दोनों अभियुक्तों के विरूद्ध कैंट थाना में मु.अ.सं. 342/18 आईपीसी की धारा 419, 420, 476, 468, 471, 140 के तहत मुकदमा पंजीकृत किया जा चुका है।
जालसाजों को गिरफ्तार करने वाली टीम ने सर्विलांस सेल प्रभारी उप निरीक्षक अभिषेक सिंह, उप निरीक्षक अमित सिंह, आरक्षी चन्द्रभान यादव व नीरज सिंह तथा कैंट थाना के उप निरीक्षक पारसनाथ यादव व उप निरीक्षक शशि प्रकाश वर्मा शामिल थे। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने जालसाजों को गिरफ्तार करने वाले पुलिस दल को नकद पुरस्कार देने की घोषणा किया है।

इसे भी पढ़े  33 वैकल्पिक स्थानो पर दुर्गा प्रतिमा स्थापना की मांगी अनुमति

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

%d bloggers like this: