The news is by your side.

पुलिस मुठभेड़ में पांच हत्याओं का आरोपी गिफ्तार

-कुचेरा बाजार के पीछे जंगल में हुई मुठभेड़

मिल्कीपुर। इनायत नगर थाना क्षेत्र के बरिया निसारू गांव में अपने सगे मामा मामी उनके तीन मासूम बच्चों को धारदार हथियार से वार कर मौत के घाट उतारने वाले 25 हजार के इनामी आरोपी भांजे को जिले की पुलिस ने घटना के मात्र 15 घंटे में मुठभेड़ के दौरान गिरफ्तार कर लिया है। हालांकि पुलिस ने मुठभेड़ में लगी गोली से घायल हत्यारोपी युवक को गंभीर हालत में इलाज के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया है। हालांकि मुठभेड़ में इनायत नगर थाने का एक सिपाही भी गोली लगने से घायल हो गया है।
बरिया निसारू गांव में नानी की संपत्ति में हिस्सेदारी को लेकर चल रहे विवाद के बीच भांजे पवन कुमार ने अपने सगे मामा राकेश कुमार एवं मामी ज्योति तथा मामा तथा उनके एक बेटी और दो बेटों की धारदार हथियार से वार करते शनिवार की देर रात नृशंस हत्या कर दी थी और मौके से फरार हो गया था। जिसकी गिरफ्तारी के लिए एसएसपी शैलेश पांडे ने पांच टीमें गठित की थी। जिले की एसओजी टीम सहित कुमारगंज एवं इनायत नगर थाने की पुलिस को हत्यारोपी इनामी अपराधी पवन कुमार के कुचेरा बाजार के पीछे स्थित जंगल में मौजूद होने की जानकारी रविवार को अपराह्न करीब 3 बजे मिली। सूचना मिलते ही थानाध्यक्ष कुमारगंज संतोष सिंह अपने थाने के उपनिरीक्षक अभिषेक सिंह एवं हेड कांस्टेबल उदय राज यादव सहित अन्य पुलिस कर्मियों के साथ जंगल पहुंच गए उधर इनायत नगर थाने के प्रभारी निरीक्षक राहुल कुमार भी थाने की पुलिस टीम एवं एसओजी प्रभारी भी अपनी पुलिस टीम के साथ जंगल पहुंचे मौके पर पहुंचे पुलिस कर्मियों ने चारों तरफ से जंगल को घेर लिया। इतने में जंगल में छिपे शातिर अपराधी पवन कुमार ने पुलिस टीम पर फायरिंग शुरू कर दी। पुलिस के जवानों ने जाबाजी दिखाते हुए लगभग 10 मिनट तक ताबड़तोड़ फायरिंग की। मुठभेड़ के दौरान अपराधी पवन कुमार के दोनों पैर में पुलिस की गोली जा लगी जिससे वह गंभीर रूप से घायल होकर जमीन पर गिर पड़ा। उधर अपराधी युवक की ओर से की गई फायरिंग में इनायत नगर थाने में तैनात सिपाही राज बहादुर यादव के पैर में भी गोली लग गई। जिससे वह घायल हो गया। मौके पर मौजूद पुलिस टीम ने इनामी शातिर अपराधी को गिरफ्तार करते हुए गंभीर हालत में इलाज के लिए उसे आनन-फानन में जिला अस्पताल पहुंचाया। जहां उसका इलाज चल रहा है। मौके पर मौजूद पुलिस फोर्स विधिक कार्यवाही पूर्ण करने में लगी हुई है। हालांकि अभी गिरफ्तार किए गए इनामी शातिर अपराधी पवन कुमार को थाने में दर्ज हत्या के मुकदमे में जेल नहीं भेजा जा सका है।

Advertisements
Advertisements

Comments are closed.