in ,

कृषि क्षेत्र में ग्लोबल पावर हाउस की तरह कार्य कर रहा भारत : जे.एस. संधू

दो दिवसीय सेमिनार का हुआ समापन

मिल्कीपुर। नरेंद्र देव कृषि विश्वविद्यालय कुमारगंज अयोध्या के पशुपालन विभाग द्वारा “ग्रामीण पोषण विकास के लिए आधुनिक उपकरणों एवं तकनीकी द्वारा उत्पादकता में वृद्धि“ विषय पर दो दिवसीय सेमिनार का आयोजन किया गया 19 से 20 फरवरी को चले इस सेमिनार में देश के विभिन्न कृषि विश्वविद्यालयों से कृषि वैज्ञानिकों ने प्रतिभाग किया सेमिनार के समापन पर बोलते हुए कृषि विश्वविद्यालय के कुलपति डॉक्टर जे एस जिन्होंने बताया भारत एक विकासशील देश है जो कृषि क्षेत्र में ग्लोबल पावर हाउस की तरह कार्य कर रहा है भारत में दुग्ध उत्पादन, दाल और मसालों विश्व में नंबर एक पर है जबकि गेहूं चावल काटन गन्ना मछली भेड़ एवं बकरी मांस एवं सब्जियों तथा चाय के क्षेत्र में हम विश्व में नंबर दो पर है आज भारत न केवल अपने 1.3 बिलियन देशवासियों के भोजन एवं पोषण के पूर्ति कर रहा है बल्कि उन्हें रोजगार और उनके विभिन्न आवश्यकताओं की पूर्ति करा रहा है । कृषि क्षेत्र का मुख्य कार्य गरीबी दूर करना तथा देश की इकोनॉमी को सुदृढ़ता प्रदान करना है। सेमिनार को 7 प्रसिद्ध कृषि एवं पशु वैज्ञानिको द्वारा संबोधित किया गया जिसमें करनाल से डॉ सोहन वीर सिंह, डॉ अनुराहल केंद्रीय बकरी अनुसंधान केंद्र करनाल, डॉ अमित सिंह, डॉ एसके मोरिया, डॉ एस पी सिंह, डॉ सुशांत श्रीवास्तव आदि प्रमुख प्रमुख रहे। सेमिनार में सात विभिन्न विषयों पर मौखिक एवं पोस्टर से सन का आयोजन किया गया इसमें वैज्ञानिकों तथा शोध छात्राओं ने बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया बेस्ट पोस्टर एवम मौखिक व्याख्यान देने वाले प्रतिभागी को विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ जे एस संधू द्वारा स्मृति चिन्ह एवं प्रमाण पत्र प्रदान किया गया। सेमिनार के समापन अवसर पर डॉ वीके सिंह अधिष्ठाता पशुपालन डॉ पीके सिंह अधिष्ठाता कृषि विश्वविद्यालय डॉ गंगवार कुल सचिव कृषि विश्वविद्यालय डॉ ए पी राव निदेशक प्रसार सहित अनेक कृषि वैज्ञानिक शोध। छात्र एवं छात्राएं उपस्थित रहे।

What do you think?

Written by Next Khabar Team

पुलवामा शहीदों की याद में युवाओं ने किया रक्तदान

शिकायतकर्ता को संतुष्ट करे अधिकारी : अनुज कुमार झा