दो दिवसीय प्रशिक्षण का हुआ समापन

    Advertisement

     

    फैजाबाद। नरेन्द्र देव कृषि एवं प्रौद्योगिक विश्वविद्यालय, कुमारगंज में बिल एण्ड मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन द्वारा संचालित दि संेट्रल सिस्टम इनीशिएटिव फाॅर साउथ एशिया परियोजना के तहत आयोजित दो दिवसीय प्रशिक्षण का समापन विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो0 जे0एस0 सन्धू ने प्रशिक्षणार्थी वैज्ञानिकों को प्रमाण पत्र वितरित कर किया। इस अवसर पर कुलपति प्रो0 सन्धू ने राश्ट्रीय एवं अन्तराश्ट्रीय स्तर की संस्थाओं के सहयोग से विश्वविद्यालय में परियोजनाओं का संचालन एक महत्वपूर्ण प्रक्रिया है। उन्होने कहा कि ऐसी परियोजनाओं से विश्वविद्यालय भविष्य में बेहतर परिणाम दे पाने में सक्षम हो पायेगा। कुलपति ने इस महत्वाकांक्षी परियोजना में षामिल किये गये विश्वविद्यालय के 06 कृशि विज्ञान केन्द्रों के वैज्ञानिकों को निर्देश दिया कि वे परियोजना के मुख्य उद्देश्यों व किसानों के खेत से फसल व कृशि आंकड़ें एकत्र कर अपने जनपदों मंे किसानों की आय में बढ़ोत्तरी के प्रयास को प्रत्येक दषा में सुनिश्चित करें। उन्होने पूर्वी उत्तर प्रदेश के कृषि एवं ग्रामीण विकास की दृश्टि से इस परियोजना के क्रियान्वयन को महत्वपूर्ण बताया। ज्ञात हो परियोजना के अन्तर्गत विश्वविद्यालय के गोरखपुर, महाराजगंज, सिद्धार्थनगर, मऊ, चन्दौली व बलिया जनपदों में स्थित कृषि विज्ञान केन्द्रों को सम्मिलित किया गया है। परियोजना के अन्र्तगत कृशि आंकड़ों का खेत से सीधे संकलन जी0पी0एस0 के साथ किया जायेगा। प्रशिक्षण कार्यक्रम के समापन अवसर पर विश्वविद्यालय के निदेषक प्रसार डा0 ए0पी0 राव ने कुलपति का स्वागत करते हुए आश्वस्त किया कि परियोजना में विश्वविद्यालय के शामिल किये गये कृषि विज्ञान केन्द्रों कार्य निर्वहन में खरे उतरेंगें। इस अवसर पर दक्षिण एशिया में चल रही परियोजना के राष्ट्रीय समन्वयक डा0 आर0के0 मलिक ने कुलपति को परियोजना के संदर्भ में अवगत कराया। समापन अवसर पर विश्वविद्यालय के वरिश्ठ अधिकारियों समेत प्रसार निदेशालय के वैज्ञानिक डा0 आर0ए0 सिंह, डा0 आर0आर0 सिंह, डा0 के0के0 वर्मा समेत विश्वविद्यालय एवं अन्य कृषि विज्ञान केन्द्रों के वैज्ञानिक व कार्यक्रम समन्वयक उपस्थित रहे।

    इसे भी पढ़े  फर्जी गाड़ी चोरी का मुकदमा दर्ज करवाना पड़ा महंगा