The news is by your side.

सांसद लल्लू सिंह ने पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री से की मुलाकात

भरतकुंड के विकास के लिए वित्तीय स्वीकृति कराने की मांग

अयोध्या। सांसद लल्लू सिंह ने नई दिल्ली में पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री जी किंशन रेड्डी से मुलाकात की। इस दौरान उन्होने भरतकुंड के विकास के लिए उत्तर प्रदेश पयर्टन विभाग द्वारा पयर्टन विभाग द्वारा भेजे गये प्रस्ताव की प्रशासनिक एवं वित्तीय स्वीकृति कराने की मांग की। उत्तर प्रदेश पयर्टन विभाग द्वारा भारत सरकार की प्रसाद स्कीम में 72.74 करोड़ का प्रस्ताव पयर्टन विभाग को भेजा गया है।

Advertisements

सांसद लल्लू सिंह ने बताया कि अयोध्या से लगभग 18 किमी दूर प्रयागराज मार्ग पर नंदीग्राम स्थित है। यही पर भरतकुंड है। भरतकुंड त्याग व तपस्या की भूमि है। सनातन परम्परा में रमण करने वाले अभ्यासियों को यहां की मार्टी आकर्षित करती है। योगीराज भरत की तपस्थली पर भरत गुफा विराजमान है। भरतकुंड के दक्षिणी तट पर गया कुण्ड है। मान्यता है कि भगवान राम ने यहां पर गया तीर्थ का आवाहन किया था। अयोध्या क्षेत्र के लोग गया की यात्रा यहीं से प्रारम्भ करते है।

उन्होने बताया कि भरतकुड का विकास होने से पयर्टन की सम्भावनाओं को सम्बल मिलेगा। पौराणिक दृष्टि से महत्वपूर्ण यह स्थल आस्था का केन्द्र है। श्रद्धालुओं की भीड़ आने से रोजगार सृजन भी होगा। केन्द्र व प्रदेश सरकार अयोध्या के विकास के लिए कटिबद्ध है। इसके लिए यहां योजनाओं की श्रंखलाएं प्रदान की जा रही है।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के निर्देश पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अयोध्या में विश्व स्तर की पयर्टन सुविधाएं विकसित करने के लिए प्रयासरत है। संतो व श्रद्धालुओं की अपेक्षा के अनुरुप अयोध्या का विकास किया जा रहा है।

Advertisements

Comments are closed.