संदिग्ध अवस्था में जली युवती की लखनऊ ट्रामा सेंटर में इलाज के दौरान मौत

    दो परिवारों के विवाद में हुई थी घटना

    Advertisement

    अयोध्या-फैजाबाद। अयोध्या कोतवाली क्षेत्र के दरगाह बगिया गाँव में शनिवार को दो परिवारो में विवाद के बाद 18 वर्षीय युवती मुन्नी उर्फ सुनैना ने अपने ऊपर मिट्टी का तेल डाल कर आग लगा ली। मौके पर पहुची पुलिस ने तत्काल युवती को अयोध्या के श्रीराम अस्पताल में भर्ती कराया जहाँ उपचार के बाद उसे पहले जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया। वहीं जिला अस्पताल में भी हालत गम्भीर होने पर उसे लखनऊ ट्रामा सेंटर रिफर कर दिया गया जहां इलाज के दौरान रविवार को युवती की मौत हो गयी।
    जानकारी के अनुसार मुन्नी उर्फ सुनैना पुत्री जगदेव यादव अपने दो बहनों के साथ पड़ोस में रह रहे रूबी पुत्री ह्रदय राम से विवाद हुआ और सभी के बीच हाथापाई भी हुई विवाद को बढ़ता देख गाँव के लोगो ने पुलिस को बुला लिया और मौके पर पहुची पुलिस दोनों पक्षों को थाने चलने को कहा तभी मुन्नी के जलने की सुचना मिलते ही आनन फानन में पुलिस ने युवती को अयोध्या के श्रीराम अस्पताल पहुचाया जहाँ उपचार के बाद उसे जिला अस्पताल रेफर कर दिया लेकिन युवती के अत्यधिक जल जाने के कारण उसकी स्थिति काफी नाजुक देखते हुए लखनऊ ट्रामा सेंटर रेफर कर दिया गया जहाँ इलाज के दौरान रविवार को मौत हो गयी।
    अयोध्या कोतवाली निरीक्षक विनोद बाबू मिश्र ने बताया कि गाँव में किशोरी ने काफी पहले गांव के ही कुछ युवकों पर छेड़छाड़ का मुकदमा पंजीकृत कराया था। बताया गया कि पुनः युवकों की ओर से किशोरी व उसके परिजनों के विरुद्ध भी मुकदमा दर्ज कराया। इसी प्रकरण में दोनों पक्षों ने एक दूसरे के खिलाफ कई मुकदमे दर्ज कराए हैं। इन्हीं सभी विवादों को लेकर दोनों पक्ष के महिलाओं के बीच विवाद हुआ। गाँव वालो की जानकारी के मुताबित युवती ने अपने ऊपर मिट्टीका तेल डाल कर पहले माचिस लेने सडक पर गई फिर घर के सामने पहुच ने अपने आप को आग लगा लिया। फिरहाल घटना के सम्बंध में परिजनों द्वारा कोई लिखित शिकायत दर्ज नहीं करायी गयी है परन्तु मामला दर्ज होते ही इस मामले की जाँच कराकर कार्यवाही की जायेगी।