The news is by your side.

राम जी की कृपा से आई हूं अयोध्या : दीपिका चिखलिया

-अभिनेत्री दीपिका ने मिल्कीपुर के किनौली में किया पौधरोपण


मिल्कीपुर। रामानंद सागर के रामायण सीरियल में सीता का किरदार निभाने वाली अभिनेत्री दीपिका चिखलिया मिल्कीपुर तहसील के 84 कोसी परिक्रमा मार्ग के बगल स्थित किनौली गांव निवासी पूर्व सैनिक एवं सोशल वर्कर राधेश्याम तिवारी के घर पहुंची। उन्होंने सबसे पहले पूजा अर्चना की, जिसके पश्चात वृक्षारोपण भी किया। ग्रामीणों को जब जानकारी मिली कि रामायण सीरियल में सीता का रोल अदा करने वाली दीपिका गांव पहुंच रही हैं तो लोग उनके स्वागत में गलियों में खड़े होकर इंतजार करते रहे।

Advertisements

इतना ही नहीं महिलाएं अपने छतों पर चढ़कर भी रामायण सीरियल के सीता की एक झलक पाने को उत्सुक रही। उन्होंने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि अयोध्या की धरती पर आकर मुझे बहुत ज्यादा इसलिए प्रसन्नता हो रही है, क्योंकि राम जी ने मुझे एक कार्य के लिए भेजा है। मेरी सीरियल है धरती पुत्र नंदिनी। जिसकी शूटिंग के लिए मैं यहां आई हूं। मेरा खुद का प्रोडक्शन है। डीसीटी मूवीज अगस्त में लांच हो रही है। नजारा टेलीविजन पर और मैं चाहती हूं कि आप सब लोग उसको देखें फ्री डिस्क है। इतना ही नहीं उन्होंने यह भी कहा कि मेरी जिंदगी की नई शुरुआत है और इसमें अयोध्या नगरी एवं राम जी कृपा है।

आप सब लोग इसमें शामिल हों, और मैं यह चाहती हूं सपोर्ट भी करें। जब उनसे पूछा गया कि रामायण की सीरियल का वह प्रसंग बताइए जिसमें सीता मां ने अशोक वाटिका में रावण के प्रताड़ना के समय रावण को तिनके समान कहा था, इस पर उन्होंने कहा कि जब सीता बाल अवस्था में थी तो उनकी भोजन में एक तिनका पड़ा था, जब उनकी नजर उस तिनका पर पड़ी तो वह तिनका भस्म हो गया था। तभी से उनके पिता महाराजा जनक ने उनको कहा था कभी क्रोध मत करना ।

इसे भी पढ़े  अयोध्या में पहली बार 4डी मंदिर से “लक्ष्मी-नारायण“ के दर्शन का अवसर

इसीलिए अशोक वाटिका में रावण को मां सीता ने तिनके के समान कहा था कि यदि उनकी नजर उन पर पड़ती तो रावण भस्म हो जाता। क्योंकि वह मां भगवती का स्वरूप थी, लड़ सकती थी, लेकिन उन्होंने मर्यादा में रहकर अपने पति प्रभु के लिए वहीं पर इंतजार किया जब तक उनके पति नहीं आए। उन्होंने बताया कि हमारी इस सीरियल में अयोध्या के लोग भी अलग-अलग किरदार कर रहे हैं। इस मौके पर बड़ी संख्या में पुलिस फोर्स व ग्रामीण मौजूद रहे।

 

Advertisements

Comments are closed.