शौक और नया कुछ करने की चाहत ने बनाया मिस्टर यूपी

    मिस्टर इंडिया में प्रदेश का प्रतिनिधित्व करते हुये आकिब खान प्राप्त किया पांचवा स्थान

    Advertisement

    फैजाबाद। कुछ नया करने की चाहत, शौक एवं नये भविष्य की उम्मीद लिए मिस्टर इंडिया 2018 में मिस्टर यूपी का खिताब जीतने वाले आकिब खान का मानना है कि हार कर ही कुछ सीखा और जीता जा सकता है। पत्रकारो से रूबरू मिस्टर यूपी श्री खान ने मिस्टर इंडिया में अपने सफरनामे का जिक्र करते हुये कहा कि ऐसी प्रतियोगिताएं युवाओं को नये भविष्य की तरफ ले जाती है जहां नाम है शोहरत है और पैसा है कुछ नये करने का जज्बा हो तो सफलता मिलना सुनिश्चित है। श्री खान ने बताया कि मिस्टर इंडिया 2018 के लिए उनका आडिशन व साक्षात्कार वाराणसी में हुआ था। डेलीवुड के विनोद अलहावत द्वारा मिस्टर एण्ड मिशेज इंडिया 2018 में पूरे देश से 208 प्रतिभागियों ने दिल्ली में 15 से 19 जुलाई तक 5 पायदानो से गुजरे। राज्यवार प्रथम तीन स्थानों के लिए प्रतिभागियों का चुनाव हुआ, जिसमें उन्हें मिस्टर यूपी का विजेता घोषित किया गया। इसके लिए उन्हें फोटोशूट, टेलेंट राउंड, इंट्रोडक्शन राउंड एवं रैम्पवाक से गुजरना पड़ा, इसके बाद मिस्टर यूपी का चयन हुआ। यही प्रक्रिया मिस्टर इंडिया के लिए भी दोहरायी गयी। पूरे देश से आये 208 प्रतिभागियों ने उन्हें पांचवा स्थान मिला है। बीटेक की डिग्री हासिल करने के बाद नगर के वजीरगंज में कोर फिटनेस जिम चलाने वाले आकिब खान अपनी सफलता का श्रेय अपने माता जैसमीन खान व पिता मोहम्मद नजीम खान को देते है और उनका मानना है कि ऐसी फैशन शो के माध्यम से फिल्मों व माडलिंग के क्षेत्र में जाने का अच्छा अवसर मिलता है।