जनपद को खुले में शौच से मुक्त कराये जाने हेतु ग्राम प्रधानों की हुई कार्यशाला

    वर्षा जल का संरक्षण करना जरूरी: डा. अनिल कुमार

    Advertisement

    फैजाबाद। स्वच्छ भारत मिशन (ग्रामीण) के अन्तर्गत जनपद को खुले में शौच से मुक्त कराये जाने हेतु का0सु0 साकेत स्नाकोत्तर महाविद्यालय अयोध्या के प्रेक्षागृह में जनपद के समस्त ग्राम प्रधानो की एक दिवसीय उन्मुखीकरण कार्यशाला का शुभारम्भ जिलाधिकारी डा0 अनिल कुमार व मुख्य विकास अधिकारी अक्षय त्रिपाठी ने किया।
    जिलाधिकारी डा0 अनिल कुंमार ने प्रधानो को सम्बोधित करते हुये कहा कि पूर्ण रूप से स्वच्छता का ध्येय केवल शौचालय तक ही नही है बल्कि स्वच्छता के लिए हमें नालियों की सफाई, तालाबो की सफाई तथा रास्तो, गलियों व सार्वजनिक स्थलो को भी स्वच्छ करना होगा। 2 अक्टूबर 2018 तक पूरे प्रदेश को खुले में शौच मुक्त करना है। जिसमें आज तक हम 70 प्रतिशत कार्य कर चुके है जिसमें सबसे बड़ा योगदान आप प्रधान बन्धुओं का है। आवश्यकता है कि हम संकल्प लें कि 21 अगस्त तक ही हम जनपद को खुले में शौच मुक्त करा लें। उन्होने बताया कि  22 जुलाई से 31 जुलाई तक जनपद के सम्पूर्ण ग्रामीण क्षेत्र के सभी ग्राम पंचायतो में टीम बनाकर वृद्धा पेंशन, निराश्रित महिला पेंशन, दिव्यांग पेंशन, राशन कार्ड, मुख्यमंत्री आवास, आयुष्मान भारत आदि योजनाओं के सर्वे के लिए बैठकें की जायेगी। बैठक में योजनाओं से लाभान्वित लाभार्थियों के नामों को बताया जायेगा। जिलाधिकारी ने कहा कि पर्यावरण की सुरक्षा के प्रमुख स्रोत नहर, तालाब, झील आदि को पुर्नजीवित करना हमारा लक्ष्य है। वर्षा जल का संरक्षण करना जरूरी है।
    कार्यशाला मंे प्रधानो को सम्बोधित करते हुये मुख्य विकास अधिकारी अक्षय त्रिपाठी ने कहा कि जनपद को हम अगस्त के अन्त तक खुले मंे शौच से मुक्त करने के लिए तेजी से काम करें। इसमें महात्वपूर्ण भूमिका आपकी हैं, इस दौरान आ रही समस्याओं से हमे अवगत करायें। उन्होने कहा कि मनरेगा का मुख्य उद्देश्य रोजगार देना और सार्वजनिक भूमि आदि पर स्थाई रूप से काम आने वाले कार्य है। उन्होने कहा कि वृक्षारोपण की महत्व को समझे और गांव में वह भूमि जहां पर वृक्षारोपण हो सकता है की सूचना तीन दिनो के अन्दर सम्बन्धित खण्ड विकास अधिकारी को दें। कार्यशाला में जिला पूर्ति अधिकारी शोभनाथ यादव ने बताया कि जनपद में राशन कार्ड के लगभग 15 लाख 30 हजार युनिट को आधार कार्ड से जोड़ जा चुका है। उन्होने कहा कि जिन लोगो के पास आधार कार्ड नही है वे अपना आधार कार्ड बनवाकर उसे लिंक करवा लें, अन्यथा उन्हें राशन का लाभ प्राप्त नही होगा। परियोजना निदेशक ए0के0 मिश्र ने प्रधानमंत्री आवास के सम्बन्ध में बताते हुये कहा कि पिछले वर्ष 14 हजार से अधिक आवास प्रदान किये जा चुके है। जो लोग अभी भी इस योजना के लाभ से जो गरीब पात्र वंचित हैं उन्हंे 21 से 23 जुलाई 2018 तक के सर्वे के दौरान लाभान्वित किया जायेगा। अब कोई भी पात्र इस योजना के लाभ से वंचित नही होना चाहिए और किसी भी अपात्र का चयन भी नही होना चाहिए।
    राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन की जिला स्वास्थ्य भारत प्रेरक मोनिका श्रीवास्तव ने गर्भवती महिलाओं एवं बच्चों को कुपोषण से बचाने के बारे में बताया और कहा कि 60 प्रतिशत महिलाओं में पोषण की कमी पायी जाती है। हर दूसरा बच्चा किसी न किसी रूप में कुपोषण का शिकार हैं। हमें कुपोषण को जड़ से मिटाना है इसके लिए हमें परिवेश स्वच्छ एवं सुन्दर बनाना है। अधिशाषी अभियन्ता विद्युत नंे बताया कि जनपद में 6 हजार 756 मजरो को विद्युतीकृत किया जाना है। अभी तक 22 हजार 307 संयोजन निर्गत किये गये हैं उन्होने कहा कि जिन घरो में अभी भी विद्युतीकृृत नही किया गया है उनको विद्युतीकरण कराने में प्रधान बन्धु सहयोग करें। जिससे जल्द से जल्द जनपद के सभी घरो को विद्युतीकृत किया जा सके। कार्यशाला में मुख्य विकास अधिकारी अक्षय त्रिपाठी, उप निदेशक पंचायत, परियोजना निदेशक एके मिश्र, जिला विकास अधिकारी हवलदार सिंह, बीएसए अमिता सिंह, डीपीआरओ एसपी सिंह सहित बड़ी संख्या में जनपद के ग्राम प्रधान व अन्य जनपद स्तरीय अधिकारी आदि उपस्थित थे।