जनता की गाढ़ी कमाई को मूर्तियों पर पानी की तरह बहा रही भाजपा सरकार: गंगा यादव

0

समाजवादी शिक्षक सभा ने भाजपा सरकार पर जताया आक्रोश, कहा प्रदेश की योगी सरकार शिक्षक विरोधी

फैजाबाद। समाजवादी शिक्षक सभा की मासिक बैठक में प्रदेश सरकार के खिलाफ शिक्षकों ने आक्रोश व्यक्त किया। सपा कार्यालय लोहिया भवन में मासिक बैठक की अध्यक्षता सभा के जिलाध्यक्ष दान बहादुर सिंह व संचालन जिला महासचिव डाॅ0 घनश्याम यादव ने किया। बैठक में मुख्य रूप से सपा जिलाध्यक्ष गंगासिंह यादव मौजूद थे। जिलाध्यक्ष श्री यादव ने कहा कि प्रदेेश की भाजपा सरकार में जो सड़कों पर आन्दोलन करता है और सरकार से कुछ मांगता है तो बर्बरतापूर्ण लाठियों से पिटाई कर दी जाती है। उन्होंने कहा कि केन्द्र व प्रदेश की भाजपा सरकार मूर्तियों पर जनता का गाढ़ी कमाई का पैसा पानी की तरह बहाया जा रहा है। दोनों सरकारें आरएसएस के इशारे पर चल रही हैं। उन्होंने बैठक में मौजूद शिक्षकों से कहा कि आगामी 2019 के लोकसभा चुनाव की तैयारियों में अभी से कमर कस लें। बैठक की अध्यक्षता कर रहे सभा के जिलाध्यक्ष दान बहादुर सिंह ने कहा कि वित्तविहीन शिक्षकों के बन्द मानदेय को प्रदेश में सपा सरकार आने पर उचित मानदेय दिलाया जायेगा। उन्होंने कहा कि अवध विश्वविद्यालय में चल रही बैक पेपर की परीक्षा में अव्यवस्था को लेकर निन्दा की। उन्होंने योगी सरकार से मांग की कि पुरानी पेंशन को बहाल किया जाय। 68500 शिक्षकों के पदों पर भर्ती प्रक्रिया में शामिल अभ्यर्थियों पर बर्बरतापूर्ण किये गये लाठी चार्ज की निन्दा की और कहा कि प्रदेश की योगी सरकार शिक्षक विरोधी सरकार है। उन्होंने कहा कि सभा की प्रदेश कार्यकारिणी की बैठक 11 नवम्बर को लखनऊ में शिक्षक सभा के प्रदेश अध्यक्ष डाॅ0 मानसिंह यादव की अध्यक्षता में होगी जिसमें आन्दोलन की एक बड़ी रणनीति तय की जायेगी। बैठक में मौजूद पूर्व बेसिक शिक्षा अधिकारी रामलखन यादव ने कहा कि शिक्षा अधिकार कानून के तहत 6 वर्ष से 14 वर्ष तक के बच्चों को निःशुल्क शिक्षा की जिम्मेदारी प्रदेश सरकार की है। लेकिन इन बच्चों के शिक्षा के लिये दो तरह की व्यवस्था है, सरकारी और प्राइवेट विद्यालय। उन्होंने कहा कि सरकार सरकारी विद्यालयों की जिम्मेदारी तो लेती है लेकिन आधे से अधिक बच्चों जो कि प्राइवेट कालेजों में पढ़ते हैं के ऊपर एक पैसा भी नहीं खर्च करती, इस पर भी सरकार अपनी जिम्मेदारी ले। उन्होंने कहा कि अनुदेशकों के लगभग 31 हजार पदों को समाप्त करने पर सरकार की निन्दा की। सपा प्रवक्ता ओम प्रकाश ओमी ने बताया कि बैठक में जनता इण्टर कालेज के प्रधानाचार्य भूपाल सिंह व राजेश यादव, रंजीत मिश्रा को पार्टी का झण्डा थमाकर व माला पहनाकर सदस्यता दिलायी गयी। प्रवक्ता ने बताया कि डाॅ0 आर0के0 यादव को आचार्य नरेन्द्रदेव कृषि विश्वविद्यालय कुमारगंज में एसोसिएट प्रोफेसर के पदोन्नति पर माला पहनाकर स्वागत किया गया। बैठक के अन्त में पूर्व राज्यमंत्री तेजनारायण पाण्डेय पवन की दादी, सपा नेता लड्डूलाल यादव की माता व रेलवे वार्ड के पार्षद कमलेश सोलंकी के पिता के निधन पर शोक प्रकट किया गया। बैठक में संत प्रसाद मिश्रा, अवनीश वर्मा, कुॅंवर नृपेन्द्र विक्रम सिंह, डाॅ0 हरीनारायण ओझा, विजय प्रताप सिंह, रमेश सिंह, लालचन्द यादव, अमिताभ श्रीवास्तव, तहसीलदार सिंह, विमल सिंह यादव, राजेश कुमार यादव, जय प्रकाश चैरसिया, हनुमान प्रसाद मिश्रा, रामानन्द यादव, आनन्द कुमार शुक्ला, रामचेत यादव, डाॅ0 राम कैलाश यादव, अम्बरेश पाण्डेय, अनिल कुमार मिश्रा, अक्षतेश्वर दूबे, राम कैलाश यादव, डाॅ0 शशिकान्त, बलराम यादव आदि मौजूद थे।

इसे भी पढ़े  कुलपति ने की विवि परिसर में संचालित पाठ्यक्रमों की समीक्षा

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

%d bloggers like this: