गंगा जमुनी तहजीब की मिसाल बना सूफी संत भीखा शाह का सालाना उर्स

0
  • उर्स के सामपन पर मुख्य अतिथि के रूप में शामिल हुए महन्त बृजमोहन दास

  • मुस्लिम धर्मगुरुओं ने पुष्पवर्षा कर किया स्वागत

फैजाबाद। थाना महाराजगंज के अन्तर्गत ग्राम जलालुद्दीन में तीन दिवसीय सालाना उर्स सूफी सन्त मखदूम सैय्यद कमायुद्दीन मक्की उर्फ भीखाशाह का उर्स मेला परम्परागत तरीके से मौलाना सैय्यद मो. आसिफ फिरदौसी के नेतृत्व में धूम-धाम से मनाया गया जिसमें देश के कोने-कोने से हजारों की संख्या में जायरीन पहुंच कर तकरीर किया तथा मिलाद, लंगर, जलसा में सरीक हुए। मेले के समापन पर मुख्य अतिथि दशरथ गद्दी के महन्त बृजमोहन दास ने शिरकत की। श्री महंत ने आये हुए जायरीनों तथा सभी जायरीनों ने श्री महन्त का जोरदार स्वागत किया। जिसमें मौलाना सैय्यद मो. आसिफ फिरदौसी के साथ मंच पर महंत बृजमोहन दास का पुष्प वर्षा कर जोरदार स्वागत कर गंगा जमुनी तहजीब की मिसाल पेश की। सभी ने मुल्क की तरक्की अमन चैन के लिए दुआ की। स्वागत करने वालों में सैय्यद जिलानी मिया, वार्ड सूफी काउंसिल चेयरमैन डा. जनमुल हसन गनी, मो. रईस, अरसद आलम मोनू, महासचिव अल्संख्यक समाजवादी पार्टी, खालिद उसमानी, मिस्बाउद्दीन, फैसल उस्मानी, मो. फरहान, मो. सूफी समि, साहब दरगाह अजमेर शरक, सैय्यद हिलान, सैय्यद परवूल्ल हसन, सैय्यद अकरम, सैय्यद आमिल, सैय्यद मौ. आमीर, मौ. आमीर उस्मानी, मो. जमाल सिद्दीकी, मो. रूमान युवा समाजसेवी आदि ने स्वागत किया। इस मेले में उप जिलाधिकारी सदर के निर्देश पर थाना प्रभारी महाराजगंज के द्वारा सुरक्षा व्यवस्था के व्यापक प्रबंधक किये गये थे।

इसे भी पढ़े  शादी से किया मना, तो करा दी प्रेमी सिपाही की हत्या

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

%d bloggers like this: