in ,

स्वास्थ्य केन्द्रों व मतदेय स्थलो का डीएम ने किया आकस्मिक निरीक्षण

मण्डलीय संयुक्त चिकित्सालय, दर्शन नगर निरीक्षण के दौरान पूरे चिकित्सालय परिसर में जगह-जगह गन्दगी पायी गयी

अयोध्या। जिला मजिस्ट्रेट/जिला निर्वाचन अधिकारी अनुज कुमार झा ने आज जनपद के मण्डलीय संयुक्त चिकित्सालय, दर्शन नगर-अयोध्या, विभिन्न सामुदायिक एवं प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों के साथ-साथ विभिन्न मतदेय स्थलो का आकस्मिक निरीक्षण किया गया। मण्डलीय संयुक्त चिकित्सालय, दर्शन नगर-अयोध्या का आकस्मिक निरीक्षण के दौरान पूरे चिकित्सालय परिसर में जगह-जगह गन्दगी पायी गयी। जैसे यहाँ पर सफाई की कोई समुचित व्यवस्था नहीं है। ओ0पी0डी0 में चर्मरोग विशेषज्ञ डाॅ0 सौम्या द्वारा मरीजों को देखा जा रहा था। तत्समय श्री प्रेम चन्द्र, आयु 40 वर्ष, पर्ची सं0: 27183 द्वारा अधोहस्ताक्षरी को अवगत कराया गया कि उन्हें बाहर से लेने हेतु दवायें लिखी गयी है। जब इस सम्बन्ध में जानकारी की गयी तो सर्वप्रथम डाॅ0 सौम्या द्वारा बताया गया कि दवाएं यहाँ उपलब्ध नहीं हैं। उनके द्वारा 27 दवाओं की सूची अधोहस्ताक्षरी के समक्ष प्रस्तुत की गयी। पुनः इस सम्बन्ध में जानकारी चाहे जाने पर 90 दवाओं की सूची प्रस्तुत की गयी। जिलाधिकारी ने कहा कि यह स्थिति अत्यन्त खेदजनक है कि मरीजों को बाहर से लेने हेतु दवाएं लिखी जा रही हैं। इसके अलावा श्री चन्द्रपाल चतुर्वेदी, निवासी ग्राम भीखापुर ने अवगत कराया कि उन्हें जो दवाएं लिखी गयी हैं, उनके बारे में बताया गया कि यह दवा चिकित्सालय में उपलब्ध नहीं है, परन्तु दवा वितरण केन्द्र पर जाने पर उक्त दवा पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध होनी बतायी गयी। जानकारी करने पर ज्ञात हुआ कि दवा वितरण केन्द्र में 03 कर्मचारी तैनात है, तत्समय वहाँ पर मौजूद श्री धर्मेन्द्र कुमार (फार्मासिस्ट) द्वारा दवा न होने की बात कही गयी थी, परन्तु काफी प्रयास के बावजूद श्री धर्मेन्द्र कुमार मौके पर उपस्थित नहीं आये। जिस पर जिलाधिकारी ने प्राचार्य, मण्डलीय संयुक्त चिकित्सालय (कुशमाहा) दर्शन नगर-अयोध्या को चिकित्सालय में पर्याप्त सफाई व्यवस्था कराने के साथ ही आवश्यक दवाओं की पर्याप्त मात्रा में उपलब्धता सुनिश्चित कराने तथा श्री धर्मेन्द्र कुमार उपरोक्त के विरुद्ध कठोर कार्यवाही  करने के निर्देश दिये।  इसके बाद जिलाधिकारी ने प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र, पूराबाजार  का निरीक्षण किया। जिसके  प्रवेश द्वार के दायीं ओर एक बड़ी होर्डिंग लगी थी जिसमें मा0 प्रधानमन्त्री जी एवं मा0 मुख्यमन्त्री जी की फोटो छपी थी। इसी प्रकार टीकाकरण कक्ष के सामने भी एक होर्डिंंग लगी थी जिसमें भी मा0 मुख्यमन्त्री जी की फोटो छपी थी। वर्तमान में प्रभावी चुनाव आचार संहिता के दृष्टिगत इन दोनों होर्डिंगों को तत्काल हटवाने के निर्देश मौके पर उपस्थित अपर मुख्य चिकित्साधिकारी डाॅ0 ए0 के0 सिंह को दिये गये। उन्होनें कहा कि इस स्वास्थ्य केन्द्र पर सफाई की भी समुचित व्यवस्था किया जाना सुनिश्चित करें।सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र, गोशाईंगंज के आकस्मिक निरीक्षण के दौरान परिसर में खड़ी एम्बुलेन्स सं0: 108 व 102 के सम्बन्ध में ई0एम0टी0 सुपरवाइजर से जानकारी ली गयी, किन्तु एम्बुलेन्स 102, वाहन संख्या: यू0पी0-41 जी-2666 की ई0एम0टी0 सुपरवाइजर सुश्री संगीता भारती अधोहस्ताक्षरी द्वारा चाही गयी जानकारी यथा एम्बुलेन्स में दवा, आॅक्सीजन आदि की उपलब्धता, मरीज/उसके तीमारदार से रजिस्टर पर हस्ताक्षर कराने आदि का कोई समुचित उत्तर नहीं दे सकीं, बल्कि उनके द्वारा उल्टे-सीधे जवाब दिये गये। जिस पर जिलाधिकारी ने उन्हें सेवा से पृथक् किये जाने के निर्देश दिये। एम्बुलेन्स 108, वाहन सं0: यू0पी0 41जी-3020 का दवा का बाॅक्स टूटा था, सीट उखड़ी हुई थी, आॅक्सीजन सिलिण्डर में लीकेज की बात बतायी गयी। इनके ई0एम0टी0 सुपरवाइजर द्वारा भी रजिस्टर पर मरीज/उनके तीमारदार द्वारा हस्ताक्षर नहीं कराया गया था तथा उक्त दोनों वाहनों में रखे दवा बाॅक्सों में उपलब्ध दवाओं की कोई सूची भी नहीं रखी गयी थी जिससे पता चल सके कि कौन-कौन सी दवाएं एम्बुलेन्स में उपलब्ध हैं। जिस पर जिलाधिकारी ने एम्बुलेन्सों में दवाओं की सूची भी रखवायें जाने के निर्देश दिये। दवा वितरण कक्ष के दरवाजे के ऊपर एक स्लिप लगी हुई थी कि रैबीज की वैक्सीन उपलब्ध नहीं है और इसके नीचे मोबाइल नं0: 7800789246 लिखा हुआ था जिसके बारे में प्रभारी चिकित्साधिकारी द्वारा बताया गया कि यह नम्बर फार्मासिस्ट श्री अनिल कुमार वर्मा का है और वह चैत्र राम नवमी मेला ड्यूटी में गये हैं किन्तु जब इस नम्बर पर सम्पर्क किया गया तो श्री वर्मा द्वारा बताया गया कि वह हर्रैया, जनपद बस्ती से बोल रहे हैं। जिस पर जिलाधिकारी ने फार्मासिस्ट का 02 अपै्रल 2019 का वेतन अग्रिम आदेशों तक आहरित न किये जाने के निर्देश दिये। उन्होनंे स्वास्थ्य केन्द्र के प्रवेश द्वार के पास ही एक वाटर कूलर को ठीक कराने के निर्देश दिये ताकि यहाँ आने वाले मरीजों एवं उनके तीमारदारों को शुद्ध पेयजल उपलब्ध हो सके। इसके बाद जिलाधिकारी ने तहसील बीकापुर के मतदेय स्थल प्राथमिक विद्यालय सराय धनौली, पूर्व मा0वि0 सराय धनौली, पू0मा0वि0 शाहगंज व प्रा0वि0 शाहगंज तथा मिल्कीपुर तहसील के मतदेय स्थल जू0हा0स्कूल0 कुचेरा व प्रा0वि0 बारून का मतदान हेतु की गई विभिन्न तैयारियों का जायजा लिया। उन्होने तहसीलदार मिल्कीपुर को प्राथमिक विद्यालय बारून के परिसर में रखी गयी लकड़ी व ईंट की गिट्टी को शीघ्र हटवाने तथा स्कूल परिसर की साफ-सफाई सुनिश्चित कराने के निर्देश दिये। 

इसे भी पढ़े  मिल्कीपुर विधानसभा उपचुनाव : सपा से डॉ. देवमणि कनौजिया ने की दावेदारी

What do you think?

Written by Next Khabar Team

Comments are closed.To enable, click "Edit Post" page on top WP admin bar, find "Discussion" metabox and check "Allow comments" in it.

3 Comments

एक-एक मतदान देश को करेगा मजबूत

संदिग्ध परिस्थितियों में पेड़ से लटका मिला युवक का शव