in ,

विश्व योग दिवस की पूर्व संध्या पर हुई जिला स्तरीय योगासन प्रतियोगिता

-योग शारीरिक ही नहीं मानसिक विकास भी करते हैः अर्चना सिंह

अयोध्या। वर्ल्ड योगासन एवं योगासन भारत के महासचिव डॉ. जयदीप आर्य के मार्गदर्शन तथा उत्तर प्रदेश योगासन स्पोर्ट्स एसोसिएशन के सचिव रोहित कौशिक के नेतृत्व एवं योगासन स्पोर्ट्स उत्तर प्रदेश के समन्वयक पियूष कांत मिश्र के दिशा-निर्देशन में उत्तर प्रदेश के सभी जिलों में चल रही जिला स्तरीय योगासन प्रतियोगिताओं के तत्वावधान में विश्व योगदिवस की पूर्व संध्या पर प्रथम जिला स्तरीय योगासन प्रतियोगिता ध्यान केंद्र, योग विज्ञान विभाग डॉ. राम मनोहर लोहिया अवध विश्वविद्यालय में गुरूवार को सम्पन्न हुई।

इस प्रतियोगिता की अध्यक्षता विश्वविद्यालय क्रीड़ा परिषद के उपाध्यक्ष प्रो हिमांशु शेखर सिंह ने किया। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में श्रीमती अर्चना सिंह, पुलिस उपाधीक्षक अयोध्या रही। उन्होंने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि जीवन में खेल का विशेष महत्व है। सरकार ने योग को एक खेल के रूप में मान्यता दे दी है। योगसन खेल, केवल शारीरिक ही नहीं मानसिक विकास भी करते हैं। कुछ खेल बच्चों के लिए होते हैं, कुछ बड़ों के लिए, कुछ वृद्धों के लिए होते हैं, जबकि ये एक ऐसा खेल हैं, जिसमें सभी वर्ग के लोग प्रतिभाग कर सकते हैं। कार्यक्रम में विशिष्ट अतिथि के रूप में इंदिरा गांधी राष्ट्रीय मुक्त विश्वविद्यालय (इग्नू) के सहायक क्षेत्रीय निदेशक डॉ. कीर्ति विक्रम सिंह रहे। डॉ. सिंह ने खिलाड़ियों को योग के महत्व के विषय जानकारी दी और सरकार द्वारा खिलाड़ियों की लिए चलाई जा रही योजनाओं के विषय में प्रकाश डाला।

इस जिला स्तरीय प्रतियोगिता के सीनियर वर्ग में महिला और पुरुषों ने प्रतिभाग कर अपनी प्रतिभा का परिचय दिया। इन सभी वर्गों के प्रथम, द्वितीय और तृतीय स्थान पाने वाले विजेताओं को मेडल तथा प्रमाण पत्र देकर सम्मानित किया गया। सीनियर वर्ग महिला एवं पुरुष में अवध विश्वविद्यालय योग विज्ञान विभाग का दबदबा रहा। सीनियर वर्ग महीला में क्रमशः प्रथम स्थान शालू कुमारी द्वितीय स्थान आकृति त्रिपाठी तृतीय स्थान रोली पांडे का रहा। सीनियर वर्ग पुरुष में क्रमशः प्रथम स्थान आशीष शुक्ला द्वितीय स्थान राजपाल तृतीय स्थान कमलेश कुमार का रहा। सभी विजेता प्रतिभागी आगामी राज्य स्तरीय उत्तर प्रदेश योगासन स्पोर्ट्स प्रतियोगिता में प्रतिभाग करेंगे।

इस प्रतियोगिता में ऑब्जर्वर की भूमिका योगासन उत्तर प्रदेश से जुड़े प्रतिनिधि वैभव उपाध्याय ने निभाई। योग विज्ञान के सहायक आचार्य डॉ. आलोक तिवारी ने निर्विवाद निर्णय देकर प्रतियोगिता सम्पन्न कराई। डॉ. अनुराग तिवारी ने मंच संचालन एवं अतिथियो का धन्यवाद ज्ञापन किया। कार्यक्रम में योग विज्ञान विभाग के शिक्षक डॉ. अनुराग सोनी, सुश्री गायत्री वर्मा की महती भूमिका रही। रजिस्ट्रेशन का कार्य दिवाकर पाण्डेय के द्वारा किया। इस अवसर पर बड़ी संख्या में छात्र छात्राएं उपस्थित रहे।

अन्तरराष्ट्रीय योग दिवस पर अवध विवि में करेंगे एक हजार लोग योग

– डॉ. राममनोहर लोहिया अवध विश्वविद्यालय प्रशासन ने अन्तरराष्ट्रीय योग दिवस को भव्यता प्रदान करने के लिए तैयारियों को अंतिम रूप दिया। विश्वविद्यालय परिसर के विवेकानंद सभागार के सामने प्रातः पौने छह से पौने सात बजे तक होने वाले योग कार्यक्रम में लगभग एक हजार लोग शामिल होंगे। विश्वविद्यालय की कुलपति प्रो0 प्रतिभा गोयल के निर्देश पर कुलसचिव डॉ0 अंजनी कुमार मिश्र ने अन्तरराष्ट्रीय योग दिवस को भव्य देने के लिए समस्त संकायाध्यक्ष, विभागाध्यक्ष, निदेशक, समन्वयक एनएसएस, एनसीसी, समस्त शिक्षक एवं अधिकारियों को सूचित किया।

योग नोडल समन्वयक प्रो0 संत शरण मिश्र ने बताया कि 21 जून को अन्तरराष्ट्रीय योग दिवस के आयोजन को लेकर तैयारियां पूरी की जा चुकी है। इस कार्यक्रम को समुचित भव्यता व सार्थकता प्रदान के लिए सभी को छात्र-छात्राओं के साथ उपस्थित होना होगा। योग कार्यक्रम प्रातः 5ः45 से शुरू होकर 6ः45 तक सम्पन्न होगा। योग प्रशिक्षक की निगरानी में लगभग एक हजार लोगों को योग कराया जायेगा। इसके लिए सभी को आधे घण्टे पूर्व आसन ग्रहण करना होगा।

इसे भी पढ़े  बीकापुर विधायक डॉ. अमित सिंह चौहान ने सीएम योगी से की मुलाकात

What do you think?

Written by Next Khabar Team

रामपथ, भक्ति पथ एवं जन्मभूमि पथों के चौड़ीकरण से विस्थापित दुकानदारों को बड़ी राहत

मैक्स हॉस्पिटल ने अयोध्या में विशेष ओपीडी सेवाओं का किया शुभारंभ