किसान दिवस पर कृषकों की समस्याओं पर हुई चर्चा

जिलाधिकारी ने व्यवस्था के सम्बन्ध में दिया निर्देश

फैजाबाद। जिलाधिकारी डा0 अनिल कुमार की अध्यक्षता में विकास भवन के सभागार में किसान दिवस का आयोजन किया गया। इस अवसर पर जिलाधिकारी ने गन्ना विभाग को निर्देश दिया कि गन्ना सर्वे के दौरान लगने वाले खतौनी के नकल, आधार, घोषणा पत्र व अन्य चीजों के लिए स्पष्ट दिशा निर्देश जारी करें। उन्होनें गन्ना किसानो के बकाया भुगतान को शीघ्र करने के निर्देश दिये। जिलाधिकारी ने कहा कि इस समय धान की रोपाई का कार्य चल रहा है। इसके लिए किसानो को बिजली और पानी की बहुत ही आवश्यकता है तथा विद्युत विभाग ग्रामीण क्षेत्रो में विद्युत की आपूर्ति रोस्टर के अनुरूप उपलब्ध करायें और ध्यान रखें कि किसानो को विद्युत ट्रिपिंग की समस्या न आने पाये। बैठक में किसानो ने नहरों में टेल तक पानी न पहुंचने की समस्या बताई। जिस पर जिलाधिकारी ने नहर विभाग को आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश दिये। उन्होने कहा कि गर्मी में जल स्तर गिरने से तालाब सूख गये थे जिसे भराने का कार्य किया जा रहा है। उन्होनें कहा कि जो तालाब अभी भी नही भरे हैं उनकी सूची उपलब्ध करायें। उन्हे भी भराने का कार्य किया जायेगा।
जिलाधिकारी ने मिल्कीपुर के ग्राम कून्होपुर में सरकारी ट्यूबेल के नाली में विद्युत विभाग द्वारा पोल लगाये जाने पर एक्सईएन को स्थलीय निरीक्षण करने और यदि कोई दोषी पाया जाता है तो उसके विरूद्ध एफआईआर दर्ज कराकर अवगत कराने के निर्देश दिये। उन्होनंे बताया कि जनपद में 29 नये ट्यूबेल लगने है जिसमें से 14 के चयन हो चुके हैं शेष 15 के स्थानो का शीघ्र चयन करके दिसम्बर माह तक चालू करना है। जिलाधिकारी ने किसानो से अनुरोध किया कि वे 22 जुलाई से 31 जुलाई तक होने वाले बैठकों के रोस्टर की सूची ब्लाक से लेकर निर्धारित तिथि एवं निर्धारित पंचायत में ज्यादा से ज्यादा संख्या में भाग लें। मुख्य विकास अधिकारी अक्षय त्रिपाठी ने बताया कि जनपद मंे 28 जगह पर चरागाह एवं पशुचर के लिये निर्माण कार्य हो रहा है जिसमें से अमानीगंज की रामपुर गौहनियां का कार्य पूर्ण हो गया है, ग्राम पंचायत स्तर पर समिति बनाई गयी है। जल्द ही इसमें पशुओं को रखने का कार्य शुरू किया जायेगा। इससे किसानो को छुट्टा जानवरों से आ रही समस्याओं से निजात मिलेगा। जिला कृषि अधिकारी वीके सिंह ने बताया कि कृषि विभाग की सभी योजनाओं का लाभ पंजीकृत किसानो को ही मिलेगा इसलिए सभी किसान भाई अपना पंजीकरण जरूर करा लें। उन्होनंे कहा कि सरकार द्वारा कीटनाशक, खरपतवारनाशी दवाओं पर 25 से 75 प्रतिशत तक का अनुदान डीबीटी के माध्यम से दिया जा रहा है। बैठक में नरेन्द्र देव कृषि विश्वविद्यालय के डा0 डीडी सिंह व अन्य पदाधिकारियों द्वारा उपस्थित किसानो को तकनीकी खेती के बारे में जानकारी भी दी। बैठक में मुख्य विकास अधिकारी अक्षय त्रिपाठी, उप निदेशक कृषि सै0 बदरे आलम, जिला कृषि अधिकारी वीके सिंह, जिला पशु चिकित्साधिकारी एके श्रीवास्तव, एई ट्युबेल रामगोपाल, पीसी कृषि विज्ञान केन्द्र मसौधा डा0 शशिकान्त यादव, भारती किसान यूनियन के प्रमुख सचिव दिनेश कुमार दुबे, जिलाध्यक्ष सुमन पाण्डेय, श्रीराम वर्मा, फरीद अहमद सहित अन्य जनपद स्तरीय अधिकारी, किसान प्रतिनिधि व किसान आदि उपस्थित थे।

इसे भी पढ़े  युवकों ने किया प्रयागराज हाईवे को जाम

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More