The news is by your side.

भाकपा ने निकाली जन सन्देश यात्रा

 

-अंग्रेजों भारत छोड़ो आंदोलन की वर्षगांठ मनाई

अयोध्या। अंग्रेजों भारत छोड़ो आंदोलन की वर्षगांठ और स्वतंत्रता संग्राम सेनानी एवं पूर्व विधायक कामरेड राजबली यादव के जन्मदिवस पर भाकपा ने जन सन्देश यात्रा निकाली। दर्शननगर से शुरू हुई यात्रा इटौरां, सादुपुर, बीकापुर, रामपुर भगन, मसौधा होते हुए डाभासेमर में समाप्त हुई।राज्य काउंसिल सदस्य अशोक कुमार तिवारी, भाकपा जिला सहायक सचिव रामजी राम यादव, खेत मजदूर संगठन के शैलेंद्र प्रताप सिंह “फौजी”, खेत मजदूर यूनियन के अखिलेश चतुर्वेदी, अवधराम यादव, अवधेश निषाद, शिवराम, सिद्धनाथ, रामरतन, लालचंद, राममूर्ति, राम यादव अवधेश मिश्रा सहित अन्य लोग शामिल रहे।

Advertisements

कामरेड राजबली यादव जनसंदेश यात्रा की शुरुआत मुख्य रूप से 1 अगस्त को मड़ना गांव में कामरेड राजबली यादव की प्रतिमा पर माल्यार्पण करके हुई थी जो विभिन्न गांव से होती हुई शनिवार को सातवें दिन दर्शननगर से प्रारंभ हुई। कामरेड राजबली यादव अमर रहें, साम्राज्यवाद- मुर्दाबाद पूंजीवाद हो बर्बाद, इंकलाब- जिंदाबाद, दुनिया के मजदूरों एक हो जैसे नारे लगाती हुई यह जनसंदेश यात्रा ने गांवों में लोगों के बीच पहुंचकर स्वर्गीय राजबली यादव के सिद्धांत और उसूलों पर चर्चा करते हुए उनके संदेश को जन- जन तक पहुंचाने का कार्य किया।।

अशोक कुमार तिवारी ने कहा कि ब्रिटिश हुकूमत से ज्यादा तानाशाह, फिरकापरस्त और सांप्रदायिक सोच वाली केंद्र व प्रदेश की सरकार जनविरोधी नीतियां लागू कर रही है। कई महीने से कृषि कानूनों के खिलाफ किसान आंदोलित है। मजदूरों को उनके हक नहीं मिल रहे हैं। महंगाई चरम सीमा को पार कर चुकी हैं। सरकार अपने विरोधियों को गंभीर धाराओं में फंसाकर जेल भेजने का काम कर रही है। राष्ट्रद्रोह का फर्जी मुकदमा लगाकर अपने विरोधियों को जेलों में बंद करने का काम कर रही है। इस सरकार को ब्रिटिश हुकूमत की तरह केंद्र व राज्य से उखाड़ फेंकना जरूरी है।

Advertisements

Comments are closed.