The news is by your side.

अमर्यादित विवाद के चलते नहीं हो सकी चयनित शिक्षकों की काउंसलिंग

बेसिक शिक्षा कनिष्ठ लिपिक के समर्थन में शुरू हुआ धरना प्रदर्शन

बीएसए कार्यालय के बाहर खडे काउसिलिंग के लिए आये चयनित शिक्षक अभ्यर्थी

अयोध्या। वित्त एवं लेखाधिकारी बेसिक शिक्षा के कनिष्ठ लिपिक राजेन्द्र प्रसाद मौर्य से बीते गुरूवार को पूर्व माध्यमिक विद्यालय त्रिलोकीपुर शिक्षा क्षेत्र मया के सहायक अध्यापक संजय कुमार सिंह द्वारा जयहिन्द सिंह व अन्य के साथ अमर्यादित व्यवहार किया गया। इस प्रकरण को लेकर शुक्रवार को शिक्षा विभाग के तमाम अधिकारियों ने धरना प्रदर्शन शुरू किया। बीएसए कार्यालय में धरना प्रदर्शन शुरू होने से शुक्रवार को होने वाली नये शिक्षकों की काउंसलिंग नहीं हो पायी और शनिवार को काउंसलिंग कराने की घोषणा की गयी। धरना प्रदर्शन की अध्यक्षता प्रधान लिपिक प्रेम कुमार सिंह व संचालन अनुराग खरे ने किया। अनुराग खरे ने कहा कि इस कृत्य की जितनी भर्त्सना की जाय कम है यह कृत्य शिक्षक आचरण के सर्वथा विपरीत है। मसरूर आलम ने कहा कि अमर्यादित कृत्य करने वाले अध्यापकों के विरूद्ध कठोर कार्यवाही की जानी चाहिए। धरना स्थल पर निर्णय लिया गया कि जबतक दोषी शिक्षकों के विरूद्ध प्रशासनिक व विधिक कार्यवाही नहीं की जाती तबतक धरना जारी रहेगा।
धरना स्थल पर हुई सभा को प्रमोद कुमार सिंह, अनिल कुमार गिरि, अजय कुमार गौतम, खुर्शीद अहमद, अजीत तिवारी, शितांशु तिवारी, सुनील वर्मा, त्रिभुवन यादव, शत्रुहन शुक्ला, अवधेश कुमार, राहुल मिश्रा, गंगाराम, रीतारानी श्रीवास्तव, विनोद कुमार यादव, सविता रावत, नर्मदा कुमारी, रीतू दूबे, गिरीश चन्द्र, मुकुल चन्द्र श्रीवास्तव, प्रगति यादव, मो. शुऐब सिद्दीकी, विकास सिंह, अंकुर सिंह, सुमित पाण्डेय, अमित पाण्डेय, रामकृष्ण गुप्ता, राम गोपाल, आशीष कुमार, विश्वनाथ, वासुदेव, राजेश यादव, वीरेन्द्र कुमार, नारायण बक्श सिंह, आनन्द मिश्रा आदि ने सम्बोधित किया।
काउंसलिंग के लिए दूर दराज से आये चयनित अभ्यर्थियों को जब काउंसलिंग के स्थगित किये जाने का जब पता चला तो उनमे निराशा का भाव जग गया। काउंसलिंग के लिए आये अभ्यर्थियों ने जिलाधिकारी सहित उच्च शिक्षा अधिकारियों से सम्पर्क साधा परन्तु उन्हें निराशा ही हाथ लगी।

Advertisements
Advertisements

Comments are closed.