in ,

राहुल गांधी की फोटो जलाने की घटना का कांग्रेसियों ने किया विरोध

कहा- पुलिस संरक्षण में सत्ता पक्ष द्वारा विपक्ष के नेता की फोटो जलाने की घटना निन्दनीय

अयोध्या। लोकसभा में सरकार की खामियों को उजागर करने के प्रतिक्रिया स्वरूप भाजपायों द्वारा प्रतिपक्ष के नेता राहुल गांधी की फोटो को पुलिस एवं प्रशासन के संरक्षण में जलाने की घटना के विरोध में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने प्रदर्शन किया। जुलूस की शक्ल में जिलाधिकारी को ज्ञापन देने जा रहे कांग्रेस कार्यकर्ताओं को भारी पुलिस बल ने पार्टी कार्यालय पर ही रोक लिया। कांग्रेस पार्टी के नेताओं से पार्टी कार्यालय कमला नेहरू भवन पर नायब तहसीलदार ने ज्ञापन लिया।

जिला अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा हमारे देश की संसद में विगत दिनों नेता प्रतिपक्ष राहुल गांधी द्वारा भाजपा के नकली हिन्दुत्व का पर्दाफाश किया एवं भ्रष्टाचार सहित एनईईटी-यूजी 2024 के परीक्षाओं में अनियमितताओं और पेपर लीक का मामला उठाकर उनका झूठ चेहरा देश की जनता के सामने उजागर किया गया। अपने झूठ का खुलासा देखकर ये भाजपायी इतना तिलमिला गये कि इन्होंने हमारे नेता की फोटो को पुलिस एवं प्रशासन के संरक्षण में जलाने की नाकाम कोशिश की। इनके भय का आलम ये था कि इन लोगों ने वाराणसी जनपद में माननीय प्रदेश अध्यक्ष जी के पुस्तैनी घर जहां उनके परिवार के लोग रहते है के सामने पुलिस के संरक्षण में जाकर राहुल की फोटो को जलाने की कोशिश की जोकि हमारे देश की लोकतांत्रिक परम्पराओं के खिलाफ है।

महानगर अध्यक्ष वेद सिंह कमल ने कहा पुलिस प्रशासन द्वारा सत्ता पक्ष के लोगों को अपने संरक्षण में रखकर विपक्ष के नेता की फोटो जलाने की यह घटना अत्यन्त निन्दनीय एवं स्वच्छ राजनीति के विपरीत है। एआईसीसी सदस्य दयानंद शुक्ला तथा पीसीसी सदस्य राजेंद्र प्रताप सिंह ने कहा विपक्ष की तरफ से राहुल गांधी जी ने अग्निवीर का मुद्दा उठाया तो भाजपा सरकार ने संसद में झूठ बोला। जिन परिवारों ने अपने बेटों को देश पर कुर्बान कर दिया, भाजपा झूठ बोलकर उनके बलिदान और शहादत का अपमान कर रही है। क्या यही है भाजपा का राष्ट्रवाद? प्रधानमंत्री को देश से झूठ बोलने और शहीदों का अपमान करने के लिए जनता से माफी मांगनी चाहिए।

जिला प्रवक्ता सुनील कृष्ण गौतम ने कहा संसद में राहुल गांधी जी ने हिंदुओं को नहीं बल्कि भाजपाइयों को हिंसक कहा था जिसका गलत प्रचार भाजपा द्वारा पूरे देश में किया गया वहीं राहुल गांधी द्वारा सदन में उठाए जा रहे जनहित के मुद्दों पर भाजपा जवाब देने से कतराती है। प्रदर्शन में प्रमुख रूप से महिला जिला अध्यक्ष रेनू राय, पीसीसी सदस्य उग्रसेन मिश्रा, राम अवध पासी, रामसागर रावत, मोहम्मद आरिफ, बसंत मिश्रा, जनार्दन मिश्रा, चंचल सोनकर ,फ्लावर नकवी, मनोज जायसवाल , मुगीश कुरेशी, रामनाथ शर्मा, प्रवीण श्रीवास्तव ,मूवीस कुरैशी, राजेंद्र प्रसाद रावत, उमेश उपाध्याय ,धर्मेंद्र सिंह फास्टर, भोला यादव ,द्वारिका पांडे, भीम शुक्ला आदि उपस्थित रहे।

इसे भी पढ़े  सड़क हादसे में पिता की मौत, पुत्र गंभीर

What do you think?

Written by Next Khabar Team

अतिक्रमण के खिलाफ चला प्रशाशन का बुलडोजर

रक्तदान से बढ़कर कोई भी सेवा कार्य नहीं : वेद गुप्ता