in

वैज्ञानिकों व किसानों के सामने मौसम परिवर्तन चुनौती

  • दो दिवसीय किसान मेला व प्रदर्शनी का हुआ समापन

  • बेहतर प्रदर्शन करने वालों को किया गया सम्मानित

कुमारगंज । नरेंद्र देव कृषि एवम प्रौद्योगिक विश्वविद्यालय कुमारगंज में दो दिवसीय राज्य स्तरीय किसान मेले व कृषि उद्योग प्रदर्शनी के समापन दिवस पर आयोजित समापन समारोह में मुख्य अतिथि के रूप में अयोध्या के महापौर ऋषिकेश उपाध्याय उपस्थित रहे। मुख्य अतिथि ने इस मौके पर फसल प्रतियोगिता में शामिल किसानों व पशुपालकों समेत प्रदर्शनी स्टाल में बेहतर प्रदर्शन करने वाली कम्पनियों के प्रतिनिधियों को सम्मानित किया। मुख्य अतिथि ने इससे पूर्व कृषि उद्योग प्रदर्शनी का भृमण व अवलोकन किया। समारोह में पशु पालक डॉ मनीष सिंह, राजकुमार सिंह ग्राम बवां कुमारगंज को क्रमशः प्रथम व द्वतीय तथा ग्राम सभा अकमा विकास खण्ड अमानीगंज के लखराम को तृतीय स्थान के लिए सममानित किया। समारोह में मुख्य अतिथि ने पशुचिकित्सा एवम पशुपालन महाविद्यालय की डॉ नमिता जोशी व डॉ आर के जोशी द्वारा लिखित स्वच्छ दुग्ध उत्पादन तकनीक एवम उसका महत्व, डॉ ए के गंगवार, डॉ खंगेबम संगीता देवी एवम डॉ रविन्द्र कुमार द्वारा लिखित गाय भैंसों के मुख्यरोग टीकाकरण एवम संतुलित पशु आहार विषय पर तथा विश्वविद्यालय के वैज्ञानिकों द्वारा लिखित कम्पेडियन आफ वेरायटी डेवलप्ड बाई यूनिवर्सिटी व पौध व्याधियां प्रबन्ध नाम से प्रकाशित पुस्तकों का विमोचन किया। समापन समारोह को सम्बोधित करते हुए मुख्य अतिथि महापौर ऋषिकेश उपाध्याय ने अपने सम्बोधन में आयोजन की सराहना करते हुए कहा विवि को कुलपति प्रो संधू के कृतित्व का बखान करते हुए इस विश्वविद्यालय को केंद्रीय विश्वविद्यालय का दर्जा दिलाने में अपना पूरा सहयोग प्रदान करने का आश्वासन दिया। प्रो. जे.एस. संधू ने समापन समारोह को सम्बोधित करते हुए कहा कि किसान मेले समाज में विश्वविद्यालय में संचालित गतिविधियों को लेकर जाता है। उन्होंने कहा कि हमारे वैज्ञानिकों व किसानों के सामने मौसम परिवर्तन व इससे निपटने की चुनौतियां हैं उनसे हमे पर पाना होगा और इसके लिए काम करना होगा। कुलपति ने कहा इस दिशा में हैपी सीडर का उपयोग गेहूं की फसल में करने की तकनीक व इसके प्रचार प्रसार को गति देना अत्यंत सार्थक कदम माना। कुलपति ने किसानों को हैपी सीडर के वैज्ञानिक व आर्थिक लाभ के विषय में विस्तार से बताया। कुलपति ने किसानों को संदेश देते हुए कहा कि वे किसान मेले में प्रदर्शित तकनीकी का उपयोग यदि अपनी खेती में करते हैं तो निश्चित रूप से वे लाभान्वित होंगे।कुलपति ने प्रदेश सरकार का धन्यवाद दिया कि सरकार मुंहमांगी मदद कर रही है।इससे पूर्व कुलपति प्रो जे एस संधू ने पुष्प गुच्छ भेंट कर मुख्य अतिथि महापौर ऋषिकेश उपाध्याय का स्वागत किया। कुलपति ने मुख्यातिथि को अंगवस्त्र व स्मृतिचिन्ह भेंट कर सम्मानित किया। समापन समारोह में आगन्तुकों का स्वागत करते हुए किसानमेले की रिपोर्ट प्रस्तुत की। कार्यक्रम का संचालन डॉ सीताराम मिश्र ने किया। इस अवसर पर विश्वविद्यालय प्रबन्ध परिषद के सदस्य छेदी सिंह,शिवजीत यादव , सुलतानपुर के प्रगतिशील कृषक अरविंद पांडेय विश्वविद्यालय के अधिकारी, शिक्षक, वैज्ञानिक, किसान छात्र, विभिन्न कॉलेजों के विद्यार्थी ,कृषक,कृषक महिलाएं व विश्वविद्यालय कर्मी उपस्थित रहे।कार्यक्रम के अंत में डॉ आर आर सिंह ने सभी आगन्तुकों का आभार व्यक्त किया।

What do you think?

Written by Next Khabar Team

सीएम योगी आदित्यनाथ करेंगे ‘‘समरसता कुंभ’’ का उद्घाटन

अवैध बालू खनन पर प्रशासन ने कसा शिकंजा