छुट्टा मवेशियों को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में किया बंद

मिल्कीपुर। छुट्टा पशुओं से निजात दिलाने के लिए मुख्यमंत्री के दस जनवरी की डेड लाइन खत्म हो जाने के बाद इससे छुटकारा न मिलने पर मिल्कीपुर विकास खण्ड के पाराधनेथुआ के ग्रामीणों ने करीब दो दर्जन की संख्या में छुट्टा मवेशियों को पकड़ कर डा. अम्बेडकर सामुदायिक स्वस्थ्य केन्द्र पूरब गॉव में बंद कर दिया। मवेशियों के कैद होने की सूचना के बाद तहसील प्रशासन व पुलिस महकमें में हडकम्प मच गया , आनन फानन में कुमारगंज थाना प्रभारी श्रीनिवास पांडेय ,दरोगा धरमेन्द्र मिश्रा ने पहुंच कर पकड़े गए सभी जानवरों को मुक्त करवा दिया। इस सम्बंध में जब उपजिलाधिकारी मिल्कीपुर के.डी. शर्मा से बात कि गई तो उन्होने बताया कि जल्द ही पशुओँ के पकड़ने की व्यवस्था की जायेगी, सरकारी भवन में इन्हें कैद करना ठीक नहीं द्य वही ग्रामीणों का कहना है कि एसडीएम साहब ने कहा था छुट्टे मवेशी को इकट्ठा करके ग्राम प्रधान को सूचित कर दो 2 दिन के बाद पशुओं को गौशालाओं में रख दिया जाएगा। कुछ ग्रामीणों ने कहा कि जो व्यक्ति अपने दरवाजे पर अपने पशुओं को बांध रखा था उनको भी ले जकर स्वास्थ्य केंद्र में रखने लगे जब इसका विरोध होने लगा सूचना पर पहुँची पुलिस ने स्वास्थ्य केंद्र में कैद पशुओं को मुक्त करा दिया।

इसे भी पढ़े   ग्रीन ग्रुप की महिलाओं को दिया गया जूडो कराटे का प्रशिक्षण

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More