चिकित्सा व शिक्षा विभाग अपने कार्यों में लाएं सुधार: डा. अनिल कुमार

जनहित से जुड़े निर्माण कार्यो को शीघ्र पूरा कर करें हैण्डओवर 

Advertisement

फैजाबाद। जिलाधिकारी डा0 अनिल कुमार ने विकास, निर्माण, चिकित्सा व वन आदि विभागो की मासिक समीक्षा के दौरान कड़े निर्देश देते हुये कहा कि आम जनता की सुविधा से जुड़े विकास कार्य जिनका निर्माण कार्य 75 प्रतिशत से अधिक हो गया है उन्हें शीघ्र पूरा कर सम्बन्धित विभागो को हैण्डओवर करें, अन्यथा उनके विरूद्ध सख्त कार्यवाही की जायेगी, इसके साथ ही जिस भी विभाग का निर्माण कार्य हो वो भी अपने से सम्बन्धित निर्माण कार्यो का निरीक्षण कर उसकी गुणवत्ता परखें व उन्हें इसकी रिर्पोट दें। उन्होनें सख्त निर्देश देते हुये कहा कि बैठक में वरिष्ठ अधिकारी ही पूर्ण सूचना के साथ आये यदि अपरिहार्य कारणों से वे बैठक में नही आ पा रहे तो वो ही अधीनस्थ अधिकारी बैठक में आये जो योजना की कार्यप्रगति की पूरी जानकारी दें सके।
जिलाधिकारी डा0 कुमार ने कहा कि चिकित्सा व शिक्षा विभाग का स्टाफ समय से चिकित्सालयों व विद्यालयों में उपस्थित नही होते है शीघ्र ही किसी भी दिन वृहद स्तर पर किसी भी ब्लाक या तहसील के अन्तर्गत आने वाले चिकित्सालयों, विद्यालयों व अन्य कार्यालय तथा स्टाफ की मौजूदगी का आकस्मिक निरीक्षण कराया जायेगा तथा मौके पर अनुपस्थित पाये गये अधिकारी/कर्मचारी के विरूद्ध सख्त कार्यवाही की जायेगी। इसके साथ विद्यालयों में यथाशीघ्र पाठ्य पुस्तकों व फर्नीचर आपूर्ति का सत्यापन कर रिर्पोट प्रेषित करें। उन्होनें सभी कस्तूरबा गांधी या अन्य किसी भवन की छत टपक रही तो इसका यथाशीघ्र सत्यापन कर इसके कारणो की रिर्पाेट सोमवार को दे और इसे कार्यदायी संस्था ठीक करायें व सभी विभाग वर्षा ऋतु को देखते हुये अपने भवन की छत की सफाई व मरम्मत कराये जिससे छोटे-मोटे कारणों से छतों से पानी न टपके, जिलाधिकारी ने चेतावनी देते हुये कहा कि वे इस कार्य की क्रास चेकिंग भी करायें सभी निरीक्षणकर्ता अपने द्वारा निरीक्षण किये गये भवनों की मोबाइल से फोटो भी खींचकर उपलब्ध करायेगें। इसके सहित बिजली आपूर्ति व खराब ट्रांसफार्मररो को बदलने की स्थिति में भी सुधार लाया जाये।
बैठक में मुख्य विकास अधिकारी अक्षय त्रिपाठी, डीएफओ डा0 रवि सिंह, सीएमओ डा0 एके गुप्ता, पीडी डीआरडीए एके मिश्र, डीडीओ हवलदार सिंह, अर्थ संख्या अधिकारी सर्वेश मोहन, जिला पूर्ति अधिकारी शोभनाथ यादव, उप निदेशक कृषि सै0 बदरे आलम सहित अन्य अधिकारीगण उपस्थित थे।