The news is by your side.

बीपीएड् डिग्री धारकों ने रक्तदान कर पुलवामा शहीदों को अर्पित की श्रद्धांजलि

कहा-योगी सरकार ने 32022 अनुदेशक भर्ती निरस्त कर हमें बेरोजगार करने का काम किया

अयोध्या। मेजर ध्यानचंद खेल उत्थान समिति के तत्वावधान में जिले के बी0पी0एड्0 डिग्री धारकों ने जिला चिकित्सालय में पुलवामा में शहीद सैनिकों को श्रृद्धांजलि स्वरूप रक्तदान कर श्रृद्धा सुमन अर्पित किया। जिसकी अध्यक्षता अशफाक उल्लाह खां मेमोरियल शहीद शोध संस्थान के प्रबन्ध निदेशक सूर्यकान्त पाण्डेय व संचालन महिला सेना की अध्यक्षा भारती सिंह ने किया।
अपने सम्बोधन मेजर ध्यानचंद रक्त सहायता कोष के संस्थापक आकाश गुप्त ने भारत सरकार से पाकिस्तान के खिलाफ कड़ी कार्यवाही व उसको शत्रु देश, जम्मू-कश्मीर से धारा-370 को समाप्त करने व शहीदों के परिजनों को एक-एक करोड़ रूपये व परिवार के एक सदस्य को सम्मानजनक सरकारी नौकरी देने की मांग किया।
जिलाध्यक्ष हौसिला प्रसाद यादव ने कहा कि प्रदेश के बीपीएड डिग्री धारक बिना वेतन के फौज में जाने के लिए तैयार है। भारत सरकार सेना में हमारी नियुक्ति करके युद्ध के लिए हमें सीमा पर भेजे, जिससे हम देश की सुरक्षा कर भारत माँ की सेवा कर सकें। महिला जिलाध्यक्ष कविता मौर्या ने कहा कि सैनिक बार्डर पर खून बहाकर देश की हिफाजत करते हैं उन्हीं से प्रेरणा लेकर हम सब रक्तदान कर असहाय, लाचार व बेबश लोगों की मद्द कर समाज सेवा कर रहे हैं। जिला महासचिव विजय वर्मा ने कहा कि योगी सरकार ने 32022 अनुदेशक भर्ती प्रक्रिया को निरस्त कर हमें बेरोजगार करने का काम किया है, जिससे आहत होकर हम सब सीमा पर आत्मघाती दस्ते के रूप में देश की सेवा के लिए तत्पर हैं। इस मौके पर 20 लोगों ने रक्तदान के लिए पंजीकरण कराया था जिसमें केवल 11 लोग ही रक्तदान के योग्य पाये गये जिसमें बैडमिंटन कोच रमेश यादव, उपप्रधानाचार्य शिवज्योति मिश्रा, समाजसेवी राजेश चौबे, शिक्षक अजय गुप्ता, राज गुप्ता, मो0 शकीब, राजबली यादव, शशांक पाण्डेय, राहुल सिंह, जियालाल, सुनील चौधरी, कविता मोर्या, अजय सिंह आदि लोगों ने रक्तदान कर अपना विचार व्यक्त किया।

Advertisements
Advertisements

Comments are closed.