नाकामियों को छुपाने के लिए देश का माहौल खराब कर रही भाजपा: आनन्दसेन

गठबंधन प्रत्याशी ने मतगणना अभिकर्ताओ के साथ की बैठक

अयोध्या। लोकतंत्र के इस चुनावी पर्व पर पश्चिम बंगाल के कोलकाता में हुई घटनाओं ने देश को शर्मसार किया है अपनी नाकामियों व विफलताओं को छुपाने के लिए भाजपा ने देश का माहौल खराब करने के लिए कोलकाता में हिंसा फैलाई। यह बातें गठबंधन के प्रत्याशी आनन्दसेन यादव ने शहीद भवन पर कहीं। श्री सेन मतगणना में बनाए जाने वाले मतगणना अभिकर्ताओ की बैठक को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि चुनाव आयोग केंद्र के इशारे पर पश्चिम बंगाल में एक दिन पहले ही प्रचार पर रोक लगा दी। प्रचार पर रोक लगाना संसदीय लोकतंत्र के इतिहास का काला अध्याय है। उन्होंने कहा कि केंद्र की भाजपा सरकार ने देश की संवैधानिक संस्थाओं को कमजोर किया है। भोपाल से भाजपा उम्मीदवार साध्वी प्रज्ञा ठाकुर द्वारा राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे को देशभक्त बताने पर एतराज करते हुए श्री सेन ने कहा कि भाजपा को इस बयान पर माफी मांगनी चाहिए। सपा प्रवक्ता ओम प्रकाश ओमी ने कहा कि गोडसे को सच्चा देशभक्त कहकर साध्वी प्रज्ञा ठाकुर ने पूरे राष्ट्र को शर्मिंदा किया है। बीकापुर विधानसभा के अध्यक्ष कृष्ण कुमार पटेल ने कहा कि पश्चिम बंगाल में मतदाताओं को सांप्रदायिक आधार पर बांटने की भाजपा ने बड़ी योजना बनाई थी जो पूरी तरह से विफल हो गई। पार्टी प्रवक्ता ओमी ने बताया कि बैठक में सहकारी गन्ना समिति के पूर्व चेयरमैन सुरेंद्र यादव, दरियाबाद के पूर्व ब्लाक प्रमुख संतोष वर्मा, अनिल यादव बबलू, प्रधान अखिलेश वर्मा, प्रधान उमेश वर्मा, युवजन सभा के प्रदेश सचिव जय सिंह यादव, जयप्रकाश यादव, छात्र संघ के पूर्व अध्यक्ष अमर बहादुर यादव, आनंद सिंह मिंटू, दयाराम यादव, बाल गोविंद वर्मा, शिवनाथ वर्मा, रामकिशोर वर्मा आदि मौजूद थे। प्रवक्ता ने बताया कि बैठक के अंत में लोकसभा चुनाव के प्रभारी व पूर्व मंत्री राममूर्ति वर्मा की 60 वर्षीय भाभी मालती वर्मा के निधन पर शोक प्रकट किया गया।

Facebook Comments
इसे भी पढ़े  बुलेट न मिलने पर लडके ने शादी करने से किया मना