in

भारतीय नववर्ष के बहाने ‘भगवा’ को सुर्ख करने की तैयारी

सरयू तट पर अर्ध के साथ होगें विविध आयोजन

अयोध्या। सियासी माहौल में भारतीय नव वर्ष के बहाने भगवा को शुरू करने की तैयारी है। अयोध्या में सूर्योदय पर सरयू तट पर मंगल वेशभूषाधारियों की ओर से में अर्ध के साथ विभिन्न सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित होंगे। हिंदू नव वर्ष 6 अप्रैल को अयोध्या से पूरे देश में भारतीय संस्कृति और पुरातन विरासत का संदेश दिया जाएगा। इसको लेकर तैयारियां शुरू हो गई है।
बुधवार को आयोजित पत्रकार वार्ता में नववर्ष चेतना समिति अयोध्या के संरक्षक मं. गिरीश पति त्रिपाठी ने कहा कि प्राचीनतम राष्ट्र भारत ने नव प्रभात के साथ काल गणना का भी श्रीगणेश किया। चैत्र शुक्ल प्रतिपदा सृष्टि के प्रारंभ दिन का साक्षी बना। वैज्ञानिकता की कसौटी पर खरी उतर चुके भारतीय कालगणना आधारित नववर्ष को पाश्चात्य सभ्यता और संस्कृत के अनुसरण में गौण कर दिया गया। नव चेतना समिति फिर से भारतीय नव वर्ष को उसके पुरातन रूप में पतिस्थापित करने के लिए कटिबद्ध है।
उन्होंने कहा कि भारत सृष्टि के प्रारंभ काल से ही संपूर्ण विश्व का मार्गदर्शन करने में सक्षम रहा, परन्तु कालचक्र के थपेड़ों में भारत की श्रेष्ठता, प्राचीन गौरव, संस्कृति एवं संस्कारो की चमक धूमिल हो गई। हमें भारत को ज्ञान विज्ञान के साथ पुनः उसी गौरव एवं प्रतिष्ठा के साथ विश्वगुरु के सिंहासन पर आरुढ़ करने के लिये संकल्पित होना होगा। चैत्र शुक्ल प्रतिपदा 6 अप्रैल शनिवार की भोर सरयू आरती घाट पर उदीयमान सूर्य को अर्ध्य के साथ शुरू होने वाले कार्यक्रमों का सिलसिला सायं डा राम मनोहर लोहिया अवध विश्वविद्यालय के विवेकानंद सभागार में संगोष्ठी एवं सांस्कृतिक संध्या के आयोजन तक जारी रहेगा। पूरे जनपद में जगह जगह कार्यक्रम का आयोजन भी किया जाएगा। भगवा पताका,दीपदान,सूर्य को अघ्र्य, मंदिर चैराहों पर तिलक लगाकर नव वर्ष अभिनंदन, होल्डिंग बैनर एवं विभिन्न प्रकार के आयोजन से भारतीय नववर्ष का स्वागत किया जाएगा। उन्होंने अपील की कि इस दिन हम अपने इष्ट मित्रों, परिवारजनो एवं शुभचिंतकों को नववर्ष की शुभकामनायें देकर भारतीय नववर्ष का स्वागत करें। राम जन्म भूमि न्यास अध्यक्ष महंत नृत्य गोपाल दास,अधिकारी महंत राजकुमार दास, महंत राम दास, योगाचार्य डॉ चैतन्य, डा अनिल मिश्रा, कुलपति आचार्य मनोज दीक्षित, सासंद लल्लू सिंह, विधायक वेदप्रकाश गुप्ता, मेयर ऋषिकेश उपाध्याय के संरक्षण मे गठित आयोजन समिति में डा जीसी पाठक, सौमित्र मिश्र, डा सुरभि पाल, अशोक टाटम्बरी समेत अन्य को रखा गया है।

What do you think?

Written by Next Khabar Team

ट्रक की टक्कर से बाइक सवार की मौत, आटो के उड़े परखच्चे, 3 गंभीर

रौनाही पुलिस ने पकड़ा 22 गोवंशीय पशु