संचारी रोग नियंत्रण अभियान की दस्तक दे किया जा रहा जागरूक

जनपद में 47 डेंगू के रोगी किये गये चिन्हित

अयोध्या। संचारी रोगों पर प्रभावी नियंत्रण के लिए जनपद में पूरे अक्टूबर माह स्वास्थ्य विभाग की तरफ से विशेष अभियान चलाया जा रहा है, इसके अन्तर्गत संचारी रोगों व दिमागी बुखार पर नियंत्रण के लिए जन-जागरूकता कार्यक्रम पर बल दिया जा रहा है। जनपद में जागरूकता के लिए एक से 15 अक्टूबर तक चलाये गए दस्तक अभियान के तहत स्वास्थ्य विभाग की टीम व आशा कार्यकर्ता ने घर-घर जा कर 342517 लोगों को संचारी रोगों व संक्रामक बीमारियों के बचाव के बारे में जानकारी दी और बचाव के लिए आवश्यक कदम उठाने हेतु प्रेरित किया। जिला मलेरिया अधिकारी एम् ए खान ने बताया कि संचारी रोग नियंत्रण अभियान में कई विभाग मिल कर कार्य कर रहे हैं ,इसमें दस्तक अभियान के अन्तर्गत 1 से 15 अक्टूबर तक कोविड-19 प्रोटोकाल का पालन करते हुए स्वास्थ्य विभाग की टीम व आशा कार्यकर्ताओं ने बुखार के 731खांसी के 553 और सांस के 193 पीड़ितों को चिन्हित किया द्य जनपद अयोध्या में अब तक 47 डेंगू के रोगी चिन्हित किये गए है जिनके विरुद्ध निरोधात्मक कार्यवाही मलेरिया विभाग और फाइलेरिया विभाग की यूनिट द्वारा कार्यवाही की जा रही है।
लोगों को संचारी रोगों से बचाव और रोकथाम पर जानकारी देते हुए घर के आसपास साफ-सफाई रखने, जलभराव को रोकने और मच्छर पनपने की अनुकूल स्थितियों के बारे में बताते हुए बीमारी की रोकथाम के साथ ही कोविड-19 से बचाव और रोकथाम के लिए सामाजिक दूरी का पालन, साबुन और पानी से हाथ धुलना और मास्क के इस्तेमाल पर भी जागरूक और प्रेरित किया। उन्होंने बताया कि 15 दिनों में 1811 मातृ बैठकें की गई । इस दौरान ग्राम स्वास्थ्य एवं पोषण दिवस (वी.एच.एन.डी.) के 1149 सत्र संचालित हुए जहाँ सभी को संचारी रोगों और कोरोना के प्रति जागरूक किया गया,स्वास्थ्य विभाग की टीम और आशा कार्यकर्ताओं के माध्यम से 851 क्लोरीनेशन डेमो किये गए।
उन्होने ने बताया कि वी.एच.एन.डी. के माध्यम से संचारी रोग और दिमागी बुखार से रोकथाम हेतु ‘क्या करें क्या न करें,का सघन प्रचार-प्रसार, पशुपालन विभाग द्वारा सूकर पालन और पशु पालन स्थलों पर विशेष रूप से कीटनाशक छिड़काव व साफ-सफाई पर जागरूक किया जा रहा है। यह अभियान 31 अक्टूबर तक चलाया जायेगा । उन्होने बताया कि पंचायती राज विभाग द्वारा ग्राम स्तर साफ-सफाई, हाथ धोना, शौचालय की सफाई तथा घर से जल निकासी हेतु जनजागरण के लिये लोगों को जागरूक किया जाये, ग्राम प्रधान ग्राम स्तर पर इसके नोडल अधिकारी होगें। पंचायती राज विभाग द्वारा जलाशयों एवं नालियों की नियमित सफाई, ग्रामीण क्षेत्रों में मनरेगा फण्ड से एण्टीलार्वल छिड़काव की व्यवस्था, अपशिष्ट/रूके हुये पानी तथा मच्छरों के प्रजनन की समस्याओं को रोकने के लिये गढ्डों का भराव तथा मकानों के बीच कंकरीट अथवा पक्की ईंटों वाली सड़कों का निर्माण, झाड़ियों की कांट-छाट आदि के कार्य किये जायेगें। अतः सभी जनपदवासी स्वच्छता पर विशेष ध्यान दें, अपने घरों के साथ-साथ आसपास के स्थानों को साफ-सुथरा रखें, कहीं पर भी पानी इकट्ठा न होने दें और सरकार द्वारा चलाए जा रहे द्य संचारी रोग नियंत्रण अभियान के अंतर्गत किए जा रहे कार्यों में सहयोग करें ।

इसे भी पढ़े  कुल्हाड़ी से हमलाकर चचेरे भाई ने किया मरणासन्न, लखनऊ रेफर

 

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More