The news is by your side.

अयोध्या महोत्सव के उद्घाटन में नहीं पहुंचे डिप्टी सीएम डाॅ. दिनेश शर्मा

  • सत्ता दल के आगे अधिकारी और उच्च न्यायालय का आदेश बौना साबित
  • दबाव में जिला विद्यालय निरीक्षक ने जीआईसी खेल ग्राउंड महोत्सव के लिए आवंटित किया
  • अयोध्या महोत्सव का महंत कमलनयन दास ने औपचारिक उद्घाटन किया

न्यायालय की रोंक के बावजूद जीआईसी मैदान में किया गया अयोध्या महोत्सव का उद्घाटन

अयोध्या। राजकीय इण्टर कालेज परिसर में  उच्च न्यायालय के रोक के बाद भी सत्ता दल के इशारे पर अयोध्या महोत्सव का महंत कमलनयन दास ने औपचारिक उद्घाटन किया। सत्ता दल के आगे अधिकारी और उच्च न्यायालय का आदेश बौना साबित हुआ। महोत्सव के आयोजक हरीश श्रीवास्तव और मुख्य संरक्षक भाजपा नगर विधायक वेद प्रकाश गुप्ता के दबाव में जिला विद्यालय निरीक्षक ने जीआईसी का खेल ग्राउंड महोत्सव के लिए आवंटित कर दिया था जिसका विरोध वरिष्ठ अधिवक्ता नाथ बख्श सिंह सहित समाज के बहुत से लोग कई बरसो से कर रहे थे और उच्च न्यायालय के आदेश का हवाला देते हुए पत्र देकर उपरोक्त खेल ग्राउंड को अयोध्या महोत्सव के नाम पर व्यवसाय करके खुली लूट करने के लिए न देने का लिखित रूप में विरोध किया था। जिसे ताक पर रखकर अधिकारियों ने सत्ता दल के दबाव में जीआईसी के खेल ग्राउंड में कार्यक्रम करने की अनुमति  देने की मौखिक जानकारी दिया था। उच्च न्यायालय के विजेंद्र कुमार द्विवेदी के रिट में हुए आदेश के बाद आयोजन पर ग्रहण लग गया और कार्यक्रम का उद्घाटन करने आ रहे आनन-फानन में प्रदेश सरकार के डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा ने अपना  कार्यक्रम निरस्त करा दिया। इस तरह से आयोजक अब पूरी तरह से उच्च न्यायालय के आदेश की अवमानना में फस गए हैं उधर आदेश आते ही जिलाधिकारी ने वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक को उपरोक्त कार्यक्रम रोकने का पत्र नगर कोतवाल को जारी कर दिया है।

Advertisements
अयोध्या महोत्सव का उद्घाटन

ग्रामीण परिवेश की परम्पराएं, संस्कृति और जीवन शैली की झलक

फिलहाल ग्रामीण परिवेश की परम्पराएं, संस्कृति और जीवन शैली की झलक जीआईसी में आयोजित अयोध्या महोत्सव में दिखी। दुरदुरिया पूजन के दौरान महिलाओं के द्वारा प्रस्तुत धार्मिक गीतों के स्वर ने माहौल को भक्तिमय कर दिया। करीब 2100 मातृशक्तियों ने पूजन में हिस्सा लिया। पूजन के उपरान्त मणिरामदास छावनी के उत्तराधिकारी महंत कमलनयनदास ने दीप प्रज्जवलन करके अयोध्या महोत्सव का उद्घाटन किया। उद्घाटन सत्र में महापौर ऋषिकेश उपाध्याय, विधायकों में वेद प्रकाश गुप्ता, रामचन्दर यादव, आयोजन समिति के अध्यक्ष हरीश श्रीवास्तव, कृष्णकुमार पाण्डेय खुन्नू, रमेश सिंह, अभिषेक मिश्रा, आदित्य नारायन मिश्रा ने मुख्य अतिथि का स्मृति चिन्ह भेंट करके स्वागत किया।

इसे भी पढ़े  अवध विवि में योग की शपथ के साथ विश्व रिकार्ड बनाने की तैयारी


फैजाबाद महोत्सव का अयोध्या महोत्सव में परिवर्तन से हमारी भावनाएं मजबूत हुई : वेद

विधायक वेद प्रकाश गुप्ता ने कहा कि महोत्सव के उद्घाटन सत्र में आयोजित दुरदुरिया कार्यक्रम में माताओं व बहनों की उपस्थिति ने आयोजन को महत्वपूर्ण बना दिया। अयोध्या महोत्सव द्वारा भारतीय संस्कृति का दर्शन कराने का प्रयास किया गया। पिछली बार आयोजित फैजाबाद महोत्सव का अयोध्या महोत्सव में परिवर्तन से हमारी भावनाएं मजबूत हुई है। महोत्सव मंे प्रतिभाओं को मंच प्रदान किया जाता है। संस्कृति विभाग ने महोत्सव को मान्यता प्रदान की है। आयोजनों के माध्यम से अयोध्या को विश्व पयर्टन के मानचित्र पर लाने का प्रयास किया गया है। इस अवसर पर समिति के महासचिव चन्द्र प्रकाश गुप्ता, आकाश अग्रवाल, उपाध्यक्ष जयशंकर श्रीवास्तव, कृष्ण कुमार पाण्डेय खुन्नू, अमल गुप्ता, विष्णु प्रकाश व सचिव नाहिद, डा गोपाल नंदन, रागिनी सिंह, अंकित सिंह, जयांश श्रीवास्तव ने कार्यक्रम को सफल बनाने में विशेष योगदान दिया। मौके पर पूर्व विधायक रामू प्रियदर्शी, मथुरा तिवारी, सहकारी बैंक के सभापित धमेन्द्र प्रताप सिंह टिल्लू, आदित्य मिश्रा, अभिषेक मिश्रा, मुन्ना सिंह, गिरीश पाण्डेय डिप्पुल, सुप्रीत कपूर, सुधीर नारायन श्रीवास्तव, शैलेन्द्र मोहन मिश्रा छोटे, परमानंद मिश्रा, तिलकराम मौर्या, हरभजन गौड़, दिवाकर सिंह, ज्ञान केसरवानी, स्मृता तिवारी, ब्रहमानंद शुक्ला, देवेन्द्र मिश्रा दीपू, इत्यादि मौजूद रहे।

Advertisements

Comments are closed.