The news is by your side.

संचारी रोग नियंत्रण में घर घर दस्तक देंगी आशा आंगनबाड़ी

-31 जुलाई तक चलेगा विशेष संचारी रोग नियंत्रणअभियान

अयोध्या। विशेष संचारी रोग नियंत्रण अभियान के तहत घर घर मरीजों की खोज होगी। हर घर में आशा औऱ आंगनबाड़ी कार्यकर्ता दस्तक देंगी। 12 जुलाई से जनपद में शुरू हुए अभियान में बुखार, आईएलआई, टीबी, कुपोषण, फाइलेरिया -डिफारमिटी इत्यादि मौसमी बीमारियों पर फोकस रहेगा। मंगलवार को सीएमओ डा घनश्याम सिंह ने बताया कि जनपद में 01 से 31 जुलाई 2021 तक विशेष संचारी रोग नियन्त्रण अभियान का संचालन किया जा रहा है।

Advertisements

ग्राम प्रधानों के सहयोग से गांवोंमें एवं नगर पंचायतों, नगर पालिका परिषद के सहयोग से शहरी क्षेत्रों में साफ-सफाई के प्रति लोगों को जागरूक किया जा रहा है। लोगों को कोरोना से बचाव को मास्क के प्रयोग, हैडवाशिंग तकनीक एवं सोशल डिस्टैंसिंग का प्रयोग करने के लिए विभाग की तरफ से प्रेरित किया जा रहा है। इस क्रम में जिला मलेरिया अधिकारी एमए खान ने बताया कि अभियान के अन्तर्गत 12 से 25 जुलाई 2021 तक दस्तक अभियान शुरू हो चुका है।

जिसमें आशा व आगनबाडी कार्यकत्री (फ्रंट लाइन वर्कर्स) की मुख्य जिम्मेदारी निभाएंगी। प्रशिक्षित फ्रंट लाइन वर्कर्स घर-घर भ्रमण कर विभिन्न रोगों के नियन्त्रण एवं उपचार की जानकारी प्रदान करने के लिए प्रचार-प्रसार एवं व्यवहार परिवर्तन गतिविधियाॅ संचालित करेंगें। इसके साथ ही आशा एवं आगनबडी कार्यकत्री इस अभियान के अन्तर्गत कुपोषित बच्चों तथा विभिन्न रोगों के लक्षण युक्त व्यक्तियों का चिन्हीकरण कर सूचीबद्व करेंगी। उन्हें मुख्य रूप से बुखार, इंफ्लुएंजा लाइक इलनेस, टीबी, कुपोषित बच्चों पर फोकस करना है। विश्व स्वास्थ्य संगठन व जनपद मुख्यालय पर राज्य स्तर के अधिकारी कार्यो को परखेगें। जिलें में 11 ब्लाॅकों एवं नगरीय क्षेत्र में आशा व आगनबाडी की ड्यूटी लगायी गयी है जो घर-घर जा कर लोगों को बीमारियों के प्रति जागरूक करेगी तथा सम्भावित मरीजों की सूची तैयार कर विभाग को सौपेगी।

इसे भी पढ़े  संविधान संशोधन की बात कहकर बाबा साहब का अपमान कर रहे बीजेपी के लोग : के.एच. मुनियप्पा

अभियान के दौरान मिलने वाले मरीजों को सम्बन्धित चिकित्सक से उचित उपचार उपलब्ध कराया जायेगा। कुपोषित मिलने वाले बच्चों की सूची बाल विकास एवं पुष्टाहार विभाग को सौपी जाएगी जिनके माध्यम से बच्चों को पोषण पुर्नावास केन्द्र भेजा जा सके। इसी तरह टीबी के मरीजों की सूची क्षय रोग विभाग को भेजी जायेगी।

कार्यक्रम के तहत सीडीओ ने संचारी रोग एवं दस्तक अभियान के प्रचार-प्रसार वाहन को झन्डी दिखा कर रवाना किया। बताया कि प्रत्येक ब्लाॅक एवं अर्बन के क्षेत्रों में उक्त प्रचार वाहन के द्वारा संचारी रोग से बचाव हेतु जागरूक किया जायेगा। इस दौरान डॉ. आरके सक्सेना, डा दुष्यंत सिंह, एमए खान, बीपी सिंह, संतोष कुमार तिवारी एवं राजेश कुमार आदि लोग उपस्थिति रहे।

Advertisements

Comments are closed.