The news is by your side.

अवध विवि में 02 मई तक समस्त शैक्षणिक कार्य रहेंगे बन्द

– कोरोना के बढ़ते संक्रमण को लेकर कुलपति ने की बैठक

अयोध्या। डॉ० राममनोहर लोहिया अवध विश्वविद्यालय के संत कबीर सभागार में आज 14 अप्रैल, 2021 को अपराह्न 3ः30 बजे कोविड-19 के बढ़ते संक्रमण के दृष्टिगत विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो0 रविशंकर सिंह की अध्यक्षता में एक आपात बैठक की गई। बैठक में कुलपति ने अधिष्ठाता छात्र कल्याण, संकायाध्यक्ष, कुलानुशासक, विभागाध्यक्षों, निदेशकों, समन्वयकों, वार्डन छात्रावासों, अधीक्षक छात्रावासों, वित्त अधिकारी, कुलसचिव, उपकुलसचिव, सहायक कुलसचिव, प्रोग्रामर, चिकित्साधिकारी (एलेपैथी व होम्योपैथी) के साथ विश्वविद्यालय के शैक्षणिक तथा प्रशासनिक गतिविधियों को वर्तमान कोविड-19 के बढ़ते संक्रमण को ध्यान में रखते हुए संचालित किये जाने पर विचार-विमर्श किया।

Advertisements

बैठक में कुलपति प्रो0 सिंह ने बताया कि कोविड-19 के तेजी के साथ बढ़ रहे संक्रमण को ध्यान में रखते हुए 16 अप्रैल, 2021 से 02 मई, 2021 तक विश्वविद्यालय परिसर में समस्त शैक्षणिक कार्य भौतिक रूप से बन्द रहेंगे। इस अवधि में सिर्फ ऑनलाइन माध्यम से ही पठन-पाठन का कार्य संचालित किया जायेगा। विश्वविद्यालय के समस्त शैक्षणिक गतिविधियां ऑनलाइन मोड में संचालित की जायेंगी। समस्त शिक्षकगण, विभागाध्यक्ष एवं समन्वयक द्वारा निर्धारित की गई समय-सारणी के अनुसार ऑनलाइन कक्षायें ली जायेगी। किसी भी शिक्षक एवं अधिकारी को बिना अनुमति के मुख्यालय से बाहर जाने की अनुमति प्रदान नहीं होगी। अपरिहार्य परिस्थितियों में अनुमति प्राप्त करने उपरांत ही मुख्यालय छोड़ सकेंगे।

बैठक में कुलपति ने बताया कि विश्वविद्यालय के समस्त अधिकारी इस अवधि में कार्यालय में उपस्थिति रहेंगे तथा अपने कार्यालय के कार्यों को सम्पादित करने के लिए कोरोना प्रोटोकॉल का अनुपालन करते हुए सुनिश्चित करेंगे। बैठक में कुलपति प्रो0 रविशंकर सिंह ने बताया कि विश्वविद्यालय के हॉस्टल में रह रहे सभी छात्र-छात्राएं कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए 48 घण्टों के भीतर सुरक्षित अपने घरों को प्रस्थान कर जायें। इस सम्बन्ध में कुलपति ने बताया कि कुलानुशासक, समस्त छात्रावासों के वार्डन एवं अधीक्षक छात्रावासों में रहने वाले छात्र-छात्राओं की सुरक्षा सुनिश्चित करेंगे तथा प्रशासन को भी अवगत कराते रहेंगे। बैठक में कुलपति ने बताया कि विश्वविद्यालय से सम्बद्ध सभी महाविद्यालय के प्राचार्य अपने शिक्षकों, कर्मचारियों एवं छात्र-छात्राओं के साथ-साथ शैक्षणिक क्रिया कलापों के सम्बन्ध में उपरोक्त दिशा निर्देशों का पालन करेंगे और इस सन्दर्भ में अपने सम्बन्धित जिले के जिलाधिकारी को सूचित कर गाइडलाइन का अनुपालन करेंगे।

इसे भी पढ़े  सामान्य प्रेक्षक ने मतदान की तैयारियों का लिया जायजा

बैठक में कुलपति प्रो0 सिंह ने बताया कि इस अवधि में आवश्यक सेवायें जैसे विश्वविद्यालय प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र, विद्युत आपूर्ति, सुरक्षा व्यवस्था, स्वच्छकर्मी एवं माली कोविड प्रोटोकॉल का पालन करते हुए परिसर में उपस्थित रहे। बैठक में वित्त अधिकारी धनंजय सिंह, कुलसचिव उमानाथ, मुख्य नियंता प्रो0 अजय प्रताप सिंह, अधिष्ठाता छात्र-कल्याण प्रो0 नीलम पाठक, प्रो0 अशोक शुक्ल, प्रो0 चयन कुमार मिश्र, प्रो0 अनुपम श्रीवास्तव, प्रो0 एसएस मिश्र, प्रो0 के0के0 वर्मा, प्रो0 सिद्धार्थ शुक्ल, प्रो0 शैलेन्द्र कुमार, प्रो0 रमापति मिश्र, प्रो0 विनोद कुमार श्रीवास्तव, डॉ0 राजेश सिंह, डॉ0 अशोक कुमार राय, डॉ0 नीलम यादव, डॉ0 सुरेन्द्र मिश्र, उपकुलसचिव विनय कुमार सिंह, डॉ0 शैलेन्द्र सिंह, डॉ0 विजयेन्दु चतुर्वेदी, इं0 अनुराग सिंह, इं0 पीयूष राय, पल्लवी सोनी, प्रोग्रामर रवि मालवीय गिरीशचंद पंत उपस्थित रहे।

 

Advertisements

Comments are closed.