The news is by your side.

मोदहा रेलवे क्रासिंग ओवरब्रिज के विरोध में उतरे अधिवक्ता

-चौड़ीकरण में वकीलों और गरीबों का आशियाना उजड़ने से बचाने की मांग

अयोध्या। मोदहा रेलवे क्रासिंग पर बन रहे ओवरब्रिज की कनेक्टविटी कचहरी मार्ग पर किये जाने तथा परिक्रमा मार्ग चौड़ीकरण में वकीलों और गरीबों का आशियाना उजड़ने से बचाने की मांग को लेकर आक्रोशित अधिवक्ताओं ने शुक्रवार को बार एसोसिएशन के नेतृत्व में मोदहा चौराहे पर पहुंच धरना-प्रदर्शन और नारेबाजी की। स्थानीय निवासी और दुकानदार भी वकीलों के समर्थन में उतर आये और लोगों ने अपनी दुकाने बंद रखी। एसोसिएशन ने चेतवानी दी है कि रेलवे ओवरब्रिज के एलिवेशन को वाई शेप देकर कचहरी से कनेक्टविटी नहीं दी गई और गरीबों का आशियाना उजड़ने से रोका न गया तो ओवरब्रिज का निर्माण नहीं होने दिया जाएगा और सिटी मजिस्ट्रेट को सीएम के नाम संबोधित ज्ञापन सौंपा है। वकीलों के धरना-प्रदर्शन को लेकर चौराहे के चारों तरफ लंबा जाम लगा रहा और मौके पर भारी पुलिस फ़ोर्स तैनात रही।

Advertisements

बताते चलें कि शासन की ओर से मोदहा ओवरब्रिज का निर्माण कराया जा रहा है। साथ ही 14 कोसी परिक्रमा मार्ग का चौड़ीकरण कराया जा रहा है। हलांकि शासन-प्रशासन की ओर से कोई अधिकृत ले आउट नहीं जारी किया गया है। अधिवक्ताओं का कहना है कि रेलवे स्टेशन की तरफ से रेल ओवरब्रिज का एलिवेशन मोदहा चौराहे से 14 कोसी परिक्रमा मार्ग विकास प्राधिकरण की ओर कर दिया गया है, जिससे अधिवक्ताओं तथा अन्य को नाका, रामनगर आदि की ओर से कचहरी आने के लिए प्राधिकरण चौराहे से डीएम आवास की ओर से होते हुए कचेहरी आना-जाना होगा। इसी बात को लेकर आक्रोशित अधिवक्ताओं ने शुक्रवार को बार एसोसिएशन के नेतृत्व में मोदहा चौराहे पहुँच मंच लगा धरना-प्रदर्शन और नारेबाजी शुरू कर दी।

इसे भी पढ़े  श्री अध्यात्म शक्तिपीठ मुबारकगंज में कन्या पूजन संपन्न

ओवरब्रिज निर्माण व परिक्रमा मार्ग चौड़ीकरण की जद में आ रहे स्थानीय लोग और दुकान बंद कर दुकानदार भी समर्थन में आ गए। चौराहे पर सभा और धरना-प्रदर्शन को लेकर सभी दिशाओं में आवागमन बाधित हो गया और लंबा जाम लग गया। प्रदर्शन में एसोसिएशन के मंत्री एसएन सिंह, कोषाध्यक्ष विकास श्रीवास्तव, संयुक्त मंत्री प्रमोद पांडेय, पूर्व अध्यक्ष विजय बहादुर सिंह, संजीव दुबे, त्रिलोकी दुबे, सौरभ मिश्रा,दिनेश सिंह, आलोक खरे, जितेंद्र श्रीवास्तव, राम शंकर तिवारी, कप्तान सिंह, आद्या शंकर, आफ़ताब शेरू समेत अन्य अधिवक्ता शामिल रहे। बार एसोसिएशन अध्यक्ष कालिका प्रसाद मिश्रा का कहना है कि अयोध्या में रामराज्य के नाम पर जनता के सर पर कोदो दरा जा रहा है। रास्ता निर्माण के नाम पर लोगों को उजाड़ा और क्षेत्र से काटा जा रहा है।

आजादी के 100 साल पूर्व के भौगोलिक व्यवस्था में पूरी मशीनरी बड़े लोगों को बचाने और गरीबों व वकीलों को उजाड़ने तथा अलग-थलग करने में लगी है। अधिकारियों से मांग और शिकायत के बावजूद कोई सुनवाई नहीं हो रही और सेतु निगम के अधिकारी भी साफ़-साफ़ कुछ भी बताने से परहेज कर रहे हैं। निगम की कोशिश झांसा देकर मनमानी करने की है। बार एसोसिएशन इसको बर्दाश्त नहीं करेगा। मोदहा चौराहे की ओर रेल ओवरब्रिज का एलिवेशन वाई शेप में कर दो लेन मार्ग की कचहरी से कनेक्टविटी नहीं दी गई तो ऑवरब्रिज का निर्माण नहीं होने दिया जाएगा।

उन्होंने बताया कि पीएम, सीएम और प्रमुख सचिव का ध्यान आकृष्ट करने के लिए धरना-प्रदर्शन किया गया है। बार एसोसिएशन भावनाओं के मार्ग (परिक्रमा मार्ग) के निर्माण के नाम पर वकीलों व गरीबों को उजड़ने और बर्बाद नहीं देगा। ज्ञापन के माध्यम से मोदहा चौराहे से पश्चिम परिक्रमा मार्ग पर एक किमी तक खाली इलाके को भी समाहित किया जाय तथा वाई शेप में ओवरब्रिज का निर्माण फ़ाइनल होने तक परिक्रमा मार्ग से रामपथ व ओवरब्रिज का निर्माण स्थगित रखा जाय।

इसे भी पढ़े  प्रधान संघ के जिला महासचिव व कई ग्राम प्रधानों ने ग्रहण की भाजपा की सदस्यता

 

Advertisements

Comments are closed.