The news is by your side.

पूर्वांचल एक्सप्रेस वे पर हादसा : दो बसों में टक्कर, आठ लोगों की मौत

-बिहार से यात्रियों को लेकर दिल्ली जा रही थी दोनों बसें

बाराबंकी। जनपद के लोनी कटरा थाना क्षेत्र में पूर्वांचल एक्सप्रेस वे पर सोमवार की भोर दयाराम पुरवा गांव के पास पहले से किनारे खड़ी बस से पीछे से आ रही तेज रफ्तार वोल्वो बस टकरा गई। इस हादसे में 8 लोगों की मौत हुई है, जबकि 17 लोग गंभीर रूप से घायल हैं। घटना के बाद वहां हड़कंप मच गया। मौके पर पहुंचे तहसील व पुलिस प्रशासन ने घायलों व मृतकों को बसों से बाहर निकाला। घायलों को आनन-फानन सीएचसी हैदरगढ़ पहुंचाया गया। 12 घायलों की हालत गंभीर होने पर उन्हें जिला ट्रामा सेंटर रेफर किया गया है। मृतक और घायल में अधिकांश बिहार प्रांत के रहने वाले हैं। दोनों बसें बिहार से दिल्ली जा रही थी।

Advertisements

मृतकों में लदोरा कल्याणपुर जिला समस्तीपुर बिहार के ओम प्रकाश राय (33), शिवधारी (42) जिला मधुबनी बिहार, चितनारायण (75) कालापट्टी जिला मधुबनी बिहार व कमलेश कुमार (23) धीमा, थाना पिपरी जिला सीतामढ़ी बिहार की पहचान पुलिस ने की है।
ज्योति कुमारी (12) निवासी हरिहरपुर मधुबनी बिहार, संजू (9) निवासी हरिहरपुर मधुबनी बिहार, अर्जुन पासवान (40) कटरा थाना महेशी मोतिहारी बिहार, मदन मुखिया (31) निवासी परसौनी जनकपुरी रोड सीतामढ़ी, सुकाव (41) निवासी गंज रुधौली कमतौरा बिहार, सद्दाम (18) मधुबनी बिहार, श्याम (35) व शुभम (20) निवासी जनकपुरी रोड सीतामढ़ी बिहार, सविता देवी (45) निवासी जनवासा कटरा मुजफ्फरपुर बिहार, इरशाद (26) निवासी खुटौना मधुबनी बिहार, सनी कुमार (32) कटरा मोतिहारी बिहार, श्रवण कुमार (28) व विशाल (8) निवासी सीतामढ़ी बिहार समेत तीन दर्जन लोग गंभीर रूप से घायल हो गए हैं।

वहीं आधा दर्जन लोगों को गंभीर हालत में ट्रामा सेंटर लखनऊ रेफर किया गया है। पीछे से टक्कर मारने वाली बस का चालक परिचालक घटना के बाद से लापता है। एसपी मनोज कुमार पांडे ने मौके पर पहुंचकर हालात का जायजा लिया। बाकी चार मृतकों की शिनाख्त के प्रयास किए जा रहे हैं।

सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बाराबंकी के लोनी कटरा इलाके में हुई एक सड़क दुर्घटना में लोगों की मृत्यु पर गहरा शोक व्यक्त किया है। सीएम ने ट्वीट करते हुए लिखा कि पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे पर सड़क दुर्घटना में हुई जनहानि अत्यंत दुःखद है। संबंधित अधिकारियों को राहत व बचाव कार्य तेजी से संचालित करने और घायलों के समुचित उपचार हेतु निर्देश दिए गए हैं।

Advertisements

Comments are closed.