पॉजिटिव दृष्टिकोण अपनाकर ऋण स्वीकृत करें बैंकर्स : डॉ. अनिल कुमार

सलाहकार व पुनरीक्षण समिति की हुई बैठक, बैठक में गैरहाजिर अधिकारियों का डीएम ने रोंका वेतन

अयोध्या। जिला सलाहकार समिति एवं जिला स्तरीय पुनरीक्षण समिति की बैठक कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित की गई जिसकी अध्यक्षता करते हुए जिलाधिकारी डा0 अनिल कुमार पाठक ने कहा कि सरकारी योजनाओ के तहत उद्यमियो/व्यवसाय करने वाले के भेजे गये ऋण आवेदन पत्र पर बैंकर्स पॉजटिव दृष्टिकोण अपनाकार उन्हे ऋण स्वीकृत करें। ये बाते जिलाधिकारी ने मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना, एक जनपद एक उत्पाद योजना, पं0 दीनदयाल उपाध्याय स्वतः रोजगार योजना, राष्ट्रीय ग्रामीण व शहरी आजीविका मिशन योजनाओ के तहत बैंको को भेजे गये ऋण आवेदन पत्रो के समीक्षा के दौरान अत्यन्त खराब परफार्मेस पर कही। समीक्षा के दौरान खरीफ-18 के फसल बीमा योजना के अन्तगर्त बीमा की धनराशि 70 लाख रूपये, किसानो के आधार लिंक न होने के कारण बीमा कम्पनी से वापस आ जायेगी क्योकि आधार लिंक की अन्तिम तिथि 31 दिसम्बर है। उन्होंने कहा यह स्थिति ठीक नही है यह स्थिति तब है जबकि सरकार द्वारा 15 बैंको को आधार बनाने का कार्य सौपा गया है। उन्होंने कहा कि रबी के फसल हेतु आधार लिंक की अन्तिम तिथि 15 जनवरी है इस दौरान सभी बैंकर उन शाखाओ में आधार बनाने वाली यूनिट का कैम्प कराये जहॉ के किसानो का आधार लिंक होना है। इसे प्राथमिकता से ले। उन्होंने कहा कि अन्नदाता जो जाड़ा, गर्मी व बरसात में जब हम अपने घरो में रहते है तब वह अपने खेतो में फसल उगाता है ऐसे में चाहे किसान हो या सेना के जवान उनके कार्यो को प्राथमिकता पर पूरा कराये ताकि उनके सामने कोई समस्या न हो। इस अवसर पर भाजपा जिलाध्यक्ष अवधेश पाण्डेय उर्फ बादल ने कहा कि सरकार की योजनाओ में जो बैंक सहयोग करे उन्हें ए.बी.सी. श्रेणी में बॉटकर उन्ही बैंको में शासन की योजनाओं की धनराशि जमा कराई जाए। इस अवसर पर जिलाधिकारी ने बताया कि बैंको द्वारा इस वर्ष अब तक 3701 नये किसान क्रेडिट कार्ड जारी किये गये है तथा 15114 किसान क्रेडिट कार्ड पर 41012.00 लाख का फसली ऋण वितरित किया गये है। प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना अन्तगर्त रिलांयस बीमा कम्पनी द्वारा 49314 कृषको का बीमा किया जा चुका है बैंको द्वारा 29222 कृषको का बीमा पायस के अन्तगर्त कराया गया है, प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम के तहत 06 लक्ष्य के सापेक्ष 10 आवेदन पत्र बैंको को भेजे गये है जिसमें से 05 स्वीकृत कर 02 में ऋण वितरित किया गया है। मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना के अन्तगर्त बैंको को 164 लक्ष्य के सापेक्ष 157 प्रार्थना पत्र भेजे गये जिसमें मात्र 14 आवेदन पत्र स्वीकृत हुए है। एक जनपद एक उत्पाद योजना के अन्तगर्त 20 के सापेक्ष 60 प्रार्थना पत्र भेजे गये है। बैठक में शासन की योजनाओ के तहत बैंको को भेजे गये आवेदन पत्र की स्वीकृत ऋण की बैंकवार समीक्षा की गई। जिलाधिकारी ने बताया बैंको की वसूली 78 प्रतिशत है। बैठक में भाजपा जिलाध्यक्ष अवधेश पाण्डेय उर्फ बादल, मुख्य विकास विकास अधिकारी अभिशेक आनन्द, लीड बैंक मैनेजर जीके टण्डन, जिला विकास प्रबन्धन पीएल पोद्दार सहित सभी बैंको के उच्चाधिकारी उपस्थित थे। बैठक में जिला कृषि अधिकारी व उप निदेशक कृषि के उपस्थित न होने पर जिलाधिकारी डा0 अनिल कुमार ने दोनो अधिकारियो के एक दिन का वेतन रोकने के आदेश जारी करने हेतु मुख्य विकास अधिकारी को निर्देशित किया।

इसे भी पढ़े  संयम, सजगता की कमी से सुरक्षा प्रणाली में सेंध लगा पाता है एचआईवी : डॉ. उपेन्द्रमणि

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More