The news is by your side.

पंजाब नेशनल बैंक का का का 125 वां स्थापना दिवस

अयोध्या । पंजाब नैशनल बैंक के 125वें स्थापना होटल तारा जी रिजॉर्ट में बड़े धूमधाम से मनाया गया। कार्यक्रम की शुरुआत मुख्य अतिथि के रूप में आए जिलाधिकारी अनुज कुमार झा ने दीप प्रज्वलित करके शुभारंभ किया वहीं विशिष्ट अतिथि प्रोफेसर एस एन शुक्ला प्रति कुलपति, मुख्य विकास अधिकारी अभिषेक आनंद ,बैंक के मंडल प्रमुख रतन सिंह रोहिल ने लाला लाजपत राय की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर कार्यक्रम की गति प्रदान की।
स्थापना दिवस प्रारंभ होने के साथ ही डीआरएम पब्लिक स्कूल के छात्रों व बैंक के स्टाफ सदस्यों ने सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किया । इस दौरान मंडल प्रमुख रतन सिंह रोहिल ने बैंक में आए सभी सम्मानित नागरिक का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि यह बैंक पीएनबी भारत का पहला स्वदेशी बैंक है जिसकी स्थापना महान देशभक्त लाला लाजपतराय तथा अन्य महान विभूतियों के द्वारा 12 अप्रैल् 1895 को देश के विकास को गति देने के उद्देश्घ्य से किया था । पंजाब नैशनल बैंक देश का एक अग्रणी राष्ट्रीयकृत बैंक है और यह बैंक प्रारंभ से ही राष्ट्र के विकास के कार्यों में अपनी सहभागिता बड़ी ही तन्मयता से निभाता रहा है। प्रारम्भ में 20000 रूपये मात्र के कार्यशील पूंजी से इस बैंक की शुरुआत लाहौर से की गयी थी। भारत के आजादी के समय बर्ष 1947 में बैंक का मुख्यालय लाहौर से नई दिल्ली स्थानांतरित किया गया था । पीएनबी में अब तक आठ अन्य बैंकों का विलय हो चुका है । वर्ष 1969 में भारत सरकार ने 13 अन्य बैंकों के साथ पीएनबी का राष्ट्रीयकरण किया था । वर्तमान में पीएनबी देश का दूसरा सबसे बड़ा सरकारी क्षेत्र का बैंक है । वर्ष 2019 में पीएनबी को भारत सरकार ने म्।ैम् अजेंडा के अंतर्गत सर्वोत्तम बैंक के पुरस्कार से नवाजा है । पीएनबी वैकल्पिक डिलीवरी चैनलों अर्थात इंटरनेट बैंकिंग, एटीएम, मोबाइल बैंकिंग, चेक तथा कैश जमा मशीनों आदि के माध्यम से अपने ग्राहकों को अत्याधुनिक बैंकिंग सेवाएं प्रदान कर रहा है । वहीं समारोह खत्म के उपरांत कार्यक्रम प्रस्तुत करने वाले बच्चों व स्टाफ को पुरस्कार देकर बैंक प्रमुख रतन सिंह रोहिल ने सम्मानित किया। इस अवसर पर बैंक के दूर-दराज से आए सभी अधिकारी व कर्मचारी मौजूद रहे।

Advertisements
Advertisements

Comments are closed.