The news is by your side.

मंदिर निर्माण के लिए सुन्नी सोशल फोरम ने मांगा समर्थन

हिन्दू मुस्लिम पक्षकारों से मिलकर सौंपा समर्थन

अयोध्या। सुन्नी सोशल फोरम के पदाधिकारियों ने अयोध्या पहुंचकर हिन्दू-मुस्लिम पक्षकारों से मिलकर उन्हें राममन्दिर निर्माण के पक्ष में समर्थन सौंपा। बुधवार की शाम सुन्नी सोशल फोरम के लगभग तीन दर्जन सदस्य दिगम्बर अखाड़ा पहुंचे, जिनमें बड़ी संख्या में मुस्लिम महिलाएं भी शामिल रहीं। जहां फोरम के लोगों ने महन्त सुरेश दास को समर्थन पत्र सौंपा। समर्थन पत्र सौंपने के बाद सुन्नी सोशल फोरम के राष्ट्रीय संयोजक ठाकुर राजा रईस ने पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहाकि यह फोरम गैर सरकारी मुस्लिम संस्थाओं को एकत्रित कर, उनसे श्रीरामजन्मभूमि पर भव्य मन्दिर निर्माण के पक्ष में समर्थन पत्र लिया है। उस समर्थन पत्र को आज मन्दिर-मस्जिद मामले से जुड़े हुए हिन्दू-मुस्लिम पक्षकारों को सौंप दिया गया है। कुल मिलाकर हमारे पास ६५ समर्थन पत्र थे। जो गाजियाबाद, बरेली, शाहजहांपुर, उन्नाव, रायबरेली आदि जिलों से हमने एकत्रित किए थे। उनको आज दे दिया गया है। उन्होंने कहाकि देश का मुसलमान अब जान चुका है कि भगवान राम हमारे पैगम्बर हैं, नबी हैं। वह हमारे पूर्वज और हम उनके वंशज हैं यही सच है। श्रीराम, रामायण एकता का प्रतीक हैं। भगवान राम के वजूद पर हिन्दुस्तान को नाज है। पूरे देश में सुन्नी सोशल फोरम इस तरीके का अभियान चला रहा है। सत्य को स्वीकार करते हुए देश के मुसलमानों ने समर्थन दिया है। कलाम पाक के माध्यम से ही हम लोगों ने समर्थन पत्र एकत्रित किया है मैं इसी के माध्यम से बोल रहा हूं। जो राष्ट्र के लिए काम कर रहे हैं। उनके लिए राष्ट्र पहले है। विवादित स्थल पर नमाज कबूल ही नही हो सकती है। अयोध्या, काशी, मथुरा यह हिन्दूओं के प्रमुख स्थल हैं। देश का मुसलमान अब जागरूक हो रहा है। जल्द से जल्द श्रीरामजन्मभूमि पर रामलला के भव्य मंदिर का निर्माण हो। यही हम सबकी इच्छा है। वहीं दिगम्बर अखाड़ा के महन्त सुरेश दास ने कहाकि यह सुन्नी सोशल फोरम का सराहनीय कदम है। इसका हम सब स्वागत करते हैं कि ये लोग राममन्दिर निर्माण के पक्ष में खुलकर आगे आ रहे हैं। साथ ही मन्दिर के लिए अभियान चला रहे हैं जो काबिले तारीफ है।
इसके अलावा सुन्नी सोशल फोरम के लोगों ने श्रीरामजन्मभूमि न्यास अध्यक्ष महन्त नृत्यगोपाल दास, निर्मोही अखाड़ा महन्त दिनेन्द्र दास, रामसखा त्रिलोकी नाथ पाण्डेय, इकबाल अंसारी, हाजी महबूब से भी मिलकर उन्हें समर्थन सौंपा। इस अवसर पर मुख्य रूप से आरएसएस के वरिष्ठ प्रचारक इन्द्रेश जी के प्रतिनिधि के रूप में डॉ. अनिल सिंह, मो. वसी हैदर राष्ट्रीय सह संयोजक सुन्नी सोशल फोरम आदि उपस्थित रहे।

Advertisements
Advertisements

Comments are closed.