ज़ी म्यूजिक कंपनी के सांग चाल गज़ब है से हिट हुए एक्टर शिवम रॉय

जानिए एक्टर शिवम रॉय प्रभाकर के संघर्ष की कहानी

Advertisement

ब्यूरो। शिवम रॉय प्रभाकर, एक छोटे से शहर से निकलकर बॉलीवुड में अपनी पहचान बनाने वाले इस शख्स का जन्म उत्तर प्रदेश के एक छोटे से गांव में हुआ था। एक ऐसे परिवार में जन्मे जहाँ उनके दादाजी प्रधानाध्यापक, पिताजी अध्यापक अर्थात शिक्षा से जुड़े परिवार में जन्मे शिवम रॉय प्रभाकर के लिए थोड़ा कठिन था कि वह बॉलीवुड में जाकर अपना कैरियर बनाए, किन्तु बचपन से एक्टिंग के शौकीन शिवम रॉय प्रभाकर ने अपने 10वीं की परीक्षा में 94.5% अंक प्राप्त कर प्रदेश में 9वां तथा जनपद में प्रथम स्थान प्राप्त किया तो वह बॉलीवुड में जाने की चाह को अपने परिवार के समक्ष रख पाए जिसको उनके पिताजी ने स्वीकार किया। “शिवम रॉय प्रभाकर के पिताजी अध्यापक हैं। उनके दादा जी प्रधानाध्यापक पद से रिटायर्ड हुए हैं। उनका परिवार शिक्षा से जुड़ा रहा है। 
“एजुकेशन”उनकी प्रारंभिक शिक्षा उनके गाँव तथा जनपद एटा में हुई क्योंकि उनके पिताजी जनपद एटा में कार्यरत रहे तो उनका बचपन एटा में ही बीता। शिवम रॉय प्रभाकर  अपने दसवीं की परीक्षा में 95.4% अंक प्राप्त कर प्रदेश में 9वां तथा जनपद में प्रथम स्थान प्राप्त कर मुख्यमंत्री द्वारा पुरष्कृत भी हो चुके हैं। 12वीं की परीक्षा देकर मुम्बई चले जाने की वजह से उनकी एजुकेशन में समस्याएं आयीं जिसकी वजह से वह इग्नू (इंदिरा गांधी नेशनल ओपन यूनिवर्सिटी) से दूरस्थ शिक्षा (डिस्टेंस स्टडी ) प्रणाली के तहत स्टडी कर रहे हैं। 
“मात्र 11 वर्ष की आयु में ही दे दिया अपने एक्टर होने का सबूत”ज्ञातव्य है कि शिवम रॉय प्रभाकर बचपन से एक्टिंग के शौक़ीन थे और स्कूल स्टेज के माध्यम से वह अपनी एक्टिंग की कला से जुड़े रहे। स्कूल में एक बार प्ले करते हुए रामलीला कमिटी के अद्यक्ष ने देख लिया तो वह उनके पिताजी से घर जाकर बोलने लगे कि हमें इस बच्चे से रामलीला में भगवान श्री लक्ष्मण का रोल करवाना है, किन्तु पिताजी ने साफ इनकार कर दिया। जब शिवम को यह बात पता चली तो उन्होंने पिताजी को मना लिया और इस तरह स्कूल स्टेज के बाहर उन्होंने अपनी एक्टिंग रामलीला स्टेज पर दिखाई, जहाँ उन्होंने लक्ष्मण का रोल किया था, उस समय उनकी आयु मात्र 11 वर्ष थी। और इस आयु में उनके लक्ष्मण के किरदार को सभी ने बेहद पसंद किया था और वहाँ से उनको एक नया हौसला मिला।

इसे भी पढ़े  रक्तदान से बचती हैं कई जिंदगियां : अमर चौरसिया

रामलीला में लक्ष्मण का रोल करके लोगो से मिला हौसला

 बचपन से स्कूल प्लेज़ के द्वारा एक्टिंग के साथ जुड़े रहे शिवम रॉय प्रभाकर ने अपना पहला ऑडिशन आगरा के “शक्तिमान इंस्टिट्यूट ऑफ फ़िल्म एंड टेलीविज़न” में दिया था जहाँ उनका प्रथम स्थान आया था किंतु परीक्षा के चलते उन्हें वह मौका छोड़ना पड़ा।  रामलीला में लक्ष्मण का रोल करके लोगो से उनको हौसला मिला और उन्होंने आगे एक्टिंग को जारी रखा और उन्होंने अलीगढ़ रहकर दिल्ली में एक ड्रामा ग्रुप जॉइन किया जहां से उन्होंने एक्टिंग प्लेज़ करके एक्टिंग की बारीकियों को सीखा और थेटर करना स्टार्ट किया।  कुछ वर्ष बाद 12वीं की परीक्षा देकर मुम्बई चले गए, जहां उनके रहने का बंदोवस्त अंधेरी से 110 किलोमीटर दूर बोइसर में हुआ। वह बोइसर से डेली अंधेरी लोकल ट्रेन्स से जाया करते थे और फ़िल्म प्रोडूक्शन्स में जाकर ऑडिशन दिया करते थे। उन दिनों सलमान खान की फ़िल्म बजरंगी भाईजान का पोस्ट प्रोडक्शन लगभग कम्पलीट हो चुका था और शिवम रॉय प्रभाकर प्रोडकशन हाउस गए तो उन्हें उस फिल्म के लिए एक ऑनलाइन अतिरिक्त वर्क दिया गया और वह टीम का हिस्सा बने। कुछ समय बाद उनकी मुलाकात एक्टर, प्रोड्यूसर राजू रहिकवार से हुई, जिन्होंने सुपर नानी समेत कई फिल्मों में काम किया, राजू रहिकवार उन दिनों अपनी फिल्म “आमिर सलमान शाहरुख” के पोस्ट प्रोडक्शन पर वर्क कर रहे थे, शिवम रॉय प्रभाकर ने इस फ़िल्म के पोस्ट प्रोडक्शन में ऑनलाइन अतिरिक्त सहायता की  और फ़िल्म का हिस्सा बने। आमिर सलमान शाहरुख फ़िल्म के ट्रेलर को सुपरस्टार सलमान खान ने खुद अपने ट्विटर पर ट्वीट कर प्रमोशन किया।  उसके बाद शिवम ने  “द स्ट्रांग फेथ” नामक फ़िल्म का स्क्रीनप्ले किया जोकि एक उच्च स्तर पर स्क्रीन्ड हुई।  साथ ही एक फिल्म “कराटे कवच” में बतौर मुख्य अभिनेता काम किया है जिसका पोस्ट प्रोडक्शन चल रहा है और फ़िल्म सेंसर सर्टिफिकेट मिलते ही रिलीज होगी। 

इसे भी पढ़े  सड़क सुरक्षा सप्ताह का हुआ शुभारम्भ

दर्शकों द्वारा बेहद सराहा गया “चाल गज़ब है सांग”

देवनारायण प्रोडक्शन बैनर के तले “ज़ी म्यूजिक कंपनी” के साथ मिलकर एक एल्बम के लिए ऑडिशन चल रहा था, जहां 150 एक्टर्स में से देवनारायण प्रोडक्शन के डायरेक्टर सागर जोशी ने शिवम रॉय प्रभाकर को सेलेक्ट किया, और जिसमे उनके साथ अभिनेत्री जन्नत ज़ुबैर रहमानी को लिया गया।  एल्बम सांग को सिंगर पवनी  पांडेय और प्रिंस यादव ने गाया हुआ है, पवनी पांडेय ने शाहरुख खान की फ़िल्म रईस में ‘लैला ओ लैला’ सांग गाया हुआ है। शिवम रॉय प्रभाकर का यह एल्बम सांग 27 मई को ज़ी म्यूजिक कंपनी द्वारा रिलीज किया गया हैं जो कि दर्शकों द्वारा बेहद सराहा गया है, जोकि अब तक 85 लाख से ज्यादा लोगों द्वारा देखा जा चुका है।

आगामी फिल्म के लिए अपने लुक्स पर कर रहे काम

“आगामी फिल्म”शिवम रॉय प्रभाकर अपनी आगामी फिल्म के लिए अपने लुक्स पर काम कर रहे हैं। फ़िल्म प्रोड्यूसर लक्ष्मण सिंह राजपूत का कहना है कि फ़िल्म की कास्टिंग चल रही है, और जल्द ही वह फ़िल्म की अभिनेत्री का नाम भी बता देंगे जो कि बेहद फेमस नाम होगा। साथ ही फ़िल्म का निर्देशन डायरेक्टर सागर जोशी करेंगे जो कि डायरेक्टर राजकुमार हिरानी जैसे दिग्गज निर्देशकों को असिस्ट कर चुके हैं। इसके साथ ही बता दें कि फ़िल्म के लाइन प्रोड्यूसर विनय आदित्य रॉय का कहना है कि वह फ़िल्म में अभिनेता पंकज त्रिपाठी, संजय मिश्रा जैसे दिग्गज अभिनेताओं को कास्ट करने पर काम कर रहे हैं। देखना यह है कि शिवम रॉय प्रभाकर के एल्बम सोंग की तरह ही दर्शक उनके इस फ़िल्म को पसंद करते हैं या नही ।