The news is by your side.

चिलबिल के पेड़ की डाल से लटकता मिला महिला का शव

– घटनास्थल पर पहुंची फॉरेंसिक टीम ने की जांच पड़ताल


मिल्कीपुर। थाना इनायतनगर के चौकी क्षेत्र बारुन अंतर्गत चमनगंज बाजार स्थित एक ढाबा के पीछे जंगल में एक 45 वर्षीय महिला का शव चिलबिल की डाल से लटकता हुआ पाया गया है। नित्य क्रिया के लिए सुबह जंगल में गए ग्रामीणों ने जब महिला का लटकता हुआ शव देखा तो इसकी जानकारी आसपास के लोगों को हुई और थोड़ी ही देर में बड़ी संख्या में स्थानीय लोग घटनास्थल पर इकठ्ठा हो गए।

Advertisements

ग्रामीणों की सूचना पर दोपहर पौने बारह बजे पहुंचे थाना इनायतनगर की पुलिस ने महिला के शव को कब्जे में लेकर जांच के लिए फोरेंसिक टीम को बुलाया।दोपहर 2 बजे घटनास्थल पर पहुंची फॉरेंसिक टीम ने जांच पड़ताल किया।इसके बाद महिला के शव को डाल से उतार कर विधिक कार्यवाही करते हुए पोस्टमार्टम हेतु भिजवाया गया।मृत महिला की शिनाख्त उसकी मझली बेटी किस्मता ने किया।

जंगली पेड़ चिलबिल की लगभग 6 फीट की ऊंचाई वाली डाल से संदिग्ध परिस्थितियों में लटक रहा महिला का शव अपने आप में कई प्रश्नों को समेटे हुए दिखा और पूरा मामला आत्महत्या या हत्या के बीच में उलझा हुआ दिखा। क्योंकि साड़ी के फंदे के सहारे लटके शव के दोनों पैर घुटने के बल जमीन से सटे हुए दिखे और लगभग 5 फीट की कद काठी की महिला द्वारा इतनी कम ऊंचाई से फांसी लगाने की थ्योरी पर लोगों को यकीन नहीं हो रहा है।

महिला के शव से महज 2 मीटर की दूरी पर महिला का बिखरा हुआ मोबाइल जिसमें से सिम निकाला गया था,तंबाकू की पुड़िया तथा ओढ़ने वाला एक साल मिला जो अपने आप में ही कुछ और ही इशारा कर रहा था। घर से 2 किलोमीटर की दूरी पर स्थित जंगल में शव मिलने से ग्रामीणों में चर्चाओं का बाजार गर्म है। घटनास्थल पर मौजूद इनायतनगर के प्रभारी निरीक्षक संदीप कुमार सिंह ने इसे आत्महत्या का मामला बताते हुए कहाकि महिला के शरीर पर चोट का कोई निशान नहीं दिखा जिससे प्रथम दृष्टया आत्महत्या का मामला प्रतीत हो रहा है।

इसे भी पढ़े  प्रधान संघ के जिला महासचिव व कई ग्राम प्रधानों ने ग्रहण की भाजपा की सदस्यता

चार बच्चों के साथ घर में अकेले रहती थी महिला

-थाना क्षेत्र के खिहारन गांव में वनराजा बस्ती की दलित महिला सुनीता विधवा थी और अपने चार बच्चों के साथ घर पर अकेले ही रहती थी। नौ माह पहले बीमारी के कारण उसके पति लल्लन की मौत हो गई थी तथा सात बच्चों में से उसका बड़ा बेटा राजेन्द्र प्रदेश कमाने खंडवा मध्य प्रदेश गया हुआ है और दो बड़ी बेटियां रेखा और किस्मता की शादी हो गई है।

विधवा महिला अपने चार छोटे बच्चों के साथ दोना पत्तल बनाकर किसी तरह अपना और अपने परिवार का भरण पोषण कर रही थी। मृतका के पड़ोसियों तथा बेटियों ने बताया कि महिला लगभग 5 दिन से अपने घर से गायब थी।उसका इतने दिनों से घर से गायब रहना अबूझ पहेली बना हुआ है।

 

Advertisements

Comments are closed.