The news is by your side.

सरयू नदी में चलेंगी सोलर बोट, एक साथ 20 लोग हो सकेंगे सवार

-यूपी नेडा के निदेशक ने विकास कार्यों की बैठक में डीएम को दी जानकारी

अयोध्या। जिलाधिकारी नितीश कुमार ने मुख्य विकास अधिकारी श्रीमती अनिता यादव, नगर आयुक्त विशाल सिंह, निदेशक यू0पी0 नेडा अनुपम सिंह, सचिव एवं मुख्य परियोजना अधिकारी श्रीमती नीलम, अधिशाषी अभियन्ता विद्युत-प्रथम प्रदीप कुमार वर्मा, अधिशाषी अभियन्ता विद्युत-द्वितीय आदित्य कुमार, पी0ओ0 नेडा सहित अयोध्या विकास प्राधिकरण व अन्य सम्बंधित विभाग के अधिकारियों के साथ उ0प्र0 नवीन एवं नवीकरण ऊर्जा विकास अभिकरण (यूपी नेडा) द्वारा नगर निगम क्षेत्र में संचालित एवं प्रस्तावित परियोजनाओं के सम्बंध में बैठक की।

Advertisements

बैठक में जिलाधिकारी ने यूपी नेडा द्वारा लगाये जा रहे नगर निगम क्षेत्र में 500 स्ट्रीट लाइटों व ग्रामीण क्षेत्र में 139 स्ट्रीट लाइटों को लगाने का कार्य पूर्ण कर सूची उपलब्ध कराने हेतु पी0ओ0 नेडा को निर्देशित किया।
बैठक में नगर निगम क्षेत्र में यूपी नेडा द्वारा प्रथम चरण में प्रस्तावित 150 सोलर हाईमास्ट, 10 सोलर स्ट्रीट, 10 ई-रिक्शा, एक सोलर चार्जिंग स्टेशन, एक सोलर ट्री (10 किलोवाट फार ईवी चार्जिंग स्टेशन), 10 सोलर पावर ड्रिंकिंग वाटर किओस्क, एक सोलर पावर लाइटिंग सिस्टम तथा वेंडिग जोन हेतु एक सोलर प्रोजेक्ट के कार्य को कराये जाने के सम्बंध में चर्चा की गयी। इस अवसर पर जिलाधिकारी ने समस्त सोलर योजना/यूनिटों हेतु उचित स्थानों का चयन का कार्य पूर्ण कर सभी कार्यों को शीघ्र प्रारम्भ करने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि समस्त कार्यो में यथा स्ट्रीट लाइटों के पोलों, हाईमास्ट पोलों आदि में अयोध्या थीम पर आधारित हैरीटेज लुक के अनुरूप सामाग्रियों को लगाया जायें। उन्होंने सभी कार्यो में गुणवत्ता पर विशेष ध्यान देने के भी निर्देश दिये।

इसे भी पढ़े  गमगीन माहौल में सुपुर्द-ए-खाक हुए ताजिये

बैठक में निदेशक यूपी नेडा ने बताया कि शीघ्र ही सरयू में चलने हेतु दो सोलर संचालित सोलर वोट भी उपलब्ध होगा। प्रत्येक वोट में 20 लोग/पर्यटक एक साथ बैठ सकेंगे। इसी के साथ ही उन्होंने बताया कि नवीन और नवीकरणीय ऊर्जा मंत्रालय भारत सरकार तथा राज्य सरकार द्वारा आवासीय उपभोक्ताओं के लिए ग्रिड संयोजित रूफटाॅप सोलर पावर प्लांट योजना के तहत 1 किलोवाट से 3 किलोवाट क्षमता के संयंत्र पर संयंत्र लागत का 40 प्रतिशत एवं 3 किलोवाट से 10 किलोवाट क्षमता तक के संयंत्र पर 3 किलोवाट क्षमता तक की लागत का 40 प्रतिशत तथा 3 किलोवाट से ऊपरी की क्षमता की लागत का 20 प्रतिशत जोड़कर उक्त के बराबर केन्द्रीय अनुदान अनुमन्य है।

उक्त के अतिरिक्त राज्य सरकार द्वारा सोलर रूफटाॅप के घरेलू उपभोक्ताओं को प्रति किलोवाट 15 हजार अधिकतम रू0 30 हजार के अनुदान का प्राविधान है, जिसका लाभ इच्छुक नागरिक प्राप्त कर सकते है तथा लाभार्थी यूपी नेडा के आनलाइन पोर्टल www.upnedasolarrooftopportal.com पर आवेदन कर सकते है। जिलाधिकारी इस हेतु यूपी नेडा को सम्बंधित विभाग के साथ समन्वय कर लोगों को सोलर रूफटाॅप लगवाने के लिए प्रेरित करने हेतु अभियान चलाने के निर्देश दिये। उन्होंने अयोध्या शहरवासियों से अपील की है कि शहरवासी अपने घरों पर, आवासीय सोसाइटी में सोलर रूफटाॅप लगवायें और अपनी बिजली खुद पैदा करें और अयोध्या के अक्षय ऊर्जा शहर बनाने में सहयोग करें।

Advertisements

Comments are closed.