The news is by your side.

53वीं पुण्यतिथि पर सावरकर को अर्पित की पुष्पांजलि

अयोध्या। भारतीय स्वतंत्रता संग्राम के महान क्रांतिकारी वीर विनायक दामोदर सावरकर की 53 वीं पुण्यतिथि पर हिंदू महासभा की ओर से पुष्पराज चौराहा स्थित उनकी प्रतिमा पर पुष्पांजलि अर्पित कर उन्हें भावभीनी श्रद्धांजलि प्रदान की गई इस अवसर पर हिंदू महासभा के राष्ट्रीय प्रवक्ता अधिवक्ता मनीष पान्डेय ने कहा कि सावरकर ना सिर्फ उच्च कोटि के विचारक थे अपितु एक दूरद्रष्टा व्यक्ति भी थे 10 मई 1957 को स्वतंत्रता संग्राम के शताब्दी वर्ष पर उनका दिया हुआ वक्तव्य आज भी प्रासंगिक है जिसमें उन्होंने कहा था कि आज हमें बुद्ध की आत्मघाती नीति नहीं बल्कि युद्ध की विजय प्रदायिनी वीर नीति को अपनाना होगा सावरकर का कथन वर्तमान समय में पूरी तरह सटीक बैठता है श्री पान्डेय ने आगे कहा कि वर्तमान समय में जिस तरह पाकिस्तान अपने आतंकियों की मदद से भारत के साथ छद्म युद्ध कर रहा है ऐसे समय में उसे गीता रूपी शास्त्र का ज्ञान नहीं बल्कि शस्त्र की भाषा में ही जवाब देना ज्यादा उचित होगा सावरकर के विचारों सिद्धांतों के प्रति हमारी यही सच्ची श्रद्धांजलि होगी उपस्थित अन्य हिंदू महासभायों ने सावरकर को भारत रत्न दिए जाने की मांग करने के साथ-साथ उनके चित्र भारतीय मुद्रा पर अंकित करने की मांग केंद्र सरकार से की पुष्पांजलि कार्यक्रम में प्रमुख रूप से हिंदू महासभा के जिला उपाध्यक्ष प्रवीण सनाढ्य मीडिया प्रभारी हीरामणि पांडे जिला उपाध्यक्ष पंडित रविंद्र कुमार तिवारी जिला महामंत्री चंद्रहास दीक्षित पंकज रवि आदि प्रमुख रूप से उपस्थित रहे।

Advertisements
Advertisements
इसे भी पढ़े  सिपाही ने महिला आरक्षी के साथ की छेड़खानी, मुकदमा दर्ज

Comments are closed.