सपाईयों ने जलाया राज्यपाल का पुतला

    Advertisement

    फैजाबाद। उ0प्र0 के राज्यपाल के रवैये को लेकर समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं में भारी आक्रोश है। कार्यकर्ताओं ने उ0प्र0 के राज्यपाल राम नाईक का पुतला फूँककर आक्रोश व्यक्त किया। समाजवादी पार्टी के पूर्व प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य इन्द्रपाल यादव की अगुवाई में राज्यपाल का पुतला गोशाईगंज विधान सभा के बनकटवा चैराहे पर फँूका गया। पुतला फूँकने के बाद एक सभा का आयोजन किया गया जिसमें पूर्व प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य इन्द्रपाल यादव ने कहा कि राज्यपाल एक संवैधानिक पद पर है उनको यह शोभा नहीं देता है कि वह आरएसएस व भाजपा के एजेन्ट के रूप में काम करें। श्री यादव ने कहा कि समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष व प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने सुप्रीम कोर्ट के आदेशानुसार निर्धारित तारीख पर अपना सरकारी आवास खाली करके राज्य सम्पत्ति विभाग को चाभियाँ सौंप दी। लेकिन प्रदेश की योगी सरकार ने आवास खाली होने के बाद एक षड़यंत्र रचकर समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष को बदनाम करने की नियत से मीडिया के सामने सरकारी बंगले को खोलकर दिखाया गया, जो कि यह कृत्य सरकार को शोभा नहीं देता। उन्होंने कहा कि सरकारी बंगले में किसी प्रकार की कोई तोड़-फोड़ नहीं की गयी है। पुतला फूंकने वालों में पिछड़ा वर्ग के जिलाध्यक्ष त्रिभुवन प्रजापति, उपाध्यक्ष विजय बहादुर वर्मा, जगन्नाथ पाल, शिवकुमार पाल, राम दुलार निषाद, सुरेन्द्र निषाद, रमेश निषाद, राम सुरेश निषाद, शिव प्रसाद यादव, मनीराम प्रजापति, छेदी यादव, वासुदेव, जोखू निषाद, रामजी, श्याम लाल, जियाराम, चन्द्रजीत यादव आदि मौजूद थे।

    इसे भी पढ़े  पूर्णकालिक सीएमएस नियुक्त हुए डा. रविंद्र कुमार श्रीवास्तव