नैक मूल्यांकन को लेकर पीआरटी सदस्यों ने विश्वविद्यालय का किया भ्रमण

Advertisement

मिल्कीपुर। आचार्य नरेंद्र देव कृषि एवं प्रौद्योगिक विश्वविद्यालय कुमारगंज अयोध्या के नैक मूल्यांकन के लिए भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद नई दिल्ली से नामित पी आर टी के सदस्यों ने अपने निरीक्षण के दौरान कृषि महाविद्यालय के सभी विभागों का अवलोकन किया। विभागों में प्रयोगशालाओं में मौजूद यंत्रों की संचालन के तरीके उनके उपयोग आदि के बारे में मौजूद वैज्ञानिकों से बारीकी से जानकारी हासिल की। इस दौरान महाविद्यालय के अधिष्ठाता डॉ वी एन राय पी आर टी को महाविद्यालय के विभागों की कार्यशैली पाठ्यक्रम तथा संकाय सदस्यों की विस्ततित जानकारी उपलब्ध कराई। मंगलवासर की देर शाम तक कृषि महाविद्यालय का निरीक्षण पी आर टी द्वारा किया जाता रहा। दल के सदस्यों ने कुलपति डॉ बिजेंद्र सिंह के साथ प्रक्षेत्र अवलोकन के क्रम में उद्यान एव वानिकी महाविद्यालय के शैक्षणिक प्रक्षेत्र का भृमण किया इस दौरान प्रक्षेत्र पर बेल के वृक्ष पर लगे बेल के फलों को दल के सदस्य मोबाइल कैमरे में कैद करने से खुद को न रोक सके। सदस्यों ने सस्य विज्ञान विभाग के प्रछेत्र पर लगे प्रयोगों का भी बारीकी से अवलोकन किया,इस दौरान अधिष्ठाता परास्नातक डॉ एन बी सिंह व सहयोगी वैज्ञानिकों ने विभिन्न फसलों के प्रयोगों व कृषि मॉडल की जानकारी सदस्यों के समक्ष प्रस्तुत की। बुधवार को पी आर टी ने पशुचिकित्सा एव पशुपालन महाविद्यालय का निरीक्षण किया जहां पर अधिष्ठाता डॉ हरनाम सिंह ने महाविद्यालय शैक्षणिक व शोध गतिविधियों की रिपोर्ट समिति के समक्ष प्रस्तुत की। विगत 2 वर्षों पूर्व नैक मूल्यांकन के समय से इस बार विश्वविद्यालय ने इसके लिए अपने को बेहतर ढंग से तैयार किया है। पिछले कुछ महीनों में कुलपति डॉ बिजेंद्र सिंह ने नैक मूल्यांकन में सफलता हासिल करने के लिए भरपूर प्रयास स्वयं किया है साथ ही विश्वविद्यालय के विभागों व महाविद्यालयों को अपने किये गए कार्यों के साथ ही किये जा रहे कार्यों को प्रस्तुत करने के लिए प्रेरित भी किया है जिसके परिणाम सकारात्मक रूप से सामने दिख रहे हैं।