अश्लील वीडियो वायरल होते ही शुरू हुआ हंगामा, थाना पुलिस के फूले हाथ-पांव

    Advertisement

     

    आरोपी दोनों युवक गिरफ्तार, पीएसी सहित भारी संख्या में पुलिसबल तैनात

    हिन्दू युवा वाहिनी व बजरंगदल ने धरना दे किया हंगामा

    मामला न्यू कैलवरी आइडियल स्कूल धोबना चौराहा हैदरगंज का

    फैजाबाद। न्यू कैलवरी आइडियल स्कूल धोबना चैराहा हैदरगंज परिसर में स्कूल की वैन के अन्दर कक्षा 7 की छात्रा के साथ बनाया गया वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद धर्म विशेष के लोगों ने हंगामा करना शुरू कर दिया। जनता के उबाल से थाना हैदरगंज पुलिस के हाथ पांव फूल गये और उन्होंने इसकी जानकारी तत्काल उच्चाधिकारियों को दिया। आनन फानन में पीएसी, बज्र वाहन, यातायात पुलिस, फायर ब्रिगेड के अलावां  साथ थानांे की पुलिस मौके पर तैनात कर दी गयी। स्कूल प्रबंधिका शबनम ने मुख्य द्वार पर ताला जड़कर फरार हो गयीं।

    सोशल मीडिया पर अश्लील वीडियो शुक्रवार संध्याकाल वायरल हुआ। वीडियो वायरल होते ही हिन्दू युवा वाहिनी व बजरंगदल के अलावां क्षेत्र के हजारों लोग स्कूल के सामने एकत्र हो गये और प्रदर्शन करने लगे। हिंसक प्रदर्शन की सम्भावना से घबराई पुलिस ने मौके पर तत्काल पीएसी, बज्र वाहन, फायर ब्रिगेड, यातायात पुलिस के अलावां तारून, महाराजगंज, बीकापुर, गोसाईगंज, खण्डासा, पूराकलन्दर व इनायतनगर थानों से पुलिसबल स्थिति से निपटने के लिए भेज दिया। सूचना पाकर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सुभाष सिंह बघेल, सीओ बीकापुर रूचि गुप्ता, पुलिस अधीक्षक ग्रामीण संजय कुमार तथा चारो सर्किल के सीओ मौके पर पहुंच गये और आन्दोलन कर रहे हिन्दू युवा वाहिनी व बजरंगदल के नेताओं से बातचीत शुरू किया।

    गोसाईगंज थाना के एसएसआई लोकेन्द्र की तहरीर पर पुलिस ने मु.अ.स. 44/18 आईपीसी की धारा 354, 67 ख, आईटी एक्ट, 153, व 7/8 पाक्सो एक्ट के तहत पूराकलन्दर निवासी मेराज अहमद व सिराज अहमद पुत्रगण रियाज अहमद के विरूद्ध मुकदमा कायम कर उनकी सरगर्मी से तलाश शुरू कर दिया। शनिवार को प्रातः लगभग 6 बजे ग्राम मलावन से आरोपी मेराज अहमद व सिराज अहमद को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया।

    इसे भी पढ़े  पुलिस मुठभेड़ में शातिर इनामिया अपराधी गिरफ्तार

    थाना प्रभारी रामचन्द्र सरोज ने बताया कि वायरल वीडियो को पुलिस ने संज्ञान मे लेकर विद्यालय की प्रबंधिका शबनम व उनके देवर मेराज व सिराज अहमद निवासी भगवाभीट थाना पूराकलन्दर के विरूद्ध मुकदमा कायम किया है। दोनों गिरफ्तार कर लिये गये हैं तथा उनके विरूद्ध कड़ी कार्यवाही की जा रही है। उन्होंने बताया कि चूंकि यह मामला कक्षा सात की छात्रा व उसके सम्मान का है इसलिए उसके नाम व उसके पिता के नाम को उजागर नहीं किया जा रहा है।

    वायरल वीडियो जिसमें स्कूल वैन यूपी 53 सीटी 4258 के अन्दर का दृश्य दिखाया गया है। वीडियो में स्पष्ट देखा जा सकता है कि छात्रा व स्कूल प्रबंधिका का देवर मेराज अश्लील हरकतें कर रहे हैं। फिलहाल एसपीआरए संजय कुमार का कहना है कि स्कूल के सम्बन्ध में सम्बन्धित विभाग के अधिकारियों को आवश्यक कार्यवाही के लिए लिखित रूप से सूचना दी जा रही है विद्यालय पर क्या कार्यवाही होगी यह सम्बन्धित अधिकारी ही बता पायेेंगे। दूसरी ओर स्थानीय जनता का कहना है कि हैदरगंज धोबना चैराहा पर करीब 6-7 साल से प्रबंधिका शबनम बिना किसी मान्यता के स्कूल चला रही हैं। इस स्कूल में बेलगरा, तकमीनगंज, तारून, भीटी सहित आसपास के छात्र-छात्राएं पढ़ने के लिए आते हैं। कुछ छात्राओं को स्कूल की वैन से लाया जाता है जिसमें उक्त कक्षा सात की छात्रा भी शामिल है। चूंकि यह मामला दो धर्मों का है इसलिए दंगे की प्रबल सम्भावना को देखते हुए पुलिस ने अपनी पूरी ताकत झोंक दिया है।

    तारून संवाददाता के अनुसार न्यू कैलेवरी आइडिल विद्यालय हैदरगंज को आखिरकार शिक्षा विभाग ने सीज कर दिया। घटना के बाद से पुलिस का पहरा विद्यालय पर बैठ गया। जिलाधिकारी के निर्देश पर जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी अमिता सिंह ने हैदरगंज पहुॅंचकर विद्यालय को सीज कर कई पहलुओं पर जाॅच पड़ताल करने की बात कही है।