in

शहीदों के सपनों का भारत बनाने के लिए करना होगा संघर्ष: सम्पूर्णानन्द बागी

भाकपा ने शहीद दिवस पर अर्पित की श्रद्धांजलि

अयोध्या। अमर शहीदों के सपनों का भारत बनाने के लिए मेहनतकश इंसानों विद्यार्थी, नौजवानों ,महिलाओं, शिक्षकों, कर्मचारियों को संघर्ष करना होगा। बिना व्यवस्था आमूलचूल परिवर्तन लाये वास्तविक आजादी देशवासियों को रोक लगा देती है और सरकारें अपने खिलाफ बोलने वालों को देशद्रोही राष्ट्र करार देती है, हमें वास्तविक तथा सांप्रदायिकता व जातिवाद से आजादी पाने के लिए लाल झण्डे केा लेकर वामदलों की सरकार केन्द्र व राज्य दोनों में गठित कराने की आवश्यकता है, इसके लिए सभी लोगों को संगठित होकर लड़ना पड़ेगा। उक्त उद्गार व्यक्त किया भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के जिला सहायक सचिव कामरेड सम्पूर्णानन्द बागी ने नयाघाट स्थित वंशीधर धर्मशाला में आयोजित शहीद दिवस के अवसर पर कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुये श्री बागी ने कहा कि हमें शहीदों के सपनों का भारत बनाना है तो उनके सिद्धान्तों पर चलना पड़ेगा। कार्यक्रम की अध्यक्षता भारतीय महिला फेडरेशन की जिला उपाध्यक्ष का0 यशोदा सिंह ने की जबकि संचालन अखिल भारतीय नौजवान सभा के पूर्व जिलाध्यक्ष बृजेन्द्र श्रीवास्तव ने किया।
इस अवसर पर आशुतोषानन्द त्रिपाठी, का0 ओंकारनाथ पाण्डेय, का0 रेशमा, का0 पवित्र साहनी, का0 विरन्चनशाह शाह, सुभाष पटवा, का0 ईशान व्यक्त किये तथा शहीदों को पुष्पांजलि अर्पित की । इस कार्यक्रम में लोगों ने अमर शहीद भगत सिंह, सुखदेव और राजगुरू के जीवनचरित्र पर प्रकाश डालते हुये कहा कि हमें समाज को मजबूत करते हुए वास्तविक आजादी पाने के लिए संघर्ष करना जरूरी है। कार्यक्रम का समापन एआईएसएफ के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष का0 ओंकारनाथ पाण्डेय ने किया। इस अवसर पर उन्हेांने विद्यार्थियों नौजवानों का आवाहन किया कि अपने अधिकारोें की रक्षा व देश और समाज की कुरीतियों को नष्ट करने के लिए सरकार के गलत नीतियों का विरोध करते हुये मजबूती से सड़क पर उतरना आवश्यक है तभी अमर शहीदों के सपनों का भारत बन सकेगा।

What do you think?

Written by Next Khabar Team

वांछित आरोपी गिरफ्तार

आईपीएल पर सट्टा लगाते चार गिरफ्तार