The news is by your side.

अधिशाषी अधिकारी से तंग हो सांसद को सौंपा ज्ञापन

कहा- छावनी परिषद के मुख्य अधिशाषी अधिकारी अभिवन सिंह नहीं होने दे रहे दाखिल-खारिज

अयोध्या। सविता समाज कल्याण समिति के पदाधिकारी व सदस्यों के रामनाथ शर्मा ने छावनी परिषद के मुख्य अधिशाषी अधिकारी अभिवन सिंह की कार्यशैली से परेशान होकर प्रधानमंत्री को सम्बोधित एक ज्ञापन सांसद लल्लू सिंह को सौंपा। विदित हो कि रामनाथ शर्मा के पिता स्व. काली प्रसाद ने 27 जनवरी 2017 को दाखिल खारिज कराने हुए एक प्रार्थना पत्र मुख्य अधिशीषी अधिकारी को दिया था जिसको कराने के लिए लगभग दो वर्षों से छावनी परिषद का चक्कर लगा रहा है लेकिन कोई कार्यवाही न मिलने से इन्कार कर रहे है। रामनाथ शर्मा के पिता काली प्रसाद व उनके भतीजे मुंशीराम के बींच मुकदमा विचाराधीन था जिसका निस्तारण 18 दिसम्बर 2016 को सुलहनामा के आधार पर हो गया लेकिन विपक्षी मुंशीराम की पत्नी तारादेवी उक्त अधिकारी के बंगले पर आया का काम करती है। अधिकारी के निर्देशन पर दाखिल-खारिज रोकने हेतु आपत्ति लगायी गयी जिसपर रामनाथ शर्मा एडवोकेट ने जबाब लगाया। इसपर अधिकारी नहीं मानो तो छावनी परिषद के कानूनी सलाहकार राजकुमार खत्री व दीपक सेंठ से कानूनी राय मांग। कानूनी राय शर्मा के पक्ष में आयी उसके बावजूद विपक्षी तारादेवी पत्नी मुंशीराम के दबाव के चलते दाखिल खारिज करने को तैयार नहीं है। अधिशाषी अधिकारी के उत्पीड़न से तंग रामनाथ शर्मा के पिता हार्ट अटैक के शिकार हो गये तथा वह भी प्रताड़ित हो रहे है। ज्ञापन देने वालों में माता प्रसाद सेन, प्रहलाद सेन, सतीश ठाकुर, रमाकान्त, राजाराम, शिवकुमार आदि लोग शामिल रहे।

Advertisements
Advertisements

Comments are closed.