The news is by your side.

M.A Final Year के कई विषयों के परीक्षाफल घोषित

संस्कृत, हिन्दी, उर्दू, अंग्रेजी, दर्शन शास्त्र, मनोविज्ञान, प्राचीन इतिहास, राजनीति शास्त्र, अर्थशास्त्र, गणित, सैन्य विज्ञान, शिक्षा शास्त्र, मध्यकालीन इतिहास, संगीत, गृह विज्ञान, चित्रकला, समाज शास्त्र तथा भूगोल विषय

अयोध्या। डॉ0 राममनोहर लोहिया अवध विश्वविद्यालय प्रशासन ने विश्वविद्यालय से सम्बद्ध महाविद्यालयों की एम०ए० अंतिम वर्ष 2021 के कई विषयों का परीक्षा परिणाम घोषित कर दिया है। इसमें संस्कृत, हिन्दी, उर्दू, अंग्रेजी, दर्शन शास्त्र, मनोविज्ञान, प्राचीन इतिहास, राजनीति शास्त्र, अर्थशास्त्र, गणित, सैन्य विज्ञान, शिक्षा शास्त्र, मध्यकालीन इतिहास, संगीत, गृह विज्ञान, चित्रकला, समाज शास्त्र तथा भूगोल विषय शामिल है। विश्वविद्यालय के परीक्षा नियंत्रक उमानाथ ने बताया कि कुलपति प्रो0 रविशंकर सिंह के निर्देश पर एम०ए० अंतिम वर्ष के कई विषयों का परीक्षाफल जारी कर दिया गया है। जिसमें संस्कृत विषय में कुल शामिल छात्रों में 1186 के सापेक्ष उत्तीर्ण छात्रों की संख्या 1100 रहा। इनका छात्रों का उत्तीर्ण प्रतिशत 92.75 रहा है। हिन्दी में कुल शामिल छात्रों की संख्या 3316 में से उत्तीर्ण छात्रों की संख्या 3093 रहा। उत्तीर्ण प्रतिशत 93.28 रहा है।

Advertisements

एमए अंतिम वर्ष उर्दू विषय में कुल 500 छात्रों के सापेक्ष 480 उत्तीर्ण रहे। इनका उत्तीर्ण प्रतिशत 96.00 रहा है। अंग्रेजी में कुल छात्रों की संख्या 1095 में से उत्तीण छात्रों की संख्या 973 रहा है। उत्तीर्ण छात्रों का प्रतिशत 88.86 रहा है। दर्शन शास्त्र में कुल छात्रों की संख्या 08 रहा है। इनमें उत्तीर्ण छात्रों की संख्या 08 रहा है। इनका उत्तीर्ण प्रतिशत 100.00 रहा है। मनोविज्ञान में कुल छात्रों की संख्या 170 रहा है इसमें उत्तीर्ण छात्रों की संख्या 169 रहा है। इनका उत्तीर्ण प्रतिशत 99.41 रहा। प्राचीन इतिहास में 635 के सापेक्ष उत्तीर्ण छात्रों की संख्या 595 रहा है। उत्तीर्ण प्रतिशत 93.70 रहा है।

इसे भी पढ़े  साकेत महाविद्यालय के प्राध्यापकों ने अवध विवि की परीक्षाओं का किया बहिष्कार

राजनीति शास्त्र में शामिल कुल छात्रों की संख्या 1165 रहा है इसमें उत्तीर्ण छात्रों की संख्या 1027 रहा। इसमें उत्तीर्ण प्रतिशत 88.15 रहा है। अर्थशास्त्र विषय में कुल शामिल छात्रों की संख्या 420 रहा है। इसमें उत्तीर्ण छात्रों की संख्या 386 रहा। इनका उत्तीर्ण प्रतिशत 91.90 रहा। गणित विषय में कुल छात्रों की संख्या 18 रहा है। उत्तीर्ण छात्रों की संख्या 15 है। इनका उत्तीर्ण प्रतिशत 83.33 रहा।
इसी क्रम में सैन्य विज्ञान विषय में शामिल कुल छात्रों की संख्या 71 रहा है। इसमें उत्तीर्ण छात्रों की संख्या 69 रहा है। उत्तीर्ण प्रतिशत 97.18 रहा। शिक्षा शास्त्र में शामिल कुल छात्रों की संख्या 2508 रहा। इसमें उत्तीर्ण छात्रों की संख्या 2335 है। इनका उत्तीर्ण प्रतिशत 93.10 रहा है। मध्य कालीन इतिहास में शामिल कुल छात्रों की संख्या 323 है। इसमें उत्तीर्ण छात्रों की संख्या 290 रहा है। इनका उत्तीर्ण प्रतिशत 89.78 रहा। संगीत विषय में शामिल कुल छात्रों की संख्या 03 रहा।

इसमें उत्तीर्ण छात्रों की संख्या 03 रहा। इनका उत्तीर्ण प्रतिशत 100.00 है। गृह विज्ञान कुल छात्रों की संख्या 3359 के सापेक्ष उत्तीर्ण छात्रों की संख्या 3217 रहा। इनका उत्तीर्ण प्रतिशत 95.77 रहा है। चित्रकला में कुल छात्रों की संख्या 66 में से उत्तीर्ण छात्रों की संख्या 65 रहा है। उत्तीर्ण प्रतिशत 98.48 रहा। समाज शास्त्र में शामिल कुल छात्रों की संख्या 3977 रहा। इसमें उत्तीर्ण छात्रों की संख्या 3647 है। उत्तीर्ण प्रतिशत 91.70 रहा। भूगोल विषय में शामिल कुल छात्रों की संख्या 1573 रहा। इसमें उत्तीर्ण छात्रों की संख्या 1512 है। इसमें उत्तीर्ण प्रतिशत 96.12 रहा है। परीक्षा नियंत्रक ने बताया उक्त विषयों के परीक्षा परिणाम विश्वविद्यालय की वेबसाइट पर उपलब्ध है।

इसे भी पढ़े  कुर्बान शाह बाबा के उर्स में कव्वालों ने बांधा समां 

परास्नातक की छूटी हुई मौखिकी परीक्षा 5 व 6 अक्टूबर को

अयोध्या। डॉ0 राममनोहर लोहिया अवध विश्वविद्यालय प्रशासन ने वर्ष 2021 की परास्नातक अंतिम वर्ष की छूटी हुई मौखिकी परीक्षाएं संपन्न कराने के लिए तिथि घोषित कर दी है। यह मौखिकी परीक्षा 5 व 6 अक्टूबर को प्रातः 11ः00 बजे से का0सु0 साकेत पीजी कॉलेज, अयोध्या में संपन्न होगी।

विश्वविद्यालय के परीक्षा नियंत्रक उमानाथ ने बताया कि 5 अक्टूबर को हिंदी, संस्कृत, शिक्षा शास्त्र, गणित, अर्थशास्त्र, समाजशास्त्र एवं 6 अक्टूबर को अंग्रेजी, उर्दू, राजनीति शास्त्र, दर्शन शास्त्र, प्राचीन इतिहास, मध्यकालीन इतिहास एवं एमकॉम की छूटी हुई मौखिकी परीक्षा साकेत पीजी कॉलेज में निर्धारित समय पर होगी। परीक्षा नियंत्रक ने बताया कि परीक्षार्थियों को परीक्षा कार्यक्रमानुसार निर्धारित परीक्षा केंद्र पर उपस्थित होना होगा।

मौखिकी परीक्षा में अनुपस्थित होने की दशा में पुनः परीक्षा संपन्न नहीं कराई जाएगी। मौखिकी परीक्षा में उन्हीं छात्रों को शामिल होने की अनुमति दी जाएगी जिनका महाविद्यालय के प्राचार्य द्वारा अग्रसारित आवेदन-पत्र विश्वविद्यालय में विगत वर्षों में निर्धारित शुल्क विश्वविद्यालय खाते में ऑनलाइन जमा कर फीस रसीद 4 अक्टूबर तक प्राप्त कर लिया हो।

Advertisements

Comments are closed.