पुलिस महानिरीक्षक ने की अपराधों की समीक्षा

Advertisement

अयोध्या। पुलिस महानिरीक्षक डा. संजीव गुप्ता द्वारा परिक्षेत्र के जनपदों के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक व पुलिस अधीक्षकों की गोष्ठी आयोजित की गयी। गोष्ठी में एसएसपी आशीष तिवारी, एसपी बाराबंकी अरविन्द कुमार चतुर्वेदी, एसपी सुल्तानुपर शिव हरि मीणा व एसपी अमेठी डा. ख्याति गर्ग ने प्रतिभाग किया। गोष्ठी में महिलाओं के साथ घटित होने वाले अपराधों पर प्रभावी अंकुश लगाने के निर्देश दिये गये तथा महिलाओं से सम्बन्धित अपराधों की समीक्षा में यह भी निदे र्श दिये गये कि इन अपराधों में त्वरित कार्यवाही करते हुए अभियुक्तों को कठोर दण्ड दिलाने हेतु प्रभावी पैरवी सुनिश्चित करें। लूट एंव छिनैती की घटनाओं को पेट्रोंलिंग कर के रोकना सुनिश्चित किया जाये। शेष वांछित अभियुक्तों की शीघ्र गिरफ्तारी एवं जनपदों में पंजीकृत गैंग, पुरस्कार घोषित अपराधियों, माफियाओं, मादक पदार्थ, पशुक्रूरता एवं गोकसी के तस्करों के विरूद्ध प्रभावी कार्यवाही किये जाने व बढते हुये अपराधों को रोकने के लिये जनपद के पुलिस अधीक्षकों को निदे र्श दिये गये। समीक्षा मे निम्न निदे र्श दिये गये कि प्रत्येक अधिकारी प्रतिदिन निर्धारित समय से जनता की समस्याओं को सुनकर उनका निराकरण प्राथमिकता के आधार पर स्वयं करते हुये अधीनस्थों से भी कराना सुनिश्चित करें। महिलाओं के साथ होने वाले अपराधों पर प्रभावी अंकुश लगायें। सीसीटीएनएस पर पंजीकृत एफ0आई0आर0, लम्बित विवेचना, वांछित अभियुक्त, गैंगेस्टर के विवेचनाधीन अभियोग व वांछित अपराधी/एप्स की समीक्षा, आगामी 02 माह में पड़ने वाले त्यौहारों/मेलां के सकुशल सम्पन्न कराये जाने हेतु आवश्यक दिशा-निर्देश दिये गये।, अनावरण हेतु शेष अपराधों-हत्या/डकैती/लूट के सफल अनावरण हेतु स्वयं के पर्यवेक्षण में क्षेत्राधिकारी के नेतृत्व में टीम गठित कर अनावरण कराया जाये। पुरस्कार घोषित अपराधियों की गिरफ्तारी हेतु सम्बन्धित क्षेत्राधिकारी/थाना प्रभारी की टीम गठित कर कार्यवाही करायी जाये। अपर पुलिस महानिदेशक, लखनऊ जोन, लखनऊ द्वारा चलाये जा रहे एण्टी रोमियो व अन्य अभियानों की समीक्षा की गयी।, लम्बित एसआर पत्रावलियों की समीक्षा-एच0सी0एम0एस0 साफ्टवेयर के अन्तर्गत विशेष अपराधों की फींडिंग तथा आरोप पत्र एवं अन्तिम रिपोर्ट अद्यावधिक कराये जाने सम्बन्धी आवश्यक दिशा निर्देश दिये गये। जनपद स्तर पर चिन्हित टॉप-10 अपराधियों के विरूद्ध की गयी कार्यवाही की समीक्षा की गयी तथा पुलिस महानिदेशक, उ0प्र0 द्वारा निर्गत निर्देशों के क्रम में बीट प्रणाली के प्रभावी क्रियान्वयन के संबंध में आवश्यक दिशा-निर्देश दिये गये।