The news is by your side.

कार्यशाला में किसानों को बागवानी की दी गयी जानकारी

-बागवानी फसलों के प्रोत्साहन के लिए आयोजित हुई कार्यशाला

अयोध्या। डीएम अनुज कुमार झा की अध्यक्षता में बुधवार को गॉधी सभागार में राज्य औद्योनिक सहकारी विपणन संघ (हॉफेड) एवं उद्यान एवं खाद्य प्रसंस्करण विभाग द्वारा एकीकृत बागवानी विकास मिशन योजना के तहत जागरूकता को कार्यशाला का आयोजन किया गया।

Advertisements

प्रगतिशील किसानों को स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया गया। इस अवसर पर जिलाधिकारी ने कहा कि मुख्यमंत्री की ओर से कृषकों की आय वृद्वि के लिए अनेको योजनाओं से किसानों को लाभान्वित किया जा रहा है। फिर चाहे वह ऋण माफी का माध्यम हो, किसान सम्मान निधि योजना, किसान क्रेडिट कार्ड योजना आदि जबकि पहले उनकी मेहनत का पूरा लाभ नहीं मिल पाता था। विचैलियें ज्यादातर मुनाफा कमाते थे।

\अब डीबीटी के माध्यम से सीधा सब्सिडी का लाभ किसानों को उनके खाते में जा रहा। कहा कि कार्यशाला का मुख्य उद्देश्य पारम्परित खेती के साथ साथ अलग-अलग प्रकार की खेती जैसे फल, फूल, सब्जी आदि को प्रोत्साहित कर उसका उत्पादन एवं विपणन को बढ़ाना है। इससे किसान नये-नये प्रयोग करके अपनी आय में वृद्वि करते हैं। बताया कि अयोध्या में अमरूद, केला, आम, टमाटर, मधुमक्खी पालन आदि के जगह-जगह क्षेत्रवार उत्पादन हो रहा है, परन्तु कार्य योजना तैयार कर बड़े क्षेत्र में विकसित किये जाने पर कार्य करना है।

जिला उद्यान अधिकारी भूषण सिंह ने बागवानी विकास योजना के अन्तर्गत एकीकृत बागवानी विकास मिशन, प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना, राष्ट्रीय कृषि विकास योजना आदि के साथ साथ खाद्य प्रसंस्करण की विस्तृत जानकारी किसानों को दी।
उपनिदेशक उद्यान गीता त्रिवेदी, पीएचडी चैम्बर के एमडी अंजनी कुमार श्रीवास्तव, मुकेश सिंह सहित अन्य विशेषज्ञों ने कार्यशाला को सम्बोधित किया। इस कार्यशाला में लगभग 200 किसानों ने प्रशिक्षण प्राप्त किया।

Advertisements

Comments are closed.