in ,

कीर्ति प्राप्त करने वाला हो जाता है अमर : सत्येंद्र दास

नरेंद्र देव कृषि एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय में हुआ आशीर्वाद समागम

कुमारगंज। नरेंद्र देव कृषि एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय कुमारगंज अयोध्या में प्रसार निदेशालय परिवार की ओर से विश्वविद्यालय के ऑडिटोरियम हॉल में आशीर्वाद समागम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि अयोध्या राम जन्मभूमि के महंत सत्येंद्र दास रहे तथा विशिष्ट अतिथि आईसीएआर नेशनल रिसर्च सेंटर लीची मुजफ्फरपुर के डायरेक्टर एवं कृषि विश्वविद्यालय कुमारगंज के पूर्व छात्र डॉ विशाल नाथ एवं कुलपति जेएस की धर्मपत्नी रही।
विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो जे एस संधू ने मुख्य अतिथि महंत सत्येंद्र दास को पुष्प गुच्छ , स्मृति चिन्ह व अंग वस्त्र भेंट कर सम्मानित किया । विश्वविद्यालय द्वारा संचालित कृषि विज्ञान केंद्रों के समन्वयकों ने सामूहिक रूप से कुलपति प्रो जे एस संधू एवं विशिष्ट अतिथि कुलपति की पत्नी व डॉ विशाल नाथ पांडेय को स्मृतिचिन्ह व अंग वस्त्र प्रदान कर सम्मानित किया। आशीर्वाद समागम में विश्वविद्यालय के वैज्ञानिकों एवं अधिकारियों ने अपने परिवार के साथ कार्यक्रम में भाग लिया।
समागम समारोह में मुख्य अतिथि महंत सत्येंद्र दास जी ने कहा कि जिस प्रकार भगवान श्री रामचंद्र ने कीर्ति और यस की पताका फहराई थी उसी तरह विश्वविद्यालय में कुलपति प्रो जे एस संधू ने भी अपने सकारात्मक कार्यों से कीर्तिमान स्थापित किया है। उन्होंने कहा कि जो कीर्ति प्राप्त करता है वह सदैव के लिए अमर हो जाता है । ठीक उसी तरह कुलपति प्रो संधू का नाम भी अमर रहेगा। वैज्ञानिकों एवं अधिकारियों को संबोधित करते हुए कुलपति ने कहा कि भगवान राम के चरित्र के बारे में मुझको टीवी सीरियल में देखने का सौभाग्य मिला था लेकिन आज मुझको भगवान राम की नगरी में काम करने का अवसर प्राप्त हुआ इससे बड़ा सौभाग्य और क्या हो सकता है। उन्होंने कहा कि पिछले एक वर्ष के कार्यकाल में प्रदेश शासन अथवा सरकार का कोई हस्तक्षेप न होना साथ ही विश्वविद्यालय के सभी कर्मियों के सामूहिक योगदान का परिणाम है कि विश्वविद्यालय निरन्तर विकास के पथ पर अग्रसर हो सका है। इस मौके पर निदेशक प्रसार डॉ एपी राव, प्रशासन डॉ आर के जोशी , निदेशक शोध वीएन राय, पशु चिकित्सा महाविद्यालय के अधिष्ठाता बी के सिंह, उद्यान एवं वानिकी महाविद्यालय के अधिष्ठाता डां बिक्रमा प्रसाद पाण्डेय ,विश्वविद्यालय के वित्त नियंत्रक लाल प्रताप सिंह, प्रोफ़ेसर संजय पाठक, रवि प्रकाश मौर्या, सुमन प्रसाद मौर्या, सुशांत श्रीवास्तव ,आर के दोहरे, कृषि अभियंत्रण महाविद्यालय डॉक्टर मौर्या, डॉ नमिता जोशी, डॉ साधना सिहं ,डॉक्टर राम प्रताप सिंह सहित विश्वविद्यालय के वैज्ञानिक एवं अधिकारी मौजूद रहे।

What do you think?

Written by Next Khabar Team

जनसमस्याओं को लेकर जनौस ने सौंपा ज्ञापन

रेलवे स्टेशन की सुविधाओं का सांसद ने किया निरीक्षण