The news is by your side.

जी-20 डिजिटल भारतीय अर्थव्यवस्था को प्रदान करेगा गति : प्रो. शैलेन्द्र वर्मा

-अवध विवि में जी-20 डिजिटल अर्थव्यवस्था एवं विकास के साथ जुड़ाव विषय पर व्याख्यान का आयोजन

अयोध्या। डॉ. राममनोहर लोहिया अवध विश्वविद्यालय के व्यवसाय प्रबंध एवं उद्यमिता विभाग में बुधवार को जी-20 डिजिटल अर्थव्यवस्था एवं विकास के साथ जुड़ाव विषय पर एक व्याख्यान का आयोजन किया गया। छात्रों को संबोधित करते हुए विश्वविद्याल जी-20 कोर कमेटी के प्रभारी प्रो0 शैलेन्द्र वर्मा ने बताया कि भारतीय अर्थव्यवस्था को डिजिटल के माध्यम से बदला जा रहा है।

Advertisements

जो नए भारत के विकास इंजन के रूप में है। समाज के प्रत्येक नागरिक आईटी का लाभ उठाकर भारत को सशक्त बनाने के साथ डिजिटल अर्थव्यवस्था मजबूती प्रदान कर सकते है। उन्होंने बताया कि डिजिटल इंडिया में सरकारी सेवाएं समाज के प्रत्येक व्यक्ति तक इलेक्ट्रानिक रूप से उपलब्ध हो रही है। इसके अनुप्रयोगों से सार्वजनिक जवाबदेही भी बन रही है। भारत के जी-20 की अध्यक्षता से डिजिटल अर्थव्यवस्था को गति मिलेगी। कार्यक्रम में सरदार पटेल अध्ययन केन्द्र के अंकित मिश्रा ने बताया कि जी-20 में भारत की अध्यक्षता को लेकर वैश्विक मंच पर अर्थव्यवस्था को सुदृढ करने में मदद मिलेगी।

इसके साथ ही भारत के अन्य मुद्दों को वैश्विक मंच पर पहचान मिलेगी। यह भारत के लिए मिल का पत्थर साबित होगा। कार्यक्रम में अध्ययन केन्द्र के डॉ0 शैलेन वर्मा ने छात्रों को बताया कि जी-20 में भारतीय सांस्कृतिक विरासत वैश्विक स्तर पर समृद्ध होगी। डॉ0 शिवांश कुमार ने बताया कि जी-20 से भारत समृद्ध राष्ट्रों के समक्ष खड़ा होगा। कार्यक्रम को एमबीए विभाग की डॉ0 दीप सिंह ने भी संबोधित किया। कार्यक्रम का संचालन डॉ0 महेन्द्र पाल सिंह ने किया। धन्यवाद ज्ञापन डॉ0 अंशुमान पाठक द्वारा किया गया। इस अवसर पर डॉ0 राकेश कुमार, डॉ0 आनन्द बिहारी सिंह सहित बड़ी संख्या में छात्र-छात्राएं उपस्थित रहे।

Advertisements

Comments are closed.