in

पौधरोपण को लेकर हुई किसान गोष्ठी

प्रत्येक ग्राम सभा में 4000 पौधरोपण किसानों के मन मुताबिक कराया जाना है

मिल्कीपुर। 22 करोड़ बृहद पौधरोपण में जन सहभागिता ग्राम पंचायत स्तर पर माइक्रोप्लान का निरूपण को लेकर वन चेतना कुमारगंज में प्रभागीय वन अधिकारी की अगुवाई में किसान गोष्ठी की गई । गोष्ठी में सैकड़ों की संख्या में ग्राम सभाओं के किसान मौजूद रहे।
गोष्ठी में प्रभागीय वन अधिकारी अयोध्या डॉक्टर रवि कुमार सिंह ने उपस्थित किसानों को बताया कि प्रत्येक ग्राम सभा में 4000 पौधरोपण किसानों के मन मुताबिक कराया जाना है हर ग्राम सभा से मात्र 50 किसानों का चयन होगा। किसान खेतों के किनारे मेड़ों पर सागौन, यूकेलिप्टस इत्यादि पौध लगाकर अपनी आय दोगुना कर सकते हैं किसान यूकेलिप्टस सागौन को बेचकर अपने आय का अच्छा स्रोत बना सकते हैं यदि छोटे काश्तकार सात रूपए का पौधा सागौन का ही लगाते हैं तो 20 साल में वही सागौन 30 से 35 हजार रुपए में बेचा जा सकता है तथा यूकेलिप्टस को भी किसान खेतों के किनारे लगा कर 5 वर्ष में अधिक मुनाफा ले सकते हैं।
यदि किसान के घर बच्चा जन्म ले तो उसके जन्म के उपरांत सागौन का एक वृक्ष लगा दिया जाए तो 20 वर्ष की आयु होने पर वही बच्चा लगभग तीन हजार रुपये का मालिक हो सकता है। वृक्षों को लगाने के बाद किसानों द्वारा दवा देने की आवश्यकता ही नहीं पड़ती है किसान धान गेहूं सरसों से ही अपनी आय दोगुना नहीं कर पाएगा क्योंकि उसके धान व गेहूं का सही मूल्य उसके मेहनतआना के मुताबिक नहीं मिल पाता है इसके लिए किसानों को वृक्षारोपण कर अपनी आय दोगुना करने के लिए आगे आना होगा। प्रभागीय वन अधिकारी ने बताया कि प्रत्येक ग्राम सभा में वन विभाग के कर्मचारी जाकर किसानों पौधरोपण की जानकारी देते हुए पौधरोपण कराने के लिए प्रेरित करेंगे फिलहाल प्रथम वरीयता पौधरोपण में प्रगतिशील किसान, कर्ज माफी किसान को दिया जाएगा अयोध्या जनपद में 35लाख वृक्षारोपण कराया जाना है जबकि वन विभाग को 13 लाख पौधरोपण कराना है कुमारगंज वन रेंज में चार लाख पौधरोपण होना है जिसके लिए किसानों का चयन किया जा रहा है।
डीएफओ के पूछने पर किसानों ने कहा कि हम लोग छोटे छोटे काश्तकार है हम लोग अपने खेतों के किनारे सागौन व यूकेलिप्टस के पेड़ लगायेंगे इतनी बातें सुनते ही डीएफओ ने वन क्षेत्राधिकारी कुमारगंज एके श्रीवास्तव से कहा कि सबसे ज्यादा यूकेलिप्टस व सागौन के पौध नर्सरी में तैयार किए जाएं ताकि किसानों को वृक्षारोपण के समय कठिनाइयों का सामना ना करना पड़े पौध नर्सरी से 5 किलोमीटर तक के किसान लाभान्वित होंगे। इस मौके पर वन क्षेत्राधिकारी कुमारगंज एके श्रीवास्तव ,लोकेश शर्मा ,जगदंबा, अजय वर्मा ,महेश यादव, जगजीवन चौरसिया सहित वन कर्मी मौजूद रहे।

What do you think?

Written by Next Khabar Team

विज्ञान व कला प्रदर्शनी का हुआ आयोजन

पत्रकार अनिल यादव की मां ज्ञानवती देवी का निधन