समाधान दिवस में नहीं पहुचे डीएम, मायूस लौटे फरियादी

विधायक शोभा सिंह चौहान ने एसडीएम को लगाई फटकार

Advertisement

सोहावल। मंगलवार को जिलाधिकारी की अध्यक्षता में आयोजित होने वाले सम्पूर्ण समाधान दिवस में जिलाधिकारी नहीं पहुचे जिससे सैकड़ो फरियादी रजिस्ट्रेशन कराने के बाद अपनी शिकायत नहीं दर्ज कराये। मायूस होकर लौट गये।इनकी गैर मौजूदगी में जिला विकास अधिकारी हवलदार सिंह और उप-जिलाधिकारी आर पी श्रीवास्तव ने शिकायतों को सुना।यहां कुल 115 शिकायतें आयी ।जिसमें 11मामलों का मौके पर निस्तारण किया गया।
सुबह से फरियादियों की भीड़ डी एम को सुनाने के लिये तहसील मुख्यालय पर जमा रही।डेढ़ बजे जिलाधिकारी के न आने की सूचना मिली तो सैकड़ो शिकायतकर्ताओं के चेहरे मुर्झा गये। परिसर में एक एन जियो द्वारा बन विभाग के सहयोग से बृक्ष बाटने और लगवाने की योजना थी।अन्तिम समय में बीका पुर विधायक ने पहुँच कर फीता काटकर योजना का शुभारम्भ किया।मसौधा ब्लाक के गांव दोस्तपुर के कोटेदार जगतपाल के विरुद्ध कई दर्जन ग्रामीणों ने अनियमितता और अभद्रता का आरोप लगाकर शिकायत दर्ज करायी। जांच पूर्ति निरीक्षक को सौंपी गयी। ढेमवा घाट मन्दिर के महन्त शत्रुघ्न दास ने पुल से दक्षिण लो नि वि द्वारा बनायी जा रही सड़क को मानक और निर्धारित स्थल से अलग बनवाने की शिकायत की और मन्दिर में हनुमान जी की पूजा न हो पाने की बात बतायी। भा कि यू के फरीद अहमद, अनिल कुमार पाण्डेय ने शिकायत किया कि रौनाही पुलिस के कुछ कर्मचारी चंदे का धन भी बन्दर बाट कर खा गये। चैकी निर्माण का काम रुका हुआ है।दोनो मामलों को जिले के दोनो बड़े अधिकारियो को भेजने की बात कही गई।सारंगापुर बिसौली में जल भराव की शिकायत की तो मसौधा के ग्राम सभा बरवा तालाब व आबादी की जमीन पर कब्जा मोहम्द रेहान निवासी चिर्रा मुहम्मदपुर ने सम्पर्क मार्ग के गड़बड़ी की शिकायत किया।ज्यादातर मामले पात्र गृहस्थी के राशन कार्ड में गड़बड़ी, रास्ते पर अतिक्रमण और राजस्व से जुड़े सामने आये। सिरहिर निवासी राजकुमार की शिकायत थी कि उप-जिलाधिकारी सुनने के बजाय अभद्रता करते हैं। इस पर मौजूद शिकायत सुन रही बीकापुर विधायक शोभा सिंह चौहान ने उप-जिलाधिकारी को फटकारते हुए हिदायत दी।पूरे समय सुनवायी सभागार में सन्नाटा पसरा रहा।फरियादियों की भीड़ बाहर जमा रही।इस अवसर पर सम्बन्धित विभागों के कर्मचारी अधिकारी मौजूद रहे।